डियूटी से लम्बे समय गैरहाजिर 13,000 Rail Employees पर गाज गिरना तय

नई दिल्ली: रेल ने अपने लगभग 13 हजार ऐसे कर्मचारियों की पहचान कर ली है, जो कि लम्बे समय से बिना कारण बताये गैर हाजिर है. भारतीय रेल अब इन Rail Employees के खिलाफ करवाई के मूड में है. यह भी हो सकता है कि इनकी सेवा तक समाप्त की जा सकती है.

Rail Employees पर गाज गिरना तय

रेलवे के बयान में कहा गया है कि मंत्रालय ने संगठन का प्रदर्शन बेहतर करने और निष्ठावान व मेहनती रेल कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए एक अभियान शुरू किया था. यह कार्रवाई इसी अभियान का हिस्सा है.
रेलवे के अलग-अलग जोनों और विभिन्न प्रतिष्ठानों में लंबे समय से अनुपस्थित रेल कर्मचारियों की पहचान करने के लिए एक व्यापक अभियान शुरू किया गया. इस दौरान रेलवे ने अपने लगभग 13 लाख कर्मचारियों में से 13 हजार से भी अधिक ऐसे कर्मचारियों की पहचान की है जो लंबे समय से अनाधिकृत तौर पर अनुपस्थित हैं.
अब रेल विभाग इन कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त करने के लिए नियमों के तहत अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर रहा है. रेलवे ने सभी अधिकारियों और पर्यवेक्षकों को उचित प्रक्रिया पर अमल के बाद कर्मचारियों की सूची से इनका नाम हटाने का निर्देश दिया है.
Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

Leave a Comment