47 करोड़ LPG सब्सिडी एयरटेल के खाते में, जो कि आपसे बिना पूछे खुला

अगर आपके पास एयरटेल का मोबाइल नंबर है. जिसको आपने आधार से लिंक किया है तो हो जाये सावधान. गैस व् पेट्रोलियम मंत्री श्री ने कहा है कि जिन उपभोक्ताओं के पास एयरटेल का नंबर है. उनके खाते में पिछले कुछ सप्ताह से गैस की सब्सिडी जमा नहीं हो रही है. जबकि शिवचंद्र प्रसाद नविन भारत गैस उपभोक्ता को पिछले अप्रैल से ही सब्सिडी नहीं मिल रहा है. इस संदर्भ  में उन्होंने पेट्रोलियम एवं गैस मंत्रालय में भी शिकायत कर रखी है, मगर अभी तक कोई जबाब प्राप्त नहीं हुआ है. अब सवाल है कि तो सब्सिडी जा कहां रही है?

47 करोड़ LPG सब्सिडी एयरटेल के खाते में?

हिन्दू बिज़नेस लाइन ने लिखा है कि सरकार ने अपने बयान में कहा है कि बहुत से लोगों ने शिकायत की है कि पिछले कुछ सप्ताह से उनके खाते में गैस की सब्सिडी जमा नहीं हो रही है. जांच के बाद पाया गया कि जिस ग्राहक के खाते में सब्सिडी जमा नहीं हुआ उनके पास एयरटेल का नंबर था. इसके बाद पाया गया कि उनका सब्सिडी का पैसा ट्रांसफर तो हुआ है मगर उनके खाता के बदले एयरटेल पेमेंट बैंक में.
न्यूज 18 के अनुसार दरअसल रसोई गैस सिलेंडर खरीदने के बाद सब्सिडी के पैसे अपने बैंक खाते में जमा न होते देख कोरबा के सीएसईबी कॉलोनी निवासी नवाब हुसैन ने जब अपनी गैस एजेंसी कोरबा गैस कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर से संपर्क किया तब इस मामले का खुलासा हुआ. इसके बाद नवाब हुसैन ने जब एयरटेल से इस सब्सिडी को लौटने की बात की तो उन्होंने साफ मना करते हुए कहा की इसका इस्तेमाल आप केवल डिश टीवी या मोबाइल रिचार्ज में कर सकते है.

वही पंजाब केसरी के अनुसार के अनुसार 23 लाख से अधिक ग्राहकों की LPG सब्सिडी उन खातों में जमा हुई जो उनके जानकारी के बिना खोली गई थी . गौरतलब है कि इस साल 9 जून से 23 लाख से अधिक गैस उपभोक्ताओं को अपने एयरटेल बैंक खातों में 47 करोड़ रुपए सब्सिडी मिली. जिसमें से 41 करोड़ रुपए से ज्यादा उनके एेयरटेल से संबंधित बैंक खातों में डाले गए.

इनमें से लगभग 11 लाख गैस ग्राहक इंडियन ऑयलबीएसई से संबंधित हैं.जब इस सन्दर्भ में पेट्रोलियम मंत्रालय ने बात की तब दूरसंचार विभाग ने इस संबंध में कहा कि एयरटेल पेमेंट्स बैंक सभी दिशानिर्देशों के साथ पूरी तरह से अनुपालन करता है और बैंक खाते केवल ग्राहक से स्पष्ट सहमति के बाद खोले जाते हैं.

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियों का संग्रह - हिंदी चौक डॉट कॉम

यह भी पढ़ें-

Share this

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए (यहाँ Click) करें.

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

Leave a Comment