Bihar Migrant Registration कैसे करें (Bihar Migrant Helpline Number)

केंद्र सरकार ने तक़रीबन 35 दिन के बाद Lockdown में ढील दी हैं. जिसके तहत कुछ Formality पूरी करने के बाद प्रवासी लोग अपने घर जा सकते हैं. ऐसे में अगर आप बिहार राज्य के निवासी हैं और किसी दूसरे राज्य में फंसे हैं तो आपको “Bihar Migrant Registration कैसे करें (Bihar Migrant Helpline Number) जानकारी की जरुरत होगी. आज हम इसकी जानकारी देने जा रहे हैं.

Bihar Migrant Workers Online Registration

देश के राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 सेक्शन 10(2)(l) में प्रदान की गई शक्तियों का उपयोग कर अध्यक्ष, राष्ट्रीय कार्यकारी समिति ने कोरोना वायरस को फैलाव रोकने के लिए 03 मई 2020 तक लॉकडाउन का आदेश जारी किया था. जिसके बाद सरकार के अचानक से लिए इस फैसले से लाखों लोग दूसरे राज्यों में फंस गए हैं.

केंद्र सरकार के आदेश के बाद बिहार के प्रवासी मजदूर और छात्रों की वापसी के लिए 19 नोडल अधिकारियों की नियुक्ति हुई है. सभी नोडल अधिकारियों की जिम्मेदारी होगी कि वे राज्यों में फंसे हुए लोगों की सूची तैयार करें और उनकी वापसी के लिए रास्ता निकालें.

Bihar Migrant Registration kaise kare | बिहार प्रवासी पंजीकरण कैसे करें

गृह मंत्रालय के आदेश के बाद अभी कुछ राज्यों ने प्रवासी लोगों को वापस बुलाने के लिए वेब पोर्टल लॉन्च किया हैं. जिसका सीधा लिंक हमारे अपने पूर्व के आर्टिकल के माध्यम से दिया था. जिसमें हमने Bihar Migrant Registration के लिए भी Option दिया हैं. हमारे पास जैसे-जैसे जिस-जिस राज्य की सूचना आते जा रही हैं. हम वैसे-वैसे अपने उस पुराने पोस्ट पर उपडेट करते जा रहे हैं. अपने इस पोस्ट के माध्यम से बिहार के प्रवासी जो दूसरे राज्यों में फंसे हैं. उनके लिए हेल्पलाइन की जानकारी देने जा रहे हैं. जिससे की वो अपने राज्य में लौट सकें.

Bihar Migrant Workers Registration COVID-19 Help

केंद्र सरकार (Central Government) के द्वारा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पुरे देश मे Lockdown किया गया हैं. जिसके बाद केवल Essential Service को छोड़कर सभी दूकान, कल कारखाने, सिनेमा घर, रेस्टोरेंट, ऑफिस, रेल, हवाईअड्डा आदि आगामी 17 मई 2020 तक बंद हैं.

अब हालाँकि कुछ शर्तों के साथ केंद्र सरकार ने देश के अलग-अलग राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों, पर्यटकों और छात्रों आदि की आवाजाही की अनुमति दे दी है. केंद्र की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि सभी राज्य और केंद्रशासित प्रदेश अपने यहां फंसे लोगों को उनके गृह राज्यों में भेजने की तैयारी करें. राज्यों ने मजदूरों को वापस भेजने की तैयारी शुरू भी कर दी है.

Bihar Migrant Workers Registration | बिहार राज्य प्रवासी श्रमिक पंजीकरण

केंद्र सरकार के द्वारा राज्य सरकार/केंद्र शासित प्रदेशों को Migrant Workers के लिए अपने आर्डर दिनांक 29.04.2020 में 6 पॉइंट के निर्देश में कहा हैं कि “सभी राज्य और केंद्र शासित राज्य सरकारें मजदूरों, छात्रों और पर्यटकों को घर भेजे जाने के लिए नोडल अथॉरिटी का गठन करे. यही अथॉरिटी अन्य राज्य सरकारों के साथ बातचीत करके फंसे हुए लोगों को भेजने और उन्हें वापस बुलाने का काम करेगी.

इसके बाद बिहार सरकार ने अलग-अलग राज्यों से प्रवासी लोगों को लाने के लिए नोडल अधिकारी की न्युक्ति कर दी हैं. उनकी जिम्मेदारी होगी कि वो सम्बंधित राज्य सरकार के नोडल अधिकारी से संपर्क करेंगे. इसके अलावा वहाँ फँसे लोगों को अपने राज्य में लाने की व्यवस्था करेंगे.

Bihar migrant workers online registration FORM

इंडिया टुडे के खबर के अनुसार बुधवार को उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने साफ कहा था कि कि सरकार के पास इतना संसाधन नहीं है कि वह देश के विभिन्न राज्यों में बस भेजकर प्रवासी मजदूरों और छात्रों को वापस बुला सके.

जिसके बाद बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एक ट्वीट में कहा, ‘अगर यूपी सरकार महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान,एमपी, हरियाणा, पंजाब और दिल्ली में फँसे अपने राज्यवासियों को बसों द्वारा वापस बुला सकती है तो बिहार सरकार क्यों नहीं?

मगर अब गृह मंत्रालय के 01 मई 2020 के अनुसार रेल मंत्रालय को निर्देश जारी किया गया हैं कि वो राज्य सरकार/केंद्र शासित परदेसों के नोडल अधिकारी से संपर्क कर फँसे हुए प्रवासी लोगों को स्पेशल ट्रेन के द्वारा उनके राज्य में पहुचायें.

Migrant-Workers-Movement-Train
Migrant-Workers-Movement-Train

Bihar Migrant Labour Help | Bihar Migrant Helpline Number

अब इसके बाद आपका सबसे पहले सवाल होगा कि हम बिहार के निवासी हैं और दूसरे राज्यों में फंसे हैं. इसके लिए कोई Helpline Number हैं तो दें. जी हाँ. हम आपको बिहार सरकार द्वारा बनाये प्रवासी लोगों को वापस लाने वाले नोडल अधिकारी का नंबर देने जा रहे हैं. आप जिनसे सीधे बात कर सहायता ले सकते है. ऐसे अभी तक बिहार सरकार ने Bihar Worker Migrant Registration के लिए कोई वेबसाइट लॉन्च नहीं किया हैं. अगर सरकार के द्वारा वेबसाइट लॉन्च किया जाता तो तो उसकी जानकारी भी हम इस पेज पर उपडेट करेंगे.

State Nodel Officer Mobile Number 
Delhi/HimachalPalka Sahani, IAS9599823200
Sailendra Kumar, BAS9717691086
Jammu Kashmir/LadakhSailendra Kumar, BAS9717691086
PunjabManjeet Singh Dhillon, IPS9473191753
HariyanaDivesh Sehra, IAS8544404189
RajsthanPrem Singh Meena, IAS9473191456
GujratB. Kartikey, IAS9810922727
UttrakhandVinod Singh Gunjiyal, IAS9473191491
Uttar PardeshVinod Singh Gunjiyal, IAS9473191491
Animesh Paraskar, IAS6203149319
Madhya Pardesh/ChatishgardhMayank Badbade, IAS9473191429
OrishaAnirudh Kumar9473197815
JharkhandChandrashekhar, IAS9661472483
West BengalKim, IPS7739811111
Asam, Meghlay, Nagaland, Manipur, Tripura, Mizoram, Arunachal Pardesh and SikkamAnand Sharma, IAS8135900400
Andhra Pardesh, TelanganaM. Ramhandrudu, IAS7250687373
Tamilnadu, PudducherySenthil Kumar, IAS9431232001
KarnatakaPartima S, IAS9473191380
Maharashtra, GoaAdesh T, IAS9431818704
KerlaSafeena N, IAS8547883439

यह संभव हैं कि आपके हजारों कॉल को ये रिसीव न करे पायें. इसलिए आप अपना नाम, और अपना वर्त्तमान पता और बिहार का पता नंबर पर मैसेज कर दें. इसके साथ ही आप जिस राज्य में फंसे हैं वहाँ के नोडल अधिकारी को अपना डिटेल दें. अगर उनके बारे में पता नहीं हैं तो पुलिस को 100नंबर पर फोन कर जानकारी लें.

बिहार राज्य में आने के लिए अपनी जानकारी दर्ज कराएं-

नोडल अधिकारियों का नंबर जनता के लिए नही है. 0612- 2294204/05 – आपदा प्रबंधन विभाग, बिहार. बिहार भवन , नई दिल्ली(24×7) 011-23792009, 011-23014326, 011-23013884. बिहार के बाहर फंसे बिहारी लोग केवल इन्ही नंबरों पर सम्पर्क करें और उनके पास अपनी जानकारी दर्ज कराएं.

बिहार के जो लोग भी बाहर किसी राज्य में फंसे हैं वो उस राज्य के ऑफिसियल वेबसाइट के लिंक पर क्लिक कर रजिस्ट्रेशन दर्ज करवाए. इसकी जानकारी के लिए के लिए आप हमारे पुराने आर्टिकल पर जाए –Migrant Workers Registration (State Wise) घर जाने के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें (Click Here)

Bihar Migrant Registration Link-

Article categoryBihar Migrant Worker Registration
SchcemeBihar Migrant Workers Registration COVID-19 Help
Authority issued the orderMHA
High AuthrityBihar Government
The objective of the ordersTo bring back migrant worker and people
Portal linkAvailable now
Registration ModeOnline
Official Websitelabour.bih.nic.in
(Bihar Migrant Registration Link Available Here Soon)
वैसे व्यक्ति जो लॉक डाउन के कारण बिहार में फंसे हुए हैं जो अपने गृह राज्य जाना चाहते हैं

वैसे व्यक्ति जो लॉक डाउन के कारण बिहार में फंसे हुए हैं एवं जो अपने गृह राज्य जाना चाहते हैं वो व्यक्ति इस पोर्टल के माध्यम से अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं- Bihar Outsider Registration link  Click Here

 

हम तो कहेंगे कि अगर आपके पास पर्याप्त पैसे हैं तो अभी घर न जायें. अगर आप घर भी जाते हैं तो आपको 14 दिन अपनो से दूर Quarantine Centers में रखा जायेगा. जिसके बाद ही आप अपनों से मिल पायेंगे. अगर आपके पास खाने के लिए पैसा नहीं हैं तो अभी बिहार सरकार के कोरोना सहायता अप्प पर रजिस्टर्ड करें (बिहार कोरोना सहायता योजना, Migrant Workers Apply कैसे करें ) वेरीफिकेशन के बाद प्रति व्यक्ति 1000 रुपया खाते में आ जायेगा.

हमें पता हैं कि यह राशि आपके लिए पर्याप्त नहीं हैं मगर इस समय डूबते को तिनका का सहारा तो हैं. अगर आपका मालिक/कम्पनी ने काम करवाकर पैसा नहीं दिया तो आप हमारे इस पुराने आर्टिकल के मदद से कम्प्लेन करें – Lockdown में कंपनी सैलरी नही दे तो क्या करें, कम्प्लेन के फॉर्मेट के साथ

बिहार जाने के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें | Bihar Migrant Registration

Details required to submit in the portal for Registration

ऑनलाइन पोर्टल के जरिये पंजीकरण फॉर्म (Registration Form) में लोगों को आपको अपना विवरण प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है ताकि सरकार को इससे प्राप्त करने में मदद मिल सके. इस Online Portal में निम्नलिखित डिटेल की आवश्यकता होगी-

  • आवेदनकर्ता का नाम
  • मोबाइल नंबर
  • आधार कार्ड का नंबर
  • राज्य का नाम (जहां आप फंसे हैं)
  • आरोग्य सेतु ऐप में स्थिति
  • लिंग
  • आवेदक की श्रेणी
  • उम्र
  • परिवार के सदस्यों की संख्या

प्रवासी लोगों को वापस लाने के लिए राज्यों द्वारा निम्न कदम उठाए जाने चाहिए

  • सभी राज्य और केंद्र शासित राज्य सरकारें मजदूरों, छात्रों और पर्यटकों को घर भेजे जाने के लिए नोडल अथॉरिटी का गठन करे. यही अथॉरिटी अन्य राज्य सरकारों के साथ बातचीत करके फंसे हुए लोगों को भेजने और उन्हें वापस बुलाने का काम करेगी. अथॉरिटी की जिम्मेदारी होगी कि वह फंसे हुए लोगों का रजिस्ट्रेशन कराये.
  • अगर कहीं पर कोई समूह फंसा हुआ है और वह अपने मूल निवास स्थान जाना चाहता है तो राज्य सरकारें आपसी सहमति के साथ उन्हें छूट दे सकतीं है.
  • दूसरे राज्यों में फंसे हुए लोगों की पूरी तरह से मेडिकल जांच होगी. बगैर लक्षण वाले को ही यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी.
  • जिस बस में लोगों को ले जाने की व्यवस्था होगी उसे पूरी तरह से सैनिटाइज कराया जाएगा और अंदर भी लोगों को बैठाने में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन कराया जाएगा.
  • राज्य सरकारें फंसे हुए लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए खुद रूट तय करेंगी.
  • घर पहुंचते ही लोगों की जांच होगी. इसके बाद सभी को 14 दिनों का होम क्वारैंटाइन में रहना होगा. इस बीच लोगों को अपने मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु ऐप हमेशा ऑन रखना होगा ताकि उन्हें ट्रेस किया जा सके.

आपके द्वारा बार-बार पूछे जाने वाले प्रश्न-

Q: सरकार फंसे हुए प्रवासी मजदूर को घर वापस जाने के लिए आदेश कब जारी करेगी?

Ans: सरकार ने प्रवासी श्रमिकों को घर जाने देने के लिए 29.04.2020 को आदेश जारी कर दिया हैं.

Q: अगर मैं दिल्ली में फंसा एक प्रवासी श्रमिक हूँ तो मैं अपने घर बिहार वापस कैसे जा सकता हूँ ?

Ans: आपको दिल्ली राज्य के द्वारा लॉन्च पोर्टल पर पंजीकरण फॉर्म भरने की आवश्यकता होगी.

Q: मुझे पंजीकरण फॉर्म के लिए लिंक कहां मिल सकता है?

Ans: रजिस्ट्रेशन पोर्टल का लिंक के लिए (यहाँ क्लिक करें) जल्द ही उपडेट किया जायेगा.

Q: पंजीकरण फॉर्म भरते समय मुझे कौन से दस्तावेज जमा करने होंगे?

Ans: आपको अपना आधार कार्ड और अन्य दस्तावेज जमा करने की आवश्यकता है क्योंकि यह अलग-अलग राज्यों के पोर्टल के अनुसार भिन्न हो सकता है.

Q: क्या यह सच है कि क्या मुझे आरोग्य सेतु ऐप में अपना स्टेटस जमा करना होगा?

Ans: हाँ, कुछ सरकारें पोर्टल में स्टॉक्स जमा करने के लिए कहती हैं.

Q: क्या सरकार हमें परिवहन सेवा प्रदान करेगी या हमें इसकी व्यवस्था करने की आवश्यकता है?

Ans: यदि आपके पास आपका वाहन है तो आपको पंजीकरण के रूप में इसका विवरण प्रस्तुत करना होगा, यदि नहीं तो सरकार आपको परिवहन सेवा प्रदान करेगी.

Q: क्या सरकार हमें तुरंत हमारे घर भेज देगी या वे हमें Quarantine में रखेंगे?

Ans: ऐसे तो गृह मंत्रालय के आदेश के अनुसार, आपको चेकअप करने के बाद आपके घर भेजा जाएगा और आपको अपने घर में Quarantine करने की आवश्यकता होगी लेकिन कुछ मामलों में, सरकार आपको उनके स्थानों पर Quarantine में रखेगी.

Share this

यदि आपके पास वर्कर से सम्बंधित हिंदी में कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे तुरंत ही email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें .

27 thoughts on “Bihar Migrant Registration कैसे करें (Bihar Migrant Helpline Number)”

  1. Abe sale Chutiya log..Fek link dal kr Logo ko Q gumrah kr rhe ho…pahle mater cliar kr lo or jb Tum santust ho jao tab..TV or Net pr site Dikhao..Jb Government ne Migrated logo ko Ghar Pahuchane ki Notice Nikal diya hai to ese Gupt Q Rakh rha hai..Other state me rah rhe log covid19 se mre ya na mre bt Bhukh se or Police ke Mar se jarur mrenge..fir gov. Kisko bchane ki bat kr rha hai…Kam se Kam unko mrne ke liye unke State or District to bhej Do…

    Reply
    • Madam..Sorry..but hun govt nhi hai..aur yah link govt jisko aap vote dekar chunti hai usne hi jari kiya hai..

      Reply
  2. सर हम साथ लोग बिहार में फंसे हुए हैं हम कैसे उत्तर प्रदेश अपने घर पहुंचेंगे

    Reply
  3. My name is munna kumar dilhi se bol rahahu my dilhi me fase hai mujhe kuchh nahi mil raha hai aur mujhe bahuti dikat hai may village go chahata hu may bihar ke Aurangabad District ke rahne vala hu mara pin.code 824124 good morning sar

    Reply
  4. Dear sir

    Agar kisi ko bihar ke District Rohtas se
    Ghaziabad UP apne ghar jana ho to kaha or kese sampark kare or registrations karay plz Help me sir….

    Reply
  5. Bhai ye up jane ke liye sarkar bus aur train ka option nhi de rhi hai ye apna khud ka gari ta taxi se jane ka option de rhi hai

    Reply

Leave a Comment