वसुंधरा राजे सरकार ने राज्य कर्मचारियों के DA में 3 प्रतिशत की वृद्धि की

वसुंधरा राजे सरकार इस बार दीवाली में कर्मचारियों पर मेहरवान हुई है. जिसके बाद उनके पहल पर राज्य सरकार ने कर्मचारियों के DA और पेंशनरों की महंगाई राहत दर में 3 प्रतिशत की वृद्धि की है. जानकारी के अनुसार यह महंगाई भत्ते एवं महंगाई राहत दर में यह वृद्धि 1 जुलाई, 2017 से प्रभावी होगा. इस वृद्धि से लगभग राज्य सरकार के 8 लाख कर्मचारी एवं 3.5 लाख पेंशनर्स को सीधा लाभ मिलेगा.

राज्य कर्मचारियों के DA में 3 प्रतिशत की वृद्धि

अभी वर्तमान में राज्यकर्मियों का वेतन 136 प्रतिशत महंगाई भत्ता देय है. राज्य कर्मचारियों के डीए में वृद्धि के बाद यह बढ़कर 139 प्रतिशत हो गया है. इस बड़े हुए मंहगाई भत्ते का लाभ राज्य कर्मचारियों के अतिरिक्त कार्य प्रभारित कर्मचारियों, पंचायत समिति, जिला परिषद के कर्मचारियों तथा राज्य के पेंशनरों को भी मिलेगा.
जानकारी के अनुसार जुलाई से सितम्बर माह के बढ़े हुए महंगाई भत्ते की राशि संबंधित कर्मचारियों के सामान्य प्रावधायी निधि खाते में जमा की जायेगी तथा 1 अक्टूबर, 2017 से महंगाई भत्ते का सभी को नकद भुगतान दिया जायेगा. 1 जनवरी, 2004 एवं उसके बाद नियुक्त राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनरों को बढ़े हुए महंगाई भत्ते/महंगाई राहत का भुगतान नकद देय होगा.
इस मंहगाई भत्ते में वृद्धि से राज्य सरकार पर चालू वित्तीय वर्ष में लगभग 320 करोड़ रुपये का अतिरिक्त वित्तीय भार पड़ेगा. कमर तोड़ मंहगाई में 3 प्रतिशत से कुछ फर्क नहीं पड़ेगा मगर इतनी राहत भी डूबता को तिनके का सहारा जैसा है.
Share this

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए (यहाँ Click) करें.

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

Leave a Comment

error: Content is protected !!