Sahara India पटोरी थाना पर भूख हड़ताल सह पैसा क्लेम सहायता कैंप लगा?

Sahara india- पूरे देश के साथ पटोरी अनुमंडल क्षेत्र में भी सहारा इंडिया/सहारा समूह के द्वारा बहुत बड़े घोटाले को अंजाम दिया जा रहा है। जिसकी शिकायत के चार महीने बीत जाने के बाद भी प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नही की गई है। जिसके खिलाफ पटोरी थाना पर भूख हड़ताल के साथ सहारा इंडिया का पैसा क्लेम सहायता कैंप का आयोजन किया गया। आइये जानते हैं पूरा मामला क्या है?

Sahara India ka latest news aaj ka hindi mein

हमारे शिकायत के बाद सहारा इंडिया शहजादी माार्केट, पटोरी थाना के समीप, शाहपुर पटोरी, समस्तीपुर, इंडिया शाखा के मैनेजर श्री अनिल कुमार अंजन ने पटोरी थाना प्रभारी के नाम लिखित आवेदन दिनांक 19.02.2022 में स्वीकारा है कि वो अपने कार्यालय सहयोगी के सहायता से पैसे जमा करवा रहे हैं। जबकि सहारा इंडिया के नन बैंकिग का लाईसेंस आरबीआई ने 2015 में ही रद्द कर दिया है।

पटोरी में सहारा इंडिया को दो शाखा चल रहा?

यही नहीं बल्कि पटोरी थाना प्रभारी श्री संदीप कुमार पाल ने भी जाॅंच उपरांत उपरोक्त बातों की पुष्टि करते हुए अपने आरटीआई के जवाब दिनांक 22.03.2022 में स्वीकारा है कि पटोरी में सहारा इंडिया को दो शाखा चल रहा है। जबकि उनके वरिय पदाधिकारी मो. जफर आलम, अनुमंडलाधिकारी, पटोरी ने तीन माह पूर्व ही जाॅंच कर कार्रवाई का आदेश जारी किया है। जिसके बावजूद अभी तक पटोरी थाना प्रभारी द्वारा एफआईआर दर्ज करने के लिए टालमटोल किया जा रहा हैै।

sahara india ka paisa kab milega 2022

जिसके विरोध में दिनांक 28 जून 2022 को सुरजीत श्यामल, मजदूर कार्यकर्त्ता की अगुआई में पटोरी थाना परिसर में सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे एक दिवसीय भूख हड़ताल का आयोजन किया गया। जिसके साथ ही सहारा इंडिया के पैसे के लिए क्लेम सहायता कैम्प का आयोजन किया गया। जिसमें माननीय दिल्ली हाईकोर्ट के आदेशानुसार पटोरी क्षेत्र के तकरीबन 600-700 सहारा इंडिया के जमाकर्ताओं को सेंट्रल रजिस्ट्रार को क्लेम भेजने में मुफ्त सहायता की गई।

सहारा सुप्रीम कोर्ट लेटेस्ट न्यूज़ 2022

हमारे इस सहायता कैम्प में साथी अनुरूध कुमार, रौशन कुमार, सुधीर कुमार, शिवनाथ, राम मोहन राय, अरुण भाई चस्का, छत्रधारी यादव, आशीष राय, पवन सिंह, विक्रम आदित्य, रवीश कुमार, पल्लू भाई, घीना राय, अमरेश राय, ऋषि सहनी, सरोज कुमार मुखर्जी आदि ने बढ़चढ़ कर लोगों का सहयोग किया।

पटोरी अनुमंडल क्षेत्र की जनता सैंकड़ों की संख्या में पटोरी थाना परिसर में एक दिवसीय भूख हड़ताल के माध्यम से निम्न की गई है –

  • अविलंब श्री सुब्रत राय व अन्य सभी दोषियों पर सहारा इंडिया फर्जीवाडे़, पैसा गबन, जनता के साथ धोखाधड़ी का एफआईआर दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाए।
  • सरकारी काम में लापरवाही बरतने वाले जिम्मेदार अधिकारियों पर विभागीय कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।
  • एवं गरीब जनता का पैसा सहारा इंडिया/सहारा समुह/सहारा सोसाईटी से रिफंड करवाया जाए।

sahara india ka samachar taaja

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियां, लेख और प्रेरणादायक विचार के लिए विजिट करें - HindiChowk.Com

अंत में पटोरी थाना प्रभारी श्री संदीप कुमार पाल के द्वारा 2-3 दिन में FIR दर्ज करने का आश्वासन के बाद आंदोलनकारी साथियों को जूस पिलाकर भूख हड़ताल समाप्त करवाया गया।

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

10 thoughts on “Sahara India पटोरी थाना पर भूख हड़ताल सह पैसा क्लेम सहायता कैंप लगा?”

      • सहारा इंडिया मैं देश के बहुत से लोगो का पैसा फंसा हुआ है, जिनमे गरीब, मध्यम वर्ग के लोगो का पैसा है। आप लोग ठीक तरह से वीडियो या प्रेशर सेबी, या गवर्मेंट मैं नही बना पा रहे है।
        में वीडियो नही बना सकता कानून के अनुसार में गवर्मेंट job पर हूं। बहुत दुख होता है देख कर गरीब जनता का पर में एक सटीक आइडिया बता सकता हूं।

        Reply
        • गोवेर्मेंट जॉब पर हैं तो घर में चोरी होगी तो आप थाने में नहीं जायेंगे। कैसी बातें कर रहे हैं. यह किसने कह दिया कि हम गवर्नमेंट पर प्रेसर बना रहे. हमारा काम आपको जानकारी देना और जागरूक करना है. आपका पैसा है आपको बोलना होगा नहीं तो भूल जाईये पैसा।

          Reply
  1. Honorable sir, my 5 lakh investment stuck, I’m living in Singeshwar, madhepura. What I do please guide us.
    Thank you

    Reply
    • भाई साहब मधेपुरा भारत के बाहर नहीं है. अब आपके लिए अलग जानकारी तो होगी नहीं। हमारे पोस्ट को पढ़ें

      Reply
    • आपके लिए अलग से कोई जानकारी नहीं है. हम हर रोज आपलोगों के लिए कह रहे कि सेंट्रल रजिस्ट्रार को क्लेम कीजिए

      Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!