Lockdown- सरकार ने मजदूरों की समस्या हल के लिए कंट्रोल रूम बनाया

आज सुबह 14 April 2020 के एक न्यूज पर नजर पड़ी कि Lockdown- सरकार ने मजदूरों की समस्या हल के लिए कंट्रोल रूम बनाया. सुनकर अच्छा लगा मगर तुरंत ही इसकी छानबीन की. यह इसलिए ताकि आपलोगों को इसके बारे में बता पायूँ. आज न केवल इनकी जानकारी दूँगा बल्कि यह कितना कारगर हैं वह भी बतायूंगा.

Lockdown – मजदूरों की समस्या हल के लिए कंट्रोल रूम?

हिंदुस्तान के अनुसार श्रम मंत्रालय एवं रोजगार मंत्रालय ने मजदूरों के वेतन संबंधी मुद्दे और उनकी समस्याओं के हल के लिए देशभर में 20 कंट्रोल रूम बनाए हैं. इसके साथ ही द प्रिंट ने कहा कि प्रधानमंत्री ने Lockdown की अवधि आगामी 3 मई तक के लिए बढ़ाने की घोषणा की हैं. जिसके कारण दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को सहायता देने के लिए हेल्पलाइन नंबर दिया गया हैं.

इन न्यूज पोर्टल के द्वारा दावा किया जा रहा हैं कि इन कंट्रोल रूम मुख्यता मजदूरों के वेतन और नौकरी से जुड़े समस्याओं की सुनवाई की जायेगी. इसके लिए पीड़ित मजदुर नियंत्रण कक्ष पर फोन नंबर, व्हाट्स एप और ई-मेल के जरिये संपर्क कर सकते हैं.

अब इसके बाद आती हैं हमारी बारी कि आखिर न्यूज कितना सच हैं. यह बात सही हैं कि अभी तक लाखों लोग इस न्यूज को पढ़ चुके होंगे. ज्यादातर लोग Control Room नंबर ढूंढ़ रहे होंगे. हमारा फर्ज बनता हैं कि आपको यह जानकारी दें. इसलिए पूरी छानबीन साथ हाजिर हैं.

थोड़ी देर मेहनत करने के बाद पुरे देश के लिए बने Labour Department का Control No को भी ढूंढ निकाला. आपमें से कौन-कौन लोग यहाँ Complaint कर सकते हैं. उसपर किस तरह से करवाई की जायेगी आदि सभी बातों की पूरी हकीकत बताने जा रहा हूँ.

Control Rooms to deal with complaints/distress calls in Central Sphere

Contact List Click Here

आप इस Control Room में कॉल करने से पहले कुछ मख्य बातें जान लें-
  1. यह कण्ट्रोल रूम पुरे देश में Center Sphere  के 20 Zone के अनुसार बनाया गया हैं.
  2. आप जब आपको अपने एरिया के अनुसार दिए नंबर पर ईमेल/कॉल/व्हाट्सप्प के द्वारा शिकायत कर सकते हैं.
  3. उपरोक्त Numbers पर केवल Central Government  के अन्तर्गत काम करने वाले कर्मचारी की शिकायत सुनी जा सकेगी.
  4. अगर आप किसी राज्य के अंदर किसी राज्य सरकार के विभाग, किसी प्राइवेट दूकान, फैक्ट्री, आदि में काम करते हैं तो यह इनके अधिकार क्षेत्र से बाहर आएगा. हाँ ये बहुत करेंगे तो आपके एरिया के सम्बंधित अधिकारी को आपका Complaint फॉरवर्ड कर देंगे.
  5. अगर आप सेन्ट्रल गवर्नमंट के किसी भी विभाग में कॉन्ट्रैक्ट वर्कर, आउटसोर्स वर्कर, डेलीवेजर, कैसुअल वर्कर के रूप में काम करते हैं तो आप उपरोक्त नंबर पर शिकायत कर सकते हैं.

Labour Department के Control Number पर Complaint कैसे करें?

जैसे की ऊपर बताया कि आपको Complaint करने के लिए सम्बंधित DLC(C)/RLC(C)/ALC(C)/(LEO) का मोबाइल नंबर/ईमेल आईडी/ व्हाट्सप्प नंबर दिया गया हैं. इसके बारे में हम आपको सुझाव देंगे कि आप पहले अपने एरिया के सम्बंधित सभी अधिकारियों को (To: email Id ) में लगाकर ईमेल भेजें.

अब अपने ईमेल का PDF Copy बना लें और उसका कॉपी इनके व्हाटएप्प नंबर पर भेज दें.

इसके बाद आपको खुद पता चल जायेगा कि उन्होंने आपके व्हाट्सप्प मैसेज को पढ़ लिया है तब या फिर नहीं भी पढ़ा तो 1 दिन के बाद मोबाइल पर कॉल कर अपने Complaint के बारे में बात कर लें.

आपके Complaint पर लेबर विभाग किस तरह करवाई करता हैं?

अब यहां आपको जानना बहुत जरुरी हैं कि आपके Complainant के बाद लेबर विभाग किस तरह करवाई करता हैं. आप जैसे ही Complaint करते हैं तो आपका Complaint प्राप्त होने के बाद लेबर विभाग आपके Company को नोटिस कर बुलाता हैं.

उसके बाद जरुरत हुआ तो मांग कर या छापा मारकर कंपनी का रिकॉर्ड जपत करता हैं और उसके बाद अगर  कानून का उलंघन पाया गया तो चालान करेगा फिर या केस फाइल करेगा. इसके आलावा कई अन्य मैटर जैसे नौकरी से निकालने आदि में श्रम मंत्रालय के द्वारा लेबर कोर्ट में रेफेरेंस के लिए भेज दिया जाता हैं.

Lockdown- सरकार ने मजदूरों की समस्या हल के लिए कंट्रोल रूम बनाया

हमारा सुझाव-

मगर अभी पुरे देश में Lockdown  हैं. सभी कल कारखाने, ऑफिस बंद हैं यही नहीं बल्कि लेबर विभाग का ऑफिस खुद ही बंद हैं. हमें नहीं लगता कि ऐसे में लेबर विभाग के द्वारा त्वरित कड़ी करवाई की जायेगी. हम आपको सुझाव देंगे कि अगर आप Central Government के अंतर्गत आते हैं तो आप यहाँ नौकरी से निकालने की कम्प्लेन अवश्य करें.

इसके अलावा पूरी सैलरी नहीं देने, सैलरी आदि कटाने के लिए भी कर सकते हैं. मगर इसमें क्या करवाई और कब तक करवाई करेंगे यह कहना मुश्किल ही लगता हैं.

आपको अपने पुराने पोस्ट में बताया था कि केंद्र सरकार Lockdown के दौरान प्राइवेट कर्मचारियों को पूरी सैलरी देने का निर्देश (Click Here) दिया हैं. अब अगर ऐसे में आपको सैलरी नही दें, कटौती कर ले तो इसके बारे में भी बताया था कि केंद्र सरकार के सर्कुलर दिनांक 29 मार्च 2020 के अनुसार Lockdown में सैलरी न मिले तो क्या करें, Complaint करने से पहले ये करें. (Click Here).

Click Here for Contact Numbers 

यह भी पढ़ें-

Share this

यदि आपके पास वर्कर से सम्बंधित हिंदी में कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे तुरंत ही email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें .

12 thoughts on “Lockdown- सरकार ने मजदूरों की समस्या हल के लिए कंट्रोल रूम बनाया”

  1. Iska matlab to yeh hua Sir ki Delhi govt ke antargat aaye department me karya kar rahe karmchariyo ki Koi sunvai Nahi hogi Aur shayad salary ka bhi Koi bharosa Nahi kiya ja sakta he.

    Reply
  2. Sir ye to unky lia h jo central. Govt. K under work krty h unky lia h but hm kha complaint krey agr km tata company k 3rd party process me work krty h or company abscond k notice bhej rhi h too

    Reply
  3. Sir mujhe bina termination leather diye bina job se nikal diya aaur salry bhi nahi diya mai quya karu please btaye

    Reply
  4. Sir Mai Gujarat ke Export company me worker hu or Mai lockdown se pahale 10 days ka chhuti liya tha ab company ka manager mujhe job se nikalane ka dhamaki Diya jab hum April month ke salary ke bare me bola

    Reply
  5. Sir what is for cbse private school teachers I have send my compllain but they transfer the matter to state government and state government saying sikchak karmkaar ki shreni me nahi aate now what to do

    Reply

Leave a Comment