Unemployment Benefits – Company अगर Job से Terminate करे तो ESIC साथ दे

हम सभी लोग बेरोजगारी से भली -भांति परिचित होंगे. ऐसा कोई भी नहीं है जो घर में बेकार बैठना चाहता है. अगर आप किसी Company, Factory या Organization में Work कर रहे हों और आपकी Company या Factory  के बंद होने, छटनी या चोट की वजह से स्थाई विकलांकता के कारण Unemployment का मुंह देखना पड़े तो क्या करेंगे?  आज ESIC के एक Scheme -Unemployment Benefits की Information देने जा रहे हैं.

Unemployment Benefits -ESIC Scheme

सबसे पहले सवाल यह उठता है कि Unemployment होता क्या है? तो दोस्त बता दूं कि जब देश में काम करने के इक्छुक होते हुए भी प्रचलित मजदूरी पर कार्य नहीं मिलता, तो उस विशेष अवस्था को ‘बेरोजगारी’ (Unemployment) की संज्ञा दी जाती है. ऐसे व्यक्तियों का जो मानसिक एवं शारीरिक दृष्टि से कार्य करने के योग्य और इच्छुक हैं परंतु जिन्हें प्रचलित मजदूरी पर कार्य नहीं मिलता, उन्हें ‘Unemployed’ कहा जाता है.

Unemployment Benefits – Company अगर Job से Terminate करे तो ESIC साथ दे

आपकी Company या Factory के बंद होने, छटनी या चोट की वजह से स्थाई विकलांकता के कारण Unemployment के लिए सरकार की स्कीम की जानकारी दें रहें हैं. आप इसका लाभ कैसे लें सकते हैं, यह जानने के लिए इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें.

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियों का संग्रह - हिंदी चौक डॉट कॉम


राजीव गांधी श्रमिक कल्याण योजना (Unemployment Benefits)

किसी भी Employee के Job की हानि होने पर राजीव गांधी श्रमिक कल्याण योजना के अंतर्गत जीवन काल में अधिकतम 12 महीने तक वेतन का 50 फीसदी Unemployment Allowance के रूप में दिया जाता है.

इस Unemployment Benefits Scheme की शुरुआत 04.01.2005 को की गई थी. एक बीमित व्यक्ति अगर तीन या अधिक वर्षों बीमित होने के बाद Unemployed हो जाते हैं, तो इस Scheme के हकदार होते हैं. इस Scheme का Benefits कारखाना / स्थापना , छंटनी या स्थायी अपंग व्यक्ति के बंद करने के स्थिति में मिलता हैं. बीमित व्यक्ति को एक वर्ष की अधिकतम अवधि के लिए Wages का 50 % के बराबर Unemployment Allowances दिया जाता है.

बीमित व्यक्ति को इस अवधि के दौरान ESI Hospitals/ Discrepancy से स्वयं और Family  के लिए Medical Facility Benifits, व्यावसायिक प्रशिक्षण कौशल उन्नयन के लिए प्रदान – ESI द्वारा वहन शुल्क / यात्रा भत्ता पर व्यय, विकलांग व्यक्तियों के लिए नियमित रूप से Job उपलब्ध कराने के लिए निजी क्षेत्र में नियोक्ताओं को प्रोत्साहन, मिलता है. इस Scheme का ESIC लाभ प्राप्त करने के लिए शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के लिए न्यूनतम मजदूरी सीमा 25,000 / – है. नियोक्ता के अंशदान को 3 साल के लिए Central Government  द्वारा Payment किया जाता है .


अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना (Unemployment Benefits) : केंद्र सरकार द्वारा नये योजना की घोषणा 

Employees’ State Insurance Corporation (ESIC) ने कर्मचारी राज्य बीमा अधिनियम के तहत बीमाकृत व्यक्तियों के लिए अटल बीमित व्याक्ति कल्याण योजना नाम की एक नई Scheme को मंजूरी दे दी है. नई दिल्ली में श्रम मंत्री संतोष गंगवार की अध्यक्षता में ESIC Board 175वीं बैठक में 18.08.2018 को यह Decision लिया गया.

अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना का Benifits

ESIC के अनुसार बीमाकृत व्यक्ति के आश्रितों के लिए सुपर स्पेशियलिटी उपचार का लाभ उठाने की योग्यता अब 156 दिनों के योगदान के साथ एक वर्ष के बीमा के तहत रोजगार के लिए छूट दी गई है.जानकारी के लिए बता दें कि ESIC ने बीमाकृत व्यक्ति की मृत्यु पर अंतिम संस्कार व्यय की मौजूदा राशि 10 हजार रुपये से बढाकर 15 हजार रुपये करने की मंजूरी दे दी हैं. आज हम इस बीमा योजना के बारे में आपको विस्‍तार से बताते हैं.

इस बीमा योजना का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर “अटल बीमित व्याक्ति कल्याण योजना” रखा गया है. इस योजना के तहत पैसा सीधे आपके Bank Account में आएगा. इस Scheme का Benefits लेने के लिए आपको ESIC Act के तहत बीमित होना चाहिए. इस Scheme से जुड़ी पूरी Information, शर्तें और Application Format जल्‍द ही जारी किया जाएगा.

ESIC ने अपने Database में आधार सीडिंग के लिए कंपनियों को 10 रुपए प्रति व्‍यक्ति Reimbursement देने का भी फैसला लिया है. इसका Benefits नई Job मिलने तक मिलेगा. Scheme के तहत हर महीने कितने रुपए दिए जाएंगे इसका अभी कोई जिक्र नहीं किया गया है. साथ ही इसके जरिए एक से ज्‍यादा Registration पर लगाम लगेगी.

इसके अलावा सुपर स्‍पेशियलिटी ट्रीटमेंट की सुविधा अब नौकरी के 78 दिन बाद मिल सकेगी. इसके पहले 2 साल 6 महीने की सीमा थी. यदि बीमित व्‍यक्ति का निधन होता है तो उसके दाहसंस्‍कार के लिए अब 10 हजार रुपए के बदले 15 हजार रुपए दिए जाएंगे. इस योजना में 2.93 करोड़ लोग कवर हैं जिसके तहत लाभार्थियों की संख्‍या 12.4 करोड़ रुपए है.

आपको बता दें कि कर्मचारी राज्य बीमा निगम योजना हेल्‍थ इंश्‍योरेंस के साथ सोशल सिक्‍योरिटी का भी लाभ देती है. ये ऐसे लोगों के लिए लॉन्‍च की गई है जिनकी मासिक आय 21 हजार रुपए से कम है. Scheme के तहत कंपनी 4.75 प्रतिशत और कर्मचारी 1.75 प्रतिशत योगदान देता है. इसके तहत व्‍यक्ति और उसके परिवार को मेडिकल बीमा की सुविधा मिलती है. यह योजना सरकारी फैक्‍ट्री, रोड ट्रांसपोर्ट, होटल रेस्‍टोरेंट, सिनेमा, न्‍यूज पेपर जैसी इंडस्‍ट्री के लिए हैं. साथ ही यहां पर 10 से अधिक कर्मचारी होंगे तभी लाभ मिलेगा.

Unemployment Benefits – Company अगर Job से Terminate करे तो ESIC साथ दे, मगर कैसे?

Unemployment Benefits- लेने के लिए किन-किन बातों का ख्याल रखें

मगर आपको सरकार द्वारा दी गई इस सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए कुछ सावधानी बरतनी होगी. यह बाते न तो आपको किसी अन्य वेवसाइट पर मिलेगी और न ही जिस के द्वारा पहले बताई जाएगी. मगर हां, जब आप कभी कुछ इस तरह की परिस्थिति में फंसेगे तो यह जानकारी आपके बहुत काम आयेगी. अगर आप कुछ गलती कर देंगे तो हमें नहीं लगता की आपके लाख कोशिश करने के बाद भी यह Unemployment Benefits आपको नहीं मिल पायेगा.

  • ऊपर जैसा की बताया गया है कि यह सुविधा उन्ही हो मिलेगा, जिन्होंने ESI में रजिस्टर्ड हैं यानि ESIC का कार्ड हैं.
  • अगर आपके पास ESIC Card है तो कंपनी बदलने पर उसी Card का Detail नई कंपनी को दें ताकि आपके Card की अवधि बढ़ती रहे.
  • यह Unemployment Benefits आपको कंपनी से निकालने वालों को मिलती है इसके लिए आपको नौकरी से निकालने का प्रमाण यानी टर्मिनेशन लेटर (Termination Letter) जरुरी है.
  • हां, अगर आपने अपने Termination को चैलेंज किसी Form या Court में कर रखा है या करने की सोच रहे हैं तो गलती से भी इसके लिए Apply न करें.अभी Government द्वारा स्पष्ट नहीं किया गया है कि उपरोक्त दोनों Scheme चालू रहेगा या दोनों में से कोई एक. इस बारे में कोई भी Information मिलने पर हम आपको अपने इसी Blog के माध्यम से सूचित करेंगे. इसके लिए आपसे अनुरोध है कि इस Post के सबसे नीचे Email Subscription Box बॉक्स में अपना Email Id Submit कर Free Subscribe कर लें. इस Post को हर साथी के साथ शेयर करें, क्योकि क्या पता आपका एक शेयर किसी जरुरतमंद के काम आ जाए. 
यह भी पढ़ें-
Share this

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए (यहाँ Click) करें.

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

7 thoughts on “Unemployment Benefits – Company अगर Job से Terminate करे तो ESIC साथ दे”

  1. Main company mein kaam Kiya aur payment 5 Mahina Ho Gaya payment nahin diya to uska application aur labour commissioner ko kis tarah denge. Guwahati mein kiya tha kya Guwahati ja kar dena padega

    Reply
  2. dear sir,
    I am om (sr engineer) has worked in R&D department for 7 yrs in automotive company of india on contractual basis (Third party). Though it was third party role, Its like permanant job for me. In sept ,there was opportunity in another 3 wheelar organisation through onward technology LTD which was going to outsorced me.
    As i was working in less payment from last 7 yrs, i decide to face interview first. After face to face interview, I was the perfect candidate for this company and comapny was ready to pay me 45% finantial hike which ends my feeling of underpayment from last 7 yrs.
    But, I have discussed with onward technology Hr manager regarding job security. I asked, if this contract ends in coming months what will be the your strategy. HR manager ensured that i will be the permentant employee of onward and Comapny will take care of you because comapny haveing sufficent projects to take care of their employees. Now, My HR manager has changed. They serve me notice on 23 march2020 to end this job.
    I really very confused because they serve me notice in probation periode. may i fight against comapny as it cheat me. I lost my earlier job and now I am at home in pain. Please help me to come out from this situation.

    Thanking you,

    Reply
  3. सर मैंने 2013में एक बैंक में काम किया था और अब मैंने जॉब छोड़ दी तो सर जो फण्ड और pf उसमें बनता है तो सर बैंक वालों ने फण्ड और प f जमा नहीं किया जिससे कि वो पैसा निकल नहीं पा रहा है कृपया मेरी मदद करो जिससे कि जो पैसा फसा है वो निकल आये l

    Reply
    • आपका पैसा अगर जमा ही नहीं किया तो निकलेगा कैसे. हाँ मगर आपके सैलरी से कटौती कर पीएफ विभाग में जमा नहीं करवाया तो यह अपराध हैं. आप अपने एरिया के पीएफ कमिश्नर ऑफिस में लिखित शिकायत करें.

      Reply

Leave a Comment