Lockdown में कर्मचारी को सैलरी मिलेगी या नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा

Lockdown में कर्मचारी को सैलरी मिलेगी या नहीं? सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. आपको याद होगा कि इससे पहले हमने अपने पहले की पोस्ट में ही जानकारी दी थी कि गृह मंत्रालय के आदेश 29 मार्च 2020 को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई हैं. आज हम आपको बतायेंगे कि कोर्ट ने इसकी सुनवाई में क्या कहा और क्या आदेश पारित किया गया.

Lockdown में कर्मचारी को सैलरी मिलेगी या नहीं?

देश में कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय आपदा घोषित कर लॉकडाउन की घोषणा की. जिसके बाद राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 सेक्शन 10(2)(l) में प्रदान की गई शक्तियों का उपयोग कर अध्यक्ष, राष्ट्रीय कार्यकारी समिति ने 24.03.2020- 14.04.2020 व् 14.04.2020- 03.05.2020 तक Lockdown का आदेश जारी किया हैं.

अब जैसे ही सरकार के तरफ से Lockdown का आदेश जारी हुआ, वैसे ही देश के अलग-अलग शहरों में रहने वाले प्रवासी मजदूर परिवहन की सुविधा बंद होने से हजारों को संख्या में  गांव के तरफ पैदल ही जाने लगें. जिससे कोरोना के संक्रमण का खतरा बढ़ गया.

देश की इस हालत को ध्यान में रखकर गृह मंत्रालय ने भयावह स्थिति से निपटने के लिए 29.03.2020 को एक आर्डर जारी किया था. जिसके अनुसार “कोई भी नियोक्ता किसी भी कर्मचारी का Lockdown अवधि के दौरान न तो Salary देने में देरी करेगा और न ही कटौती ही करेगा”.

सरकारी आदेश के वावजूद नियोक्ता के द्वारा मजदूरों को न तो Salary ही रही है बल्कि उलटे नौकरी से निकाला जा रहा हैं. जो कि गृह मंत्रालय के आदेश का सरासर उल्लंघन हैं. जबकि इसके खिलाफ कंपनी मालिकों का कहना हैं कि बिना उत्पादन के वो वेतन का भुगतान कैसे करे?

अब जिन लोगों को Lockdown  के दौरान सैलरी में कटौती की गई या सैलरी नहीं दी गई. उनके लिए उपरोक्त सर्कुलर में Complaint करने के अथॉरिटी का नाम दिया गया हैं. जिसके बाद आपके Employer के ऊपर क़ानूनी करवाई की बात कही गई हैं.

गृह मंत्रालय ने सर्कुलर 29.03.2020 को आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के तहत जारी किया हैं. जिसका उल्लंघन करने वालों के लिए नियमानुसार जेल का प्रावधान हैं.

Lockdown Me Salary को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियां, लेख और प्रेरणादायक विचार के लिए विजिट करें - HindiChowk.Com

हमने आपको पिछले आर्टिकल में ही बताया था कि महाराष्ट्र की नागरीका एक्सप्रोर्टर ने सुप्रीम कोर्ट में गृह मंत्रालय के उक्त आर्डर को चुनौती दी हैं.  एक ही मैटर के लिए बहुत सारी कंपनियों ने याचिका लगाईं हैं. ऐसे में आपसे में टकराव नहीं हो इसलिए नागरीका एक्सप्रोर्टर ने अपने केस वापस ले लिया. उनका कहना हैं कि जो भी आर्डर आएगा सभी के लिए मान्य होगा.

केंद्र सरकार के इस आदेश के खिलाफ लुधियाना की MSME बॉडी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है. 41 सदस्यों वाली हैंड टूल्स एसोसिएशन ने कहा है कि सरकार का यह आदेश मनमाना, तर्कसंगत न होने के साथ ही भेदभाव पैदा करने वाला है और उत्तरदायी बनाने के लिए असंवैधानिक है.

कोरोना के चलते हुए लॉकडाउन से 25 मार्च से इंडस्ट्रीज पूरी तरह से बंद पड़ी हैं और कोई काम नहीं हो रहा है. हम लोग कर्मचारियों को अप्रैल की तनख्वाह देने में सक्षम नहीं हैं. बंद होने की वजह से हम ना ही घरेलू बाजार में उत्पाद बेच पा रहे हैं और न उन्हें एक्सपोर्ट कर पा रहे हैं. एसोसिएशन के सदस्य Micro, Small और Medium Enterprises हैं.

एसोसिएशन ने सुप्रीम कोर्ट में संविधान के सेक्शन 32 के तहत याचिका दायर की है जिसमें डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 के सेक्शन 10(2)(I) को चुनौती दी गई है. याचिका में कहा गया है कि डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 केंद्र सरकार को यह अधिकार नहीं देता है कि वह लॉकडाउन में प्राइवेट संस्थानों को वर्कर्स को पूरा वेतन देने के लिए बाध्य करे.

जिसके बाद सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में एमएसएमई सहित कई निजी प्रतिष्ठानों ने गृह मंत्रालय के लॉकडाउन के दौरान अपने कर्मचारियों को पूर्ण वेतन का भुगतान करने के लिए आदेश को ख़ारिज करने की मांग की थी. जिसपर माननीय कोर्ट ने कॉर्पोरेट्स को तत्काल राहत देने से इंकार कर दिया.

Lockdown में कर्मचारी को सैलरी मिलेगी या नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा

Lockdown me Salary मामले में फिलहाल मालिक को राहत नहीं

यह देश के लाखों मजदूरों के लिए राहत की खबर हैं. मालिकान चाहते थे कि कोर्ट के द्वारा गृह मंत्रालय के उक्त आदेश को तत्काल रोक लगाईं जाए. जबकि उनकी इस अपील को सुप्रीम कोर्ट ने फिलहाल ठुकरा दिया हैं. हालाँकि, माननीय कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर मालिकों के याचिका पर जवाब फाइल करने के लिए 2 हफ्ते का समय दिया है.

अब सुप्रीम कोर्ट के द्वारा कंपनी को स्टे नहीं दिए जाने का मतलब हैं यह हुआ कि अगली सुनवाई के लिए 2 हप्ते का टाइम दिया गया है. जो कि हर हाल में 10 मई के बाद का ही होगा. अब जैसा कि नियम के अनसार हर हाल में अप्रैल महीने की सैलरी 07-10 मई 2020 के बीच सैलरी मिल जानी चाहिए. इसका मतलब साफ़ हैं कि अभी फिलहाल एम्प्लायर को हर हाल में अप्रैल महीने का सैलरी देना हैं.

दोस्त, हमें भी सरकार को इस केस के बारे में सुझाव भेजने चाहिए कि “Lockdown में कर्मचारी को सैलरी क्यों मिले “? आप अपना राय नीचे कमेंट में लिखकर भेज सकते हैं. जिसके बाद आपके सहयोग से सरकार को ईमेल करेंगे ताकि सरकार मजदरों की बात सुप्रीम कोर्ट में मजबूती से रख सके और हमें जीत मिले. धन्यबाद.

यह भी पढ़ें-

Share this

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए (यहाँ Click) करें.

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

33 thoughts on “Lockdown में कर्मचारी को सैलरी मिलेगी या नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा”

  1. नमस्कार सर मेरा नाम संदीप संगत है आपके माध्यम से यह बताना चाहता हूं कि मैं एक प्राइवेट कर्मचारी हूं न कोई ईपीएफ है ना ही कोई esi ही है ना किसी तरह की कोई सुविधा है लॉक डाउन में मालिक ने पिछले महीने हमारी 11000 सैलरी में से 8000 सैलरी हमें दी है अतः आपसे अनुरोध है कि हमारी परेशानी को सरकार तक पहुंचाई जाए जिससे सरकार हम लोगों का भी पक्ष रख सकें और सुप्रीम कोर्ट कोई फैसला दे सके बहुत सी कंपनियां तो ऐसी भी होती है कि सुप्रीम कोर्ट का भी पालन नहीं करती है उसके आदेश का पालन नहीं करती है पहले भी सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि सभी की दिल्ली में न्युनतम 14800 सैलरी होनी चाहिए जो कि हमें आज तक नहीं मिली आपसे यही गुजारिश है कि आप हमारी बात आगे पहुंचाऐंगे
    धन्यवाद

    Reply
    • संदीप जी, इसके लिए आप अपने एरिया के लेबर कमिश्नर ऑफिस में लिखित शिकायत लगायें.

      Reply
  2. Sir, aap ki videos bht acchi hai aur bht help karti hai.
    मेरा नाम जितेंद्र है और मैं कानपुर(उत्तर प्रदेश) का स्थायाई निवासी हूं और यहीं कानपुर में ही”भगत सिंह एंड संस” का employee हूं।
    मुझे मार्च का वेतन नहीं मिला था और 2 अप्रैल को मुझे काम पर ना आने के लिए बोल दिया गया था मैंने आपके (lockdown में salary ना मिलने पर क्या करे पार्ट1) वीडियो के अनुसार २२ अप्रैल को email se March keवेतन कि डिमांड की और २२ अप्रैल को ही वेतन मिल गया। इसके लिए आपको धन्यवाद
    इस ऑर्डर के अनुसार क्या मै अप्रैल के वेतन की डिमांड कर सकता हूं?
    क्या ये ऑर्डर सिर्फ आस्थयाई वर्कर्स लिए है स्थायाही के लिए नहीं?

    बताने की कृपा करे।
    धन्यवाद

    Reply
    • हमें जानकर ख़ुशी हुई. हाँ, बिलकुल कर सकते हैं. मगर महीना पूरा होने दीजिये और हमारे अपडेट्स पढ़ते रहिए और अपने साथियों को इसके बारे में बताइये.

      Reply
  3. Sir meri february ki salary abhi tak nhi mili h. Maine kai email kia unka dia hu check bhi 2 baar fail ho chuka h. Maine kai baar call bhi kia bat abhi tak mujhe februry ki salary nhi mili h. Salary shi se nhi milne ke karan Maine job bhi discountinue kar kr dia tha. But abhi tak Maine resign nhi dia h. Aishe m kya karu plese help me sir.

    Reply
  4. Sir,
    Me abhi 2 months ka resignation period bher reha hu aur Mera Company me 6 may 2020 ko notice period complete ho jaayega.
    Company ke HR Bolte h ki mujhe sirf 31 March Tak ki salary mile gi. Aur uske baad 6 may tak ki nahi . Abhi Tak mujhe March month ki salary bhi nhi di. Mere ko abhi bahut muskil ho gayi h.

    Reply
  5. Jo worker 5000 per month ki naukari karta hai uska kya Hoga.
    Jo worker 5000 rupaye mahina mein Apne Ghar parivar biwi bacche sab Ka kharcha uthata hai uska kya Hoga.
    Ek naukari private hai ek private se bhi private naukari unka kya hoga
    Jo without registered company hai unke worker ka kya hoga

    Reply
  6. Sir epfo 24 % ka bhugdaan karegi epf me jiske liye 15000 salary se kam honi chahiye lekin ye salary 15000 puri salary honi chahiye ya epf contribution ke liye jo salary pakadi jaati hai wo

    Reply
  7. Sir main utkarsh small finance company me kam karta hu jo ki main ghar se hi sabhi meeting ko shift karne ke liy branch se bola gaya tha who kam ham log ghar se kar rahe the jab hamlogo ko naukari chali jaygi ye kahkar branch bulaya gaya aur yaha aane ke bad ham sabhi ko malum Chala ki sallery nahi aygi ( Jab Bank ke liy ham log itne dino se jo seva de raha tha to hame bhi musibat ki iss ghari me hame bhi sallery milni chahiy)

    Reply
  8. Hi,

    Need your suggestions and clarifications on this
    I am not the only one who is facing this problem. Many people suffering from the same problem
    Our government given a statement that if anyone comes out of the company job then action will be taken on them in COVID -19 and denying the same and saying, the company management has ordered and is going at a loss then who the responsible. I am facing lot of problem in my life and I have shared my problem in many places but no update has come till yet.

    Reply
  9. Sir ,I am from jharkhand working here in a contract basis. My contract period was over on 31.03.2020.And they haven’t renewed it and not providing the salary for the month of April. Sir my question is in that case Can I get the salary for the month of april??
    Please sir reply

    Reply
  10. Dear Sir,
    I have not received salary from 24.03.2020 to 30.04.2020 after that as per your instruction I have send an email to our director but not answered. After 20 days I have complaint to labour commissioner as per your given format labour. And they had taken action very quickly. They notice my company and my principal employer also. After one day company’s hr call me and told me that my demand will be fulfilled when I withdrawn my notice. After that I have got 70% payment, rest payment will be credited in this month. But I afraid that after lockdown if company terminate me with or without notice period then what can I do?? Please suggest…… Thanks you.

    Reply
  11. Respected Sir I am sunil singh my company rajan Techno Cast Pvt.ltd shapar industrial area rajkot Gujarat 360024 MD dushyant patel sir salary not pay please help me sir .I need my salary please help me sir. dushyant patel sir md mobile number 9824303546 .MD sir number 9687697702 .please help me sir. I need my salary please help me sir.Respected Sir 
    I was working in rajan Techno Cast Pvt.ltd shapar industrial area rajkot Gujarat 360024 
    I was told I will be given appointment letter and my documents with 6 month of joining 
    But after telling them again and again . I have signed a bond for 2 years but I was harrassing all people from up .mp. Bihar .West bangal. delhi odisha .rajasthan .Gujarat. mahararast To work 
    And he is beating the employees and threatening the people to work for him 
    The company is illegal in , not giving any one appoint letters and he was kept all employees original documents everybody is fearing from him. He is giving money to local police also shapar veraval police station 
    No Id card and no letters 
    Hr managers are also involved in fraud recruitment namely Chandra shekhar and viral 
    Kindly help Sir I am big distress in my life .I was worked hard for 33 years of my life and now he has taken my documents 
    Company give me my aadhar card original my 3 month hold salary 140000 every month retention money 2000 give me sir please inquiry company no giving pf esi . please help me sir my salary not pay why .total salary 140000 please provided my salary please help me. I need my salary .please help me sir

    Reply
  12. नमस्कार सर मेरा नाम पूनम मौर्य है आपके माध्यम से यह बताना चाहती हूं कि मैं एक प्राइवेट कर्मचारी हूं न कोई ईपीएफ है ना ही कोई esi ही है ना किसी तरह की कोई सुविधा है लॉक डाउन में मालिक ने मार्च की हाफ सैलरी हमें दी है और उसके बाद अप्रैल, मई की सैलरी नहीं दी। सर मार्च में ही मेरे पति को ओरल कैंसर का पता चला और उनका इलाज़ भी स्टार्ट हो गया उनके इलाज़ में 3 लाख से ऊपर पैसा खर्च हो गया उनका इलाज़ अभी भी जारी है।इस मुश्किल समय में सैलरी भी नहीं मिल रही हैं हम अपना जीवनयापन कैसे करें। आप से विनती है कि हमारी परेशानी को सरकार तक पहुंचाई जाए जिससे सरकार हम लोगों का भी पक्ष रख सकें और सुप्रीम कोर्ट कोई फैसला दे सके बहुत सी कंपनियां तो ऐसी भी होती है कि सुप्रीम कोर्ट का भी पालन नहीं करती है उसके आदेश का पालन नहीं करती है पहले भी सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि सभी की दिल्ली में न्युनतम 14800 सैलरी होनी चाहिए जो कि हमें आज तक नहीं मिली आपसे यही गुजारिश है कि आप हमारी बात आगे पहुंचाऐंगे
    धन्यवाद

    Reply
    • आप पीएफ के लिए पीएफ कमिश्नर और ईएसआई के लिए ईएसआई वजीलेंश विभाग को कम्प्लेन कीजिये. इसकी पूरी जानकारी हमारे ब्लॉग पर मौजूद हैं.

      Reply
  13. सर, मै लखनऊ निवासी हूं ,और सुलतानपुर के एक प्राइवेट स्कूल में कार्यरत हूं, मेरे स्कूल के प्रबंधक ने मुझे फरवरी, मार्च , अप्रैल, मई की सैलरी अभी तक नहीं दी h, कृपया मदद करे,
    और ये भी बता दीजिए की क्या सरकार का आदेश मई की सैलरी देने के लिए है???

    Reply
    • आप अपने स्कुल से लिखित में सैलरी की मांग करें और नहीं दें तो डीएम और शिक्षा विभाग में शिकायत करें.

      Reply
  14. hello sir me or meri family covid-19 positive hue the 28 june,2019 to 21 july ,2019 is doran hume home isolate kiya gya tha jis bajah se me office bhi nahi jaa paya tha or isi karan bas meri company ne mujhe salary b pay nahi kari hai . To abhi aisa koi rule ya order h kya ki home quarantine period me company ko salary payment karni padegi apne employee ko kripya karke mujhe guide kare please sir

    Reply
    • जी आप थोड़ा समय दें. हमारे इसी ब्लॉग पर जानकारी उपडेट की जाएगी

      Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!