देश के 60 लाख से अधिक पेंशनधारकों के पेंशन राशि में हो सकती है बढ़ोतरी

अगर आप पेंशन खाताधारक हैं तो यह खबर आपके लिए महत्वपूर्ण हो सकता है. केंद्र सरकार के श्रम मंत्रालय (Labour Ministry) की पेंशन राशि (Pension Amount) को बढ़ाने को लेकर फैसला ले सकती हैं. जिसके बाद देश के 60 लाख से अधिक पेंशनधारकों के पेंशन राशि में बढ़ोतरी हो सकती हैं. आइये हम इस महत्वपूर्ण खबर(Important News) के बारे जाने.

पेंशनधारकों के पेंशन राशि में हो सकती है बढ़ोतरी

देश के 60 लाख से अधिक पेंशन धारकों के लिए बहुत मिडिया रिपोर्ट के अनुसार दावा किया जा रहा हैं कि इनकी पेंशन राशि (Pension Amount) में बढ़ोतरी को लेकर सरकार पूरी तरह से मुस्तैद दिख रही है. आने वाले टाइम में पेंशन धारकों की पेंशन में बढ़ोतरी की खबर उन्हें जल्द ही सुनने को मिल सकती है. ईपीएफओ(EPFO) इसको लेकर अपनी तैयारियों में लग सकता है. अगर हालात सब ठीक रहे तो भारतीय जनता पार्टी(BJP) ने कर्मचारियों की पेंशन अमाउंट में इजाफा और अन्य तमाम सुविधाएं(Other Valuable Profit) कर्मचारियों को दिलवाने के संबंध में श्रम मंत्रालय को पत्र भी लिखा है.

देश के कम से कम 60 लाख से अधिक पेंशन भोगियों की पेंशन बढ़ाने की बात इस पत्र में भारतीय जनता पार्टी द्वारा विस्तृत रूप से की गई है. इसका समर्थन EPS-95 NAC के अध्यक्ष(President) अशोक रावत ने भी किया है और कहा है कि पेंशन धारकों को अपनी उम्र के 25 से 30 साल का पाने के बाद भी मात्र ₹2500 ही पेंशन प्राप्त हो पाते हैं. हालांकि, यह कर्मचारी पेंशन फंड(Pension Fund) में भी दान करते आए हैं तब भी पेंशन धारकों की पेंशन में इज़ाफ़ा देखने को नहीं मिल रहा है. पूर्व अध्यक्ष कमांडर(Commander) अशोक रावत ने प्रत्यक्ष रूप से(directly) इस पर अपनी नाराजगी व्यक्त की है और अगर ईपीएफ में NAC की मानें तो उसने भी नाराजगी जताते हुए कहा है कि पेंशन धारक दिए यानी महंगाई भत्ते(DA) को मिलाकर 7500 मासिक पेंशन(monthly pension) और पति पत्नी को स्वास्थ्य सुविधा(Health Service) देने की demand काफी time से की जा रही है.

EPS-95 क्या है (Keno About What Is EPF)

ईपीएस यानी कर्मचारी भविष्य निधि(Employee Pension Scheme) को कर्मचारी पेंशन योजना के नाम से जाना जाता है. इस स्कीम के तहत एंप्लोई अपने वेतन का 12 फ़ीसदी हिस्सा PF (Provident Fund) के रूप में जमा करवाते हैं और इसके साथ ही साथ कंपनी भी नियोक्ता से 12 फ़ीसदी लेकर 8.33 फीसदी कर्मचारी पेंशन योजना(Employee Pension Scheme) में जमा कराती है. Bollywood की जानी-मानी अदाकारा और मथुरा से सांसद हेमा मालिनी(Hema Malini) ने भी श्रम मंत्री (Labour Minister) को पत्र लिखकर पेंशन धारकों की समस्याओं के संबंध में गुहार लगाई है जिसका प्रभाव आगामी समय में देखने को मिल सकता है.

Pension Schemes

BPL(Below From Poverty Line) कार्ड धारकों के लिए इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धा पेंशन, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय पेंशन योजना, विकलांग पेंशन जैसी पेंशन सेवाओं के अलावा मुख्यमंत्री वृद्धा पेंशन और स्वामी विवेकानंद स्वावलंबन पेंशन स्कीम(Swami Vivekananda Swawlamban Pension Scheme) सम्मिलित है, इनका बीपीएल(BPL) कार्ड धारक लाभ उठा सकते हैं.

इंदिरा गांधी नेशनल वृद्धा पेंशन योजना से 560 लोग लाभान्वित हो रहे हैं और वह इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन स्कीम(Indra Gandhi National Wideow Pension Scheme) से 70 लोग लाभान्वित हो रहे हैं.
इंदिरा गांधी नेशनल विकलांग पेंशन से 17 लोग लाभ उठा रहे हैं, वहीं राज्य Vidhwa pension scheme 305 और मुख्यमंत्री विधवा पेंशन से 155 लोग लाभ उठा रहे हैं.

प्रयास पेंशन योजना की हुई शुरुआत (Starting Of Pryas Pension Scheme)

गत बुधवार को प्राइवेट सेक्टर में कार्यरत कर्मचारियों के लिए उपेंद्र प्रताप सिंह और पिछड़ा वर्ग आयोग के सदस्य कौशलेंद्र सिंह पटेल ने प्रयास पेंशन योजना की घोषणा की है.
इस योजना की महत्वपूर्ण बातें जानते हैं संक्षिप्त में,
● इसका लाभ निजी क्षेत्र ( Private Sector) में लगे कर्मचारी ले पाएंगे.
● कर्मचारी जिस भी तारीख से सेवानिवृत्त (Retire) होगा उसकी पेंशन उसी दिन से व्यवस्थित रूप से मासिक एक तारीख से उसके खाते में सबमिट हो जाया करेगी.
● 30 सितंबर को रिटायर कर्मचारी 1 अक्टूबर को पेंशन खाते में पा सकेंगे.

इस पेंशन योजना(Pension Scheme) को एक बड़े बदलाव के रूप में देखा जा रहा है जिसका लाभ पेंशनभोगी तुरंत ले सकेंगे अमूमन सरकारी अथवा प्राइवेट सेक्टर में कार्यरत कर्मचारियों की पेंशन आने में महीनों लग जाते हैं. इस दौरान उन्हें documents varification में एक लंबा समय जया करना पड़ जाता है, तब जाकर पेंशनभोगी इन योजनाओं का लाभ उठा पाते हैं.

निष्कर्ष (Conclusion)

निजी एवं सरकारी क्षेत्र(Private and Government sector) के कर्मचारियों के लिए श्रम मंत्रालय(Labour Ministry) द्वारा पेंशन राशि(Pension Amount) बढ़ाने एवं विभिन्न निजी एवं सरकारी क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारियों के लिए नई पेंशन योजना(New Pension Scheme) जैसे कि प्रयास पेंशन योजना इत्यादि को चालू किया जा रहा है, ताकि गरीब से गरीब तबके का हर एक व्यक्ति ऐसी पेंशन स्कीम का फायदा उठा सकें. अगर आप पेंशन स्कीम्स के सभी मापदंडों को पूरा करते हैं तो आज ही विभिन्न पेंशन स्कीम का लाभ उठाएं.

अमूमन विविध राज्यों में पेंशन स्कीम्स(Pension Scheme) को लेकर विरोध(Protest) प्रदर्शन भी चलते रहते हैं; जैसे कि उत्तराखंड राज्य में चल रहा है. यहां 3 सितंबर को अनुसूचित जाति जनजाति शिक्षक एसोसिएशन पुरानी पेंशन की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन करेगी तो दोस्तों मैं आपसे आखिर में इतना कहना चाहूंगा कि अपने अधिकारों(Rights) के प्रति आप जागरूक(aware) एवं समझदार नागरिक बने एवं ऐसे विरोध प्रदर्शन में आप भागीदार बनकर देश हित समाज कल्याण में भी अपनी कीमती योगदान देकर अग्रणी भूमिका निभा सकते हैं तो चलिए देश हित में कदम बढ़ाया जाए और पेंशन सुविधाओं को गरीब तबके के हर वर्ग तक पहुंचा कर देश को सामर्थ्य और विकास की राह पर आगे ले जाया जाए.

यह भी पढ़ें-

Share this

यदि आपके पास वर्कर से सम्बंधित हिंदी में कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे तुरंत ही email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें .

Leave a Comment