[Apply] Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana | बिहार बाढ़ सहायता योजना 2021

बिहार सरकार द्वारा बाढ़ पीड़ितों को बिहार बाढ़ सहायता योजना (Bihar badh Rahat sahayata Yojana) के द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाती हैं। जिससे वो अपने बाढ़ से नुकसान की भरपाई कर सकें। हालाँकि यह राहत से उनके सभी प्रकार के नुकसान की भरपाई तो संभव नहीं है। मगर कुछ समय के लिए थोड़ी राहत मिल सकती है। आज हम अपने इस आर्टिकल में बिहार बाढ़ सहायता योजना में अप्लाई कैसे करें की पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे। जिसमें  Bihar badh Rahat sahayata Yojana apply online, documents, eligibility आदि शामिल है।

Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana क्या है?

बिहार राज्य में भारी बारिश के कारण हर वर्ष बाढ़ की समस्या उत्पन्न हो जाती है और इससे आम जनता एवं गरीब परिवारों को जूझना पड़ता है बाढ़ से जानमाल और लोगों के जमा पूंजी नष्ट हो जाती है। इस समस्या को ध्यान में रखते हुए राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बाढ़ से ग्रसित परिवारों को सरकार द्वारा (Bihar badh Rahat sahayata Yojana) ₹6000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। जिन लोगों की पशु, फसल तथा मकान को भी नुकसान हुआ है उन्हें भी सरकार द्वारा निर्धारित राशि आवंटित की जाएगी। वर्तमान में पूर्वी व पश्चिमी, चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, दरभंगा, खगरिया आदि बाढ़ के प्रभाव से ग्रसित है।

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना का उद्देश्य क्या हैं?

बिहार सरकार द्वारा बाढ़ राहत सहायता योजना के आधार पर राज्य में आई बाढ़ के कारण हुए नुकसान की भरपाई एवं जीवन को पुनः स्थापित करने के लिए ग्रसित परिवारों को ₹6000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान करना तथा बाढ़ के कारण मकान पशु पशु आदि के नुकसान पर भी निर्धारित राशि को आवंटित करने का फैसला लिया गया है। इस योजना का उद्देश्य प्रभावित परिवारों को इस मुश्किल समय में आर्थिक सहायता प्रदान करना है ताकि वह अपना जीवनयापन को पुनः स्थापित कर सके।

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियों का संग्रह - हिंदी चौक डॉट कॉम

Bihar badh Rahat sahayata Yojana के अंतर्गत कौन सी सहायता मिलेगी?

Bihar badh Rahat sahayata Yojana में निम्नलिखित आधार पर उम्मीदवारों को सहायता प्रदान की जाएगी-:

  • इस योजना के तहत बिहार के बाढ़ प्रभावित परिवारों सरकार द्वारा को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • योजना के अंतर्गत ₹6000 तक की राशि प्रभावित परिवारों को आवंटित की जाएगी।
  • यदि परिवार के मकान पशु एवं फसल का नुकसान हुआ है तो उसके लिए भी निर्धारित राशि सरकार द्वारा उम्मीदवार को प्रदान की जाएगी।
  • सरकार द्वारा जो लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी उनकी एक निर्धारित सूची रिकॉर्ड के तौर पर तैयार की जाएगी।
  • बाढ़ में हुई चार लाख से अधिक मौत के कारण प्रत्येक परिवार को 4 लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • मूल वस्तुएं जैसे कपड़ा एवं बर्तन के नुकसान पर ₹1800 और ₹2000 की आर्थिक राशि प्रदान की जाएगी।
  • बाढ़ के कारण फसल के नुक़सान की भरपाई हेतु प्रति हेक्टेयर ₹6800 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • पशु जैसे गाय , भैंस की हानि पर ₹30000 की आर्थिक सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • घोड़ा पशु के नुकसान होने पर ₹25000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • अन्य पशु जैसे भेड़ बकरी सूअर की क्षति होने पर ₹3000 तक की राशि प्रदान की जाएगी।
  • पक्का एवं कच्चा मकान की क्षति पर ₹95100 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • मुर्गी पालनकर्ताओं को मुर्गी के नुकसान हेतु अधिकतम ₹5000 तक की राशि प्रदान की जाएगी।
  • पक्के मकान की निम्न क्षति होने पर ₹5200 और कच्चे मकान की निम्न क्षति होने पर ₹3200 तक की राशि प्रदान की जाएगी।
  • झोपड़ी के पूरी तरह से हानि होने पर ₹4100 रुपए की आर्थिक सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

Bihar badh Rahat sahayata Yojana eligibility क्या है?

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना योग्यता निम्नलिखित प्रकार से निर्धारित की गई है-:

  • उम्मीदवार का क्षेत्र बाढ़ प्रभावित जिला के अंतर्गत सूचित होना चाहिए।
  • उम्मीदवार का घर बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के अंतर्गत आना चाहिए।
  • उम्मीदवार का परिवार बाढ़ ग्रसित होना चाहिए।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए उम्मीदवार को योजना के निर्धारित सीमा को पूरा करना होगा।

Bihar badh Rahat sahayata Yojana के लिए कौन से दस्तावेज होने चाहिए?

Bihar badh Rahat sahayata Yojna Document इस प्रकार हैं -:

  • उम्मीदवार के पास आधार कार्ड होना चाहिए।
  • आवेदक के पास निवास का प्रमाण होना चाहिए।
  • उम्मीदवार के पास बैंक खाते का पूरा विवरण की एक फोटोकॉपी होनी चाहिए।
  • आवेदक की नाम तथा संबंधित जानकारी का विवरण का प्रमाण होना चाहिए।

Bihar badh Rahat sahayata Yojana के लिए online apply कैसे करें?

बिहार बाढ़  राहत सहायता योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन या पंजीकरण जैसी किसी भी प्रकार की प्रक्रिया को शामिल नहीं किया गया है तथा इस योजना के लिए सरकार द्वारा बाढ़ जिला प्रभावित क्षेत्रों में राहत शिविर लगाए जाएंगे और बाढ़ से ग्रसित परिवारों को उन शिविर में जाकर अपने और अपने परिवार सदस्यों की पूरी जानकारी अधिकारियों को देनी होगी। इस तरह तैयार सूची को राज्य सरकार के पास भेजा जाएगा।

इसके बाद एक लाभार्थी सूची (beneficiary list)  तैयार की जाएगी जिसके आधार पर पीड़ित परिवारों को निर्धारित राशि का आवंटन किया जाएगा। इस लाभार्थी सूची की घोषणा सरकार द्वारा जैसे ही की जाएगी उसके पश्चात ही संबंधित विभागों द्वारा यह प्रक्रिया का संचालन हो जाएगा और सरकार द्वारा लाभार्थी के बैंक अकाउंट में आर्थिक सब्सिडी को पहुंचा दिया जाएगा।

इस आर्टिकल में हमने आपको बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना से संबंधित सारी जानकारियां उपलब्ध करा दी है और इस योजना से संबंधित अन्य सूचनाओं की जानकारी के लिए आप बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग के आधिकारिक वेवसाइट को विजिट कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें-

Share this

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए (यहाँ Click) करें.

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

Leave a Comment