Home Guard की सैलरी बढ़ोतरी के साथ योगी सरकार ने दिया झटका

यूपी पुलिस के अंडर काम करने वाले Home Guard को अब सिपाही के बराबर वेतन आदि देना पड़ेगा और यह ऐसे ही नहीं बल्कि होमगार्ड्स के याचिका पर माननीय सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया हैं. मगर इसके बाद उत्तरप्रदेश की योगी सरकार इस पर होने वाले अतिरिक्त खर्च का भार कम करने के लिए 25 हजार होमगार्डों की तैनाती खत्म करने पर भी विचार कर रही है.

Home Guard की सैलरी बढ़ोतरी

अमर उजाला के खबर के अनुसार शीर्ष कोर्ट के 30 जुलाई के आदेश के अनुपालन के संबंध में 28 अगस्त को तत्कालीन मुख्य सचिव डॉ. अनूप चंद्र पांडेय की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय बैठक हुई थी. इसमें शामिल एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गृह विभाग के बजट से भुगतान के आधार पर ड्यूटी करने वाले 25 हजार होमगार्डों की तैनाती खत्म करने पर विचार करने के बाद फैसला हुआ है.
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उत्तरप्रदेश सरकार सरकार राज्य में काम कर रहे होमगार्डों की सैलरी बढ़ाने जा रही हैं. इसके लिए एरियर भुगतान की कट ऑफ डेट भी तय कर दी गई है. इस संबंध में इलाहाबाद उच्च न्यायालय में दायर विशेष अपील में पारित आदेश की तिथि (6 दिसंबर 2016) से एरियर का भुगतान किया जाएगा. सरकार ने यह भी निर्णय किया है कि होमगार्डों की ड्यूटी होमगार्ड विभाग में उपलब्ध बजट के अंतर्गत ही लगाई जाए.

कोर्ट के आदेश के बाद 672 रुपये दैनिक भत्ता मिलेगा

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में 92 हजार होमगार्ड हैं. जिसमें करीब 87 हजार ड्यूटी कर रहे हैं. माननीय कोर्ट के आदेश के बाद इन्हें 500 के बजाय 672 रुपये दैनिक भत्ता मिलेगा. यानी प्रति होमगार्ड 172 रुपये रोजाना खर्च बढ़ जाएगा.87 हजार होमगार्डों के हिसाब से रोजाना 1 करोड़ 49 लाख 64 हजार का अतिरिक्त खर्चा होगा. इसके साथ ही सरकार को 6 दिसंबर 2016 से एरियर भी देना है. इस पर आने वाले खर्च का रास्ता 25 हजार होमगार्डों की तैनाती समाप्त कर निकालने की तैयारी है. सरकार के अनुसार 672 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से रोजाना 1 करोड़ 68 लाख रुपये की बचत होगी.

Home Guard की सैलरी बढ़ोतरी के साथ योगी सरकार दिया झटका 

अगर दूसरे तरीके से देखें तो 87 हजार में 25 हजार होमगार्ड्स की छटनी मतलब एक तिहाई होमगार्ड्स को बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता हैं. अगर ऐसा होता हैं तो 3 होमगार्ड्स में 1 बाहर तो 3 के काम अब 2 से करवाया जायेगा. एक तरह से देखें तो सुप्रीम कोर्ट के आर्डर का पालन भी हो गया और होमगार्ड्स की सैलरी भी बढ़ गई मगर जो नौकरी से निकाले जायेंगे उनका क्या? सोचियेगा.

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

Leave a Comment