दिल्ली न्यूनतम वेतन – सुप्रीम कोर्ट में 7 अगस्त 2019 की सुनवाई में क्या हुआ

आज दिल्ली न्यूनतम वेतनसुप्रीम कोर्ट में 7 अगस्त 2019 की सुनवाई में क्या हुआ होनी थी. आपलोगों को बेसब्री से इंतजार होगा कि आज की सुनवाई में क्या हुआ. ऐसे तो अपने यूट्यूब के माध्यम से शाम को ही उपडेट कर दिया था. जिसके बाद काफी लोगों की प्रतिक्रियाएं आई. आइये हम जानते हैं कि आज सुप्रीम कोर्ट में क्या हुआ.

दिल्ली न्यूनतम वेतन सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

आपको याद होगा कि 1 अगस्त 2019 को पिछली सुनवाई में मालिक पक्ष ने माननीय कोर्ट से कुछ कोर्ट में सबमिट करने के लिए समय मांग लिया था. जिसके बाद पुनः 7 अगस्त यानी आज की डेट दी गई थी. जिसके बाद हमलोगों को उम्मीद थी कि आज सुनवाई होगी.

मगर कोर्ट पर किसी का वश नहीं होता. कोर्ट अपने प्रोसेस से चलता हैं. पूर्व से निर्धारित दिल्ली न्यूनतम वेतन की सुनवाई कोर्ट नंबर 8 आइटम नंबर 18 के तहत होना था. मगर पूरा दिन मात्र 1 ही मैटर यानी मैटर नंबर 1 की सुनवाई में ही निकल गया. इसके बाद बाकी दूसरे केस के लिए समय ही नहीं मिला. इसके बाद कोर्ट कल यानी 8 अगस्त 2019 को डेट सुनवाई के लिए दिखा रहा हैं.

कुछ लोग कह रहें कि डेट पर डेट…मगर उनको कहना चाहूंगा कि एक दिन का डेट तो लेबर कोर्ट में भी नहीं मिलता. खैर, कब तक डेट मिलेगा. आज न कल फैसला आयेगा ही.

हम पहले की तरह उम्मीद करेंगे कि शायद कल सुनवाई हो जाए. हम आपको हरेक उपडेट से रूबरू करने की कोशिश करेंगे. जैसा की न्यूनतम वेतन तय होने से लेकर अभी तक पल-पल की सही और सटीक जानकारी दी हैं.

दिल्ली न्यूनतम वेतन : क्या मैटर हैं?

माननीय सुप्रीम कोर्ट ने 31 अक्टूबर 2018 को दिल्ली सरकार के याचिका पर सुनवाई कर दुबारा से मार्च, 2017 की अधिसूचना को मान्य कर दिया और सरकार को निर्देश दिया कि अभी फिलहाल उसी के तहत कामगारों को मजूदरी दी जाएगी. इसके बाद दिल्ली सरकार ने Supreme Court के आर्डर का पालन करते हुए Minimum Wages in Delhi Revised कर दिया है. जिसके बाद दुबारा से 37 प्रतिशत वृद्धि वाला न्यूनतम वेतन लागु हो गया.

दिल्ली का लेटेस्ट न्यूनतम वेतन क्या हैं?

माननीय सुप्रीम कोर्ट के आर्डर के बाद 1 Nov 2018 से दिल्ली राज्य में काम करने वाले मजदूरों का एक दिन का वेतन Un-skilled – 538.00, Semi-skilled – 592.00, Skilled -652.00, Non matriculates – 592.00, Matriculates but not Graduates – 652.00, Graduates and above – 710.00 से कम नहीं होगा. ठीक उसी तरह  Un-skilled – 14000.00, Semi-skilled – 15400.00, Skilled – 16962.00, Non matriculates – 15400.00, Matriculates but not Graduates – 16962.00, Graduates and above – 18462.00 रुपया प्रति माह से कम नहीं हो सकता है.
अगर इससे कम आपको मिलता है तो आप अपने एरिया के लेबर कमिश्नर ऑफिस में लिखित शिकायत दर्ज करवा कर न केवल दस गुना हर्जाने की मांग कर सकते हैं बल्कि अपने मालिक को मौजूदा कानून के अनुसार जुर्माना के साथ जेल की हवा भी खिला सकते हैं. अपने एरिया के लेबर कमिश्रर ऑफिस जानने के लिए हमारे इस पोस्ट को पढ़िए –Labour Ministry Delhi (दिल्ली श्रम मंत्रालय) जाने कौन क्या है और कहां करे शिकायत?
Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

2 thoughts on “दिल्ली न्यूनतम वेतन – सुप्रीम कोर्ट में 7 अगस्त 2019 की सुनवाई में क्या हुआ”

  1. Sir main ek company main 11 saal se kaam kar raha hu but mera kaam ab pehle wale kaam se alag hai jo main nahi kar pa raha hu aur company mujhe jabardasti job chodne ke liye ke rahi hai aur three months ka memo sign karwa rahi h kaam sahi nahi karne par three months baad nikal sakti hai mujhe 11 saal ka kya benefit milna chahiye aur main kya karu

    Reply
  2. Delhi Gazette over Delhi Minimum Wages Supreme Court Order

    boardhr.blogspot.com/2019/10/delhi-gazette-over-delhi-minimum-wages.html
    #Delhiminimumwages #minumumwages #supremecour

    Reply

Leave a Comment