दिल्ली नगरपालिका कर्मचारी वेतन का भुगतान न करने के खिलाफ हड़ताल पर

दिल्ली नगरपालिका कर्मचारी अपने लंबित वेतन और पेंशन का भुगतान न करने के खिलाफ गुरुवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए. एमसीडी एम्प्लाइज यूनियन (MCD Employees Union) के आह्वान प तीनों नगर पालिकाओं – उत्तर, पूर्व और दक्षिण के सैंकड़ों कर्मचारी हड़ताल में भाग ले रहे है.

आंदोलित नगरपालिका कर्मचारियों ने उत्तरी दिल्ली नगर निगम के सिविल लाइंस जोनल कार्यालय पर भी धरना दिया और अपने लंबित वेतन को जारी करने की मांग की है. हिंदुस्तान टाइम्स के रिपोर्ट के अनुसार एमसीडी कर्मचारी संघ के संयोजक एपी खान ने कहा कि उत्तर नागरिक निकाय के विभिन्न विभागों में कर्मचारियों को पिछले चार या पांच महीनों से वेतन नहीं दिया गया है, जबकि पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईपीसी) के कर्मचारियों का वेतन दिया गया है. उनलोगों का पिछले तीन महीने से लंबित है. दक्षिणी दिल्ली नगर निगम में, कर्मचारियों की पेंशन को मंजूरी नहीं दी जा रही है.

कर्मचारी नेता खान ने कहा कि एमसीडी कर्मचारियों पिछले चार या पांच महीने से बिना वेतन के काम कर रहे हैं और अब पैसों के अभाव में अपने परिवार को देखभाल नहीं कर पा रहे है. हमलोगों ने अपनी समस्या कई अधिकारियों के समझ रखी मगर कोई सुनवाई नहीं हुई. अब हम हड़ताल पर जाने को मजबूर हैं. जब तक हमारी मांग पूरी नहीं हो जाती, हम पीछे नहीं हटेंगे. हम चाहते हैं कि हमारे सभी लंबित वेतन और पेंशन को मंजूरी दे दी जाए और इस समस्या का स्थायी समाधान किया जाए.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के अनुसार यूनियनों के प्रतिनिधियों ने एलजी ऑफ़िस को पाँच प्रमुख मांगों के साथ एक ज्ञापन सौंपा है. दिल्ली नगरपालिका कर्मचारियों के “मार्च टू एलजी हाउस” को रोक दिया गया और पुलिस ने हस्तक्षेप कर एक प्रतिनिधिमंडल को ज्ञापन प्रस्तुत करने के लिए परमिशन दिया.

एमसीडी एम्प्लाइज यूनियन द्वारा बुलाये इस हड़ताल में भाग लेने वाले कर्मचारियों में शिक्षक, इंजीनियर, बागवानी विभाग के कर्मचारी, लिपिक कर्मचारी, घरेलू प्रजनन चेकर्स (डीबीसी) श्रमिक, और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी जैसे बेलदार और मजदूर शामिल हैं.

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

2 thoughts on “दिल्ली नगरपालिका कर्मचारी वेतन का भुगतान न करने के खिलाफ हड़ताल पर”

  1. नमस्कार श्रीमान
    कोरोना के लाक डाउन में मैं घर चला गया था मैंने अपने कंपनी के तत्तकालीन सुपरवाइजर को सूचना दे दिया था लेकिन बीच में कोई संपर्क नहीं किया वापस अक्टूबर में आया और संपर्क किया तो नौकरी देने से मना कर दिया बोला रिजाइन कर दो काफी निवेदन के बाद भी रिजाइन करने के लिए कह रहे हैं मैंने रिजाइन लेटर पर साइन करवा लिया है परन्तु उसे कंपनी के आफिस में जमा नहीं किया है क्या मुझे नौकरी वापस मिल सकता है

    Reply
    • आपको अगर नौकरी की जरुरत हैं तो इतनी लापरवाही क्यों? अगर अपन इस्तीफा पर sign कर ही दिया तो अब ऐसा कैसे कह रहे की जमा नहीं हुआ. अब आपको ऑफिस जानकर बात करनी चाहिए

      Reply

Leave a Comment