Protest Kya hai? पुलिस से प्रदर्शन की अनुमति आसानी से कैसे लें

आज हम आपको एक ऐसी जानकारी देने जा रहें है, जो कि हर आंदोलनकारी के लिए उपयोगी साबित होगा. इसको जानने के बाद Thank You कहे बिना नहीं रह सकेंगे या यह भी हो सकता है कि आपको इसकी जानकारी पहले से हो. आज हम बात करने जा रहें है कि Protest kya hai? Protest यानी धरना प्रदर्शन के लिए Police से आसानी से Demonstration Permit या Police Permission कैसे लें. उम्मीद करूंगा कि इसके बारे में पूरी जानकारी के लिए पूरा पोस्ट पढ़ेंगे. इसके साथ ही इस जानकारी का अपने YouTube पर Video भी बनाया है. उसको भी आप नीचे जाकर देख सकते हैं.

Protest Kya hai?

सबसे पहले यह जानने की कोशिश करते हैं कि Protest क्या है. देश के संविधान ने हमें अन्य Fundamental Rights में एक Right Protest यानी विरोध का दिया है. अगर हमारे हक़ और अधिकार पर हमला होता है और विरोध स्वरूप सड़क पर उतर कर विरोध दर्ज करते हैं तो उसको विरोध प्रदर्शन कहते हैं. जिसके बाद हम सरकार या सम्बंधित विभाग को लिखित में विरोध पत्र भी देते हैं.
हम नागरिक का का कर्तव्य केवल वोट देने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि हमारी असली जिम्मेवारी वोट देने के बाद सरकार बनते ही शुरू होती है. ऐसा नहीं है कि वोट देना काम जिम्मेवारी का काम है. वोट देने से पहले हमें बहुत ही जतन कर तय करना होता है कि कौन Candidate/Party अच्छी है. कौन आगे चलकर जनहित में काम करेगा और कौन नहीं करेगा. मगर यह बात और है कि भले ही सब्जी खरीदने में भले ही हम 1 से 2 घंटे लगा दें मगर सरकार चुनने में कुछ नहीं सोचते.

Police से  Demonstration Permit क्यों जरुरी है?

जी हां, एक अच्छे नागरिक का कर्तव्य है कि सरकार के अच्छे काम की तारीफ  करे और उनके जनविरोधी काम का विरोध करें. किसी भी Party या दल का भक्त तो बिलकुल न बने. अब अगर इसके लिए चाहे किसी Company (कंपनी) में काम कर रहें और Worker (मजदूर) हित के खिलाफ धरना/प्रदर्शन करने जा रहे तो सबसे बड़ी Problem  Police से  Demonstration Permit बनवाने में आती है.
इसके लिए हमें अपने तय कार्यकर्म के 7 दिन पहले DCP Office में या कम से कम 24 घंटे पहले सम्बंधित Police Station में  Demonstration Permit यानि Permission के लिए लिखित में आवेदन दे सकते हैं. यह इसलिए भी देना होता है ताकि शहर की शांति-व्यवस्था की जिम्मेवारी पुलिस-प्रशासन के जिम्मे हैं. इसलिए नियम के अनुसार उनको जानकारी दिए बिना कोई भी प्रदर्शन/जुलुस गैरकानूनी माना जाता है.

Police से  Demonstration Permit आसानी से लेने का टिप्स क्या है?

इस  Demonstration Permit के लिए एक खुद का आजमाया हुआ Trick बता रहा हूं. अक्सर जब हम Written  में Protest की Information Police को देते हैं तो अक्सर वो Protest के दिन Phone कर या खुद धरना/प्रदर्शन स्थल पर आकर बोलते कि आपको Permission नहीं मिला है. कुछ ऐसा ही मुझे भी बोला गया था. इसके बदले बड़े ही सलीन ढंग से पुलिस के उस अधिकारी महोदय से पूछा कि “सर, हमने Written  में Demonstration Permit के लिए आवेदन दिया है.
नियम के अनुसार आप भी Written में जबाव दें. इसपर वो चुप हो गए. अपने बड़े अधिकारी से बात की. इस दौरान उनको भरोषा दिया कि हमें मात्र 2 घंटे के लिए शांतिपूर्ण Protest  करना है. इसमें आपको शिकायत का कोई मौका नहीं मिलेगा. इसके बाद वो कुछ नहीं कह पाए और हमने Demonstration Permit नहीं होने के बाद भी बिना किसी रोक-टोक के Protest किया.

Protest के समय Police का होना हमारे Security के दृष्टिकोण से सही होता

ऐसे भी Protest के दौरान Police का होना हमारे Security के दृष्टिकोण से सही होता है. उनसे हमारी कोई लड़ाई नहीं होती, बल्कि हमने तो अक्सर देखा है कि हमारे ज्यादातर Protest प्रोटेस्ट में उन्होंने काफी Support किया है. खैर, इसके बाद हम अपने हर Protest में Written में Demand करने लगे.
एक बार Written me में Order भी मिल गया. जो कि हमारे ख्याल से अपने जानने वालों के बीच हमारे पास पहला Demonstration Permit का Rejection Letter था. जिसका भी होने Reply दिया और शांतिपूर्ण 77 दिन पर धरना दिया.

Protest Kya hai? पुलिस से प्रदर्शन की अनुमति आसानी से कैसे लें?

इस Tips के बारे में काफी लोगो को बताया. वो लोग भी Demonstration Permit के Rejection Letter का मांग करने लगे. जिसके बाद हमारी तरह Police Officer या तो Written में Rejection Letter जारी करना करना पड़ता. या फिर निरुत्तर होकर Protest को मना नहीं कर पाते. ऐसे भी साथियों, कोई भी Order Verbally नहीं होता. यह समझने और जानकारी की बात है. उम्मीद है यह information का use करेंगे. अगर कोई सवाल हो तो जरूर नीचे Comment Box में लिखेंगे. धन्यबाद.

यह भी पढ़ें-

Share this

यदि आपके पास वर्कर से सम्बंधित हिंदी में कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे तुरंत ही email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें .

Leave a Comment