Sahara India Supreme Court – सहारा इंडिया प्रमुख सुब्रतो राय की मुश्किलें बढ़ी?

Sahara India Supreme Court Latest News: एक बार फिर से सहारा इंडिया की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है। जिसके तहत मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने जांच एजेंसी एसएफआईओ के अपील पर सुनवाई को हरी झंडी दे दी है। अभी हाल ही में पटना हाईकोर्ट ने सहारा प्रमुख सुब्रत राय का गिरफ्तारी का आदेश जारी किया था। जिस पर माननीय सुप्रीम कोर्ट ने 19 मई 2022 तक रोक लगाईं थी। जिसकी सुनवाई आज होनी थी। आइये जानते हैं कि पूरा मामला क्या है?

Sahara India Supreme Court Latest News

माननीय पटना हाईकोर्ट ने बिहार डीजीपी को सहारा प्रमुख सुब्रतो राय को कोर्ट में हाजिर करने का आदेश दिया था। जिसके खिलाफ सुब्रतो राय सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाते हैं और उनके गिरफ्तारी पर 19 मई 2022 तक के लिए रोक लगा दिया जाता है। माननीय सुप्रीम कोर्ट के द्वारा 19 मई 2022 को सुनवाई होनी थी।

जिसके पहले ही माननीय सुप्रीम कोर्ट ने सहारा प्रमुख सुब्रत राय को झटका दे दिया है। बिजनेश स्टैंडर्ड के रिपोर्ट के अनुसार सुप्रीम कोर्ट सुब्रतो राय को राहत देने से पहले जांच एजेंसी एसएफआईओ के अपील पर विचार करेगा। आइये जानते हैं कि इससे जमाकर्ताओं को क्या फायदा है? उससे पहले आपको बता दें कि हमने भी माननीय सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश महोदय को पत्र लिखकर सहारा इंडिया फर्जीवाड़े की जांच के केस की सुनवाई कर फैसला का अनुरोध किया है।

सहारा इंडिया सुप्रीम कोर्ट का फैसला

सुप्रीम कोर्ट द्वारा 31.09.2012 को सहारा इंडिया को सभी जमाकर्ताओं का पैसा वापस करने का आदेश दिया गया था। जिसके लिए सहारा इंडिया को सेबी के पास 25 हजार करोड़ रुपया जमा करवाना था। जिसके बाद सहारा इंडिया के जमाकर्तों को सेबी के पास रिफंड के लिए क्लेम करना था। सहारा इंडिया के द्वारा जमाकर्तों का पैसा धोखे से/लोभ लालच देकर विभिन्न सोसाईटी में कन्वर्ट कर दिया गया। अब जब उनका मैच्युरिटी पूरा हो गया तो Sahara Groups के द्वारा पैसा रिफंड नहीं किया जा रहा है। जिसके खिलाफ एसएफआईओ द्वारा जाँच किया जा रहा था।

Sahara India Case Status in Hindi

दिल्ली हाई कोर्ट ने सहारा समहू की नौ कंपनियों से संबंधित जांच को रोकने के आदेश दिए थे। मुख्य न्यायाधीश एन वी रमना और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पीठ को सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने बताया कि सहारा समूह के प्रमुख सुब्रत रॉय के खिलाफ जारी लुकआउट नोटिस पर हाल में एक अन्य पीठ द्वारा रोक लगाने के संबंध में याचिकाकर्ता (एसएफआईओ) ने कुछ चिंताएं जताई हैं।

Sahara India Supreme Court – सहारा इंडिया प्रमुख सुब्रतो राय की मुश्किलें बढ़ी?

सहारा सुप्रीम कोर्ट लेटेस्ट न्यूज़ 2022

कॉरपोरेट धोखाधड़ी की जांच करने वाली एजेंसी गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय (एसएफआईओ) ने दिल्ली उच्च न्यायालय के 13 दिसंबर 2021 के आदेश के खिलाफ शीर्ष अदालत में अपील की थी। दिल्ली उच्च न्यायालय ने सहारा समूह के प्रमुख और अन्य के खिलाफ बाद की सभी कार्रवाइयों पर रोक लगा दी थी, जिसमें दंडात्मक कार्रवाई और लुकआउट नोटिस शामिल है। एसएफआईओ ने अपनी अपील में कहा कि कार्रवाई पर रोक लगा दी गई है, जिससे चल रही जांच पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है। साथ ही जांच एजेंसी ने इस मामले में तत्काल सुनवाई का अनुरोध किया।

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियां, लेख और प्रेरणादायक विचार के लिए विजिट करें - HindiChowk.Com

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

10 thoughts on “Sahara India Supreme Court – सहारा इंडिया प्रमुख सुब्रतो राय की मुश्किलें बढ़ी?”

  1. hello sir,
    my father invested in sahara’s company “star multipurpose cooperative society limited” what should we do.

    Reply
  2. सेन्ट्रल रजिस्ट्रार को भेजने वाले पत्र का pdf फॉर्मेट उपलब्ध कराए कृपया।

    Reply
  3. Sir excellent service being given to the society. Even literate persons are being made fool be the field functionaries of the group who are converting the matured amount after deducting TDS which is not being deposited with the Income Tax Authorities.
    Please guide whether the holder of the converted scheme Receipt can also lodge complaint the central Registrar.
    Raghu Raja Joshi

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!