Current Minimum Wages in Delhi 2020 असल में कितना हैं

दिल्ली न्यूनतम वेतन पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आये तक़रीबन 4 महीने से ज्यादा हो चुके हैं. मगर अभी भी लोगों को इसपर confusion हैं या यह कहिए कि मालिक लोग जानबूझकर गुमराह कर रहें हैं. इस काम में लेबर विभाग का ऑफिसियल वेबसाइट भी उनका साथ दे रहा हैं. जिसपर उन्होंने अभी तक 2018 का Current Minimum Wages in Delhi उपडेट कर रखा हैं. आज हम इसके बारे में महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं.

Current Minimum Wages in Delhi 2020?

आज से तक़रीबन एक हप्ते पहले एक साथी ने जानकारी दी कि दिल्ली के लेबर कमिशर ऑफिस का वेबसाइट दिल्ली वेतन अभी भी कम से कम 14,000 दिखा रहा हैं. जिसके कारण उनका मालिक उसी आधार पर भुगतान कर रहा हैं. इससे उनको और उनके साथियों को कम वेतन दिया जा रहा हैं. उन्होंने कहा कि इस वेवसाइट को उपडेट करवाने के लिए कुछ कीजिये.

इसके बाद हमने चेक किया तो पाया कि सचमुच में अभी तक उपडेट नहीं किया गया हैं. हाँ, यह बात और हैं कि इस वेवसाइट पर लेबर विभाग ने सुप्रीम कोर्ट के आर्डर के बाद 23 अक्टूबर 2019 को नोटिफिकेशन का कॉपी एक लिंक के माध्यम से उपडेट कर दिया हैं. जो कि ज्यादातर लोगों को दिखाई भी नहीं देता. जबकि Current Minimum Wages in Delhi वाला पूरा पेज ही हैं. जिसको देखकर एक बार कोई भी धोखा खा जाए.

Minimum Wages in Delhi 2020

ऐसे में आप कंफ्यूज न हो तो हम पहले आपको यह बता दें कि Current Minimum Wages in Delhi 2020 कितना हैं- अकुशल – 14842 / महीना, अर्ध-कुशल- 16341 / महीना, कुशल- 17991 / महीना, अत्यधिक कुशल – 19572 / महीना. ऐसे यह इस महीने यानी मार्च 2020 के बाद बढ़ा जाना चाहिए. यह तभी होगा जब दिल्ली सरकार 1 अप्रैल 2020 के मंहगाई भत्ते का नोटिफिकेशन जारी करेगी. हमारे पास जैसे ही इसकी जानकारी आयेगी. हम तुरंत ही आपलोगों से शेयर करेंगे.

अब जो दिल्ली सरकार के लेबर कमिशर ऑफिस में ऑफिसियल वेबसाइट पर Current Minimum Wages का पुराना डेटा हैं इसको उपडेट करना जरुरी हो गया. इसलिए हमने दिनांक 03.03.2020 को एक ईमेल लेबर विभाग के अधिकारियों के साथ, श्री गोपाल राय, माननीय श्रममंत्री, श्री अरविन्द केजरीवाल, दिल्ली सरकार को भेजा. ऐसे तो हमने ईमेल को अंग्रेजी में भेजा हैं. मगर आपलोगों की सुविधा के लिए इसको हिंदी में उपडेट कर रहा हूँ. हमारा ईमेल कुछ इस प्रकार से था-
महाशय,
माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने दिल्ली के 50 लाख मजदूरों के हित में 14 अक्टूबर 2019 को न्यूनतम मजदूरी मामले में ऐतिहासिक फैसला दिया. जिसके बाद दिल्ली सरकार के श्रम विभाग ने अदालत के आदेश का पालन करते हुए 22 अक्टूबर 2019 को एक अधिसूचना जारी की. जिसके अनुसार दिल्ली का वर्तमान न्यूनतम वेतन इस प्रकार तय किया गया है-
अकुशल – 14842 / महीना
अर्ध-कुशल- 16341 / महीना
कुशल- 17991 / महीना
अत्यधिक कुशल – 19572 / महीना.
आपके श्रम विभाग की 22 अक्टूबर 2020 की अधिसूचना जारी होने के बावजूद, श्रम आयुक्त कार्यालय, दिल्ली सरकार की आधिकारिक वेबसाइट आज तक अपडेट नहीं किया गया है. इसके अनुसार अभी भी वर्तमान न्यूनतम मजदूरी दर निम्नानुसार दिखा रहा है-
अकुशल – 14000 / महीना
अर्ध-कुशल- 15400 / महीना
कुशल- 16962 / महीना
अत्यधिक कुशल – 18462 / महीना.
दिल्ली के बहुत सारे मजदूरों को इसी को आधार बना कर भुगतान किया जा रहा है. मालिक लोग मजदूरों को न केवल गुमराह कर रहें बल्कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ कम भुगतान भी कर रहें हैं.
इसलिए आपसे अनुरोध है कि दिल्ली के सभी मजदूरों के हित में आप अपनी ऑफिसियल वेबसाइट को जल्द से जल्द अपडेट करें. आपकी सुविधा के लिए वेबसाइट का लिंक नीचे दे रहा हूँ.

धन्यबाद,
भवदीय,
————-
नई दिल्ली

Current Minimum Wages in Delhi 2020 असल में कितना हैं Watch on YouTube

इसके बाद हमने लेबर कमिशर ऑफिस में कॉल करके Dr. Rajender Dhar, Additional Labour Commissioner/ Director (Industrial Safety & Health) को भी इस मैटर से अवगत करवा दिया. ताकि वो जल्द से जल्द इसको उपडेट कर सकें. आप लोगो भी ऊपर दिए ईमेल के अनुसार खुद से भी भेजिए ताकि उनके ऊपर दबाव बन सकें. ऐसे यह बहुत बड़ा काम नहीं हैं. मगर अगर अब भी लेबर विभाग इसको सुधार नहीं करता तो समझिये कि यह उनके मिली भगत से जानबूझ कर ऐसा किया गया हैं ताकि मालिक को फायदा मिल सके.

यह भी पढ़ें-

Share this

यदि आपके पास वर्कर से सम्बंधित हिंदी में कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे तुरंत ही email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें .

2 thoughts on “Current Minimum Wages in Delhi 2020 असल में कितना हैं”

  1. ji kuch nhi krenge ab u.p me sarkar nhi rahegi yeh sure hai..may b govt. Sector me casual worker hu v.j.p kisi kaam ki nhi gareeb nhi gareebo ko htao yeh policy h inki..keedhey padenge in logo k ..bechare majdoor mare ja rhe h kaam kar kar ke inko na fark pdha h na padega..essey thik to purani sarkar thi kuch v tha kam se kam aas ummed to thi naukri ki..yeh v.j.p umeed b cheen legi..

    Reply

Leave a Comment