यूपी कॉन्ट्रैक्ट वर्कर की मीटिंग, सभी विभागों को एकजुट करने की की पहल

यूपी: आगामी 25 फरवरी 2018 को अखिल भारतीय संविदा कर्मचारी महासंघ उत्तर प्रदेश में राज्य स्तरीय बैठक का निर्णय लिया है. इस मीटिंग में महासंघ ने विभिन्न विभागों में ठेका व् संविदा के यूनियन प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया है. जानकारी के अनुसार मीटिंग सुबह 10 बजे डिप्लोमा संघ भवन, हजरतगंज, निकट राज्यपाल भवन के दूसरे गेट के सामने, लखनऊ, उत्तर प्रदेश में आयोजित की गई है. महासंघ सभी विभागों के कर्मचारियों को एक मंच पर लाकर सरकार के ऊपर ठेका सिस्टम को समाप्त कर संविदाकर्मियों को रेगुलर करने और नौकर से निकाले वर्कर को वापस काम पर रखने का दबाब बनायेगी.

यूपी कॉन्ट्रैक्ट वर्कर की मीटिंग

संघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री ए.पी. सिंह ने बताया कि हमारी कोशिश है कि अधिक से अधिक यूपी कॉन्ट्रैक्ट वर्कर विभागों के यूनियन/संघ प्रतिनिधि इस मीटिंग में भाग लें. यह मीटिंग मूलरूप से उत्तर प्रदेश के विभिन्न विभागों में संविदा पर तैनात संविदा कर्मचारियों के शोषण के खिलाफ एक ठोस रणनीति बनाकर नियमतिकरण की मांग और नौकरी से निकाले गए कर्मचारियों को वापस रखने की मांग के लिए है.
अगर आप में से कोई भी साथी प्रदेश में किसी भी विभाग में संविदा/ठेका कर्मचारी के रूप में कार्यरत है तो इस मीटिंग में अवश्य सम्मलित हों. इसके लिए आप सीधे श्री ए.पी. सिंह से उनके मोबाइल नंबर 9412474931 पर संपर्क कर सकते हैं या सीधे 25 फरवरी 2018 को उक्त पते पर पहुंच सकते हैं. अगर आप इस मीटिंग में भाग लेना चाहते हैं तो सीधे इस पोस्ट के नीचे कमेंट बॉक्स में अपना नाम और नंबर लिखकर सूचित कर सकते हैं.

दिल्ली के अलग-अलग विभाग के 22+ संगठनों को एक मंच पर

हम तो कहेंगे कि यह बेशक अच्छी पहल है. आज हम हर विभाग में अपनी-अपनी विभागीय लड़ाई लड़ कर जीत हासिल कर भी लेते हैं मगर वह जीत कुछ दिनों के लिए ही होती है. कभी हमारी यूनिटी तोड़ कर तो कभी सुप्रीम कोर्ट तो कभी अन्य कोर्ट के नाम पर हमसे हक़ छीन लिया जाता है. इसका मुख्य कारण ठेका अधिनियम की कुछ खामी है. जिसको ठीक करवाने की जरुरत है. इसके लिए पिछले वर्ष दिल्ली में हमने भी अभियान शुरू किया था. जिसके बाद दिल्ली के अलग-अलग विभाग के 22+ संगठनों को एक मंच पर लाकर दो बड़े प्रदर्शन भी किया है.

यह भी पढ़ें-

Share this

यदि आपके पास वर्कर से सम्बंधित हिंदी में कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे तुरंत ही email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें .

Leave a Comment