पटोरी SDO को सरकारी काम में लापरवाही में नोटिस जारी, 2 दिन में जवाब नहीं तो? 

बिहार: समस्तीपुर डीएम ऑफिस ने पटोरी SDO को सरकारी काम में लापरवाही का नोटिस जारी किया है। इसके साथ ही कहा है कि 2 दिन के अंदर सुरजीत श्यामल को जानकारी दें, अन्यथा आपके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने हेतू जिलाधिकारी महोदय के समक्ष संचिका उपस्थित कर दी जायेगी। आइये जानते हैं कि पूरा मामला क्या है और SDO पटोरी के द्वारा क्या सरकारी काम में लापरवाही की गई है?

पटोरी SDO को सरकारी काम में लापरवाही का नोटिस

श्री नवकंज कुमार, पटोरी प्रखंड विकास पदाधिकारी, समस्तीपुर, बिहार ने पिछले साल कोविड टीका नहीं लेने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई का आदेश जारी किया था। जबकि केंद्र सरकार के अनुसार कोविड टीका स्वैक्षिक है। जिसका शिकायत करने पर अपने पद का दुरूपयोग कर शिकायतकर्ता (सुरजीत श्यामल) पर ही झूठा FIR दर्ज करवा दिया। जबकि श्री कुमार एक लोकसेवक हैं और उनका काम सरकारी आदेश का पालन करना है।

पटोरी अनुमंडल में सरकारी आदेश और कानून की खुल्ली धज्जी

श्री नवकंज कुमार पूर्व प्रखंड विकास पदाधिकारी के ऊपर पद पर रहते कई अपराधिक आरोप/FIR दर्ज होने पर भी बिहार लोक सेवा संहिता के नियम-100 के प्रावधान के अनुसार निलंबन की कार्रवाई तक नही की गई। जिससे प्रतीत होता है कि पटोरी अनुमंडल में सरकारी आदेश और कानून की खुल्ली धज्जी उड़ाई जाती है। अगर कोई सामाजिक कार्यकर्त्ता इसकी शिकायत करता तो उसके ऊपर “सरकारी काम में बाधा” यानी IPC की धारा 188 के मुकदमा आदि में फंसा दिया जाता है।

अब इन्ही बातों को उजागर करने के लिए लोक सूचना पदाधिकारी सह पटोरी अनुमंडलाधिकारी जफ़र आलम को दिनांक 20-10.2021 को RTI लगाकर से जानकारी मांगी। जिसकी जानकारी उन्होंने जब नहीं दी तो इसके बाद जिलाधिकारी समस्तीपुर को प्रथम अपील आवेदन 10 जनवरी 2022 को दिया गया।

अनुमंडल अधिकारी, पटोरी ने झूठा और भ्रामक जानकारी

अब क्या था प्रथम अपील के 20 दिन बाद दिनांक 31.01.2022 को लोक सूचना पदाधिकारी सह अनुमंडल अधिकारी, पटोरी ने झूठा और भ्रामक जानकारी दे दिया। यही नहीं बल्कि उन्होंने हमारे आरटीआई आवेदन दिनांक 20.10.2021 के जवाब में तीन महीने पहले का दिनांक 29.10.2021 अंकित कर भेजा। जिसके बाद उनके जवाब का खंडन सबूत के साथ करते हुए डीएम समस्तीपुर को 4 फरवरी 2022 को शिकायत किया गया।

डीएम कार्यालय, समस्तीपुर ने पटोरी एसडीओ के द्वारा सरकारी काम में लापरवाही के तहत 03 मार्च 2022 को 3 दिन के अंदर सूचना उपलब्ध कराने का आदेश जारी किया। जिसके बाद भी सूचना उपलब्ध नहीं कराई गई। जिसके शिकायत पुनः 24 मार्च 2022 को दी गई। जिसमें बताया कि अभी तक न तो मेरे उपरोक्त आरटीआई आवेदन का निष्पादन किया गया है और न ही आपके द्वारा कोई भी फैसला ही दिया गया है।

यही नहीं बल्कि आपके द्वारा आदेश दिनांक 03 मार्च 2022 के तहत 3 दिन के अंदर सही सूचना उपलब्ध करने को कहा गया था। जिस आदेश का भी एसडीओ पटोरी को कोई परवाह नहीं है।

पटोरी SDO को सरकारी काम में लापरवाही का नोटिस

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियां, लेख और प्रेरणादायक विचार के लिए विजिट करें - HindiChowk.Com

अब फिर से समस्तीपुर डीएम ऑफिस ने पटोरी SDO को सरकारी काम में लापरवाही का नोटिस जारी किया है। उनके द्वारा लिखित आदेश में कहा है कि 2 दिन के अंदर सुरजीत श्यामल को जानकारी दें, अन्यथा आपके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने हेतू जिलाधिकारी महोदय के समक्ष संचिका उपस्थित कर दी जायेगी। अब देखना है कि पटोरी SDO पर कब तक कार्रवाई होती है? आगे जो भी जानकारी आएगी हम आपको शेयर करेंगे।

SDO Patori Notice PDF Copy

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

Leave a Comment

error: Content is protected !!