केंद्र सरकार ने कॉन्ट्रैक्ट वर्कर के न्यूनतम वेतन में 42 फीसदी की वृद्धि की

नई दिल्ली: अगर आप सेन्ट्रल गवर्नमेंट के किसी भी विभाग में ठेका/आउटसोर्स/कैजुयल/फ्रेंचाइजी/ डेलीवेजर के रूप  पर काम करते है तो आपके लिए खुशखबरी है. केंद्र सरकार ने कॉन्ट्रैक्ट वर्कर के न्यूनतम वेतन में 42 फीसदी की वृद्धि की हैं. यह वृद्धि दिल्ली हाई कोर्ट में जनहित याचिका में मांग की बाद की गई हैं. हालाँकि याचिकाकर्ता ने समान काम का समान वेतन की मांग की थी.

कॉन्ट्रैक्ट वर्कर के न्यूनतम वेतन में 42% वृद्धि..

सेन्ट्रल गवर्नमेंट ने पुरे देश के मंत्रालय या विभाग के अंडर काम करने वाले ठेका/आउटसोर्स वर्कर, कैजुयल/फ्रेंचाइजी/ डेलीवेजर के रूप  में काम करने वालों का न्यूनतम वेतन में 42 फीसदी की वृद्धि कर दी हैं. अब दिनांक 01 अप्रैल 2017 से अकुशल कर्मियों का न्यूनतम वेतन 13,936 अर्ध-कुशल कर्मियों के 15418 कुशल कर्मचारियों के लिये 16978 अत्यधिक कुशल यानि स्नातक 18460 हो गया.

इस सम्बन्ध में चीफ लेबर कमिश्नर (केंद्रीय) के द्वारा नोटिफिकेशन जारी किया जा चूका है. सबसे अच्छी बात यह है कि इस पर दिल्ली सरकार के न्यूनतम वेतन के जैसा स्टे वाला कोई केस नहीं है और नहीं गुमराह होना है. मन लीजिये आप आईआरसीटीसी या सेंट्रल गोवेर्मेंट के किसी अन्य विभाग में काम करते है. आपका विभाग दिल्ली में है तो आप (A) एरिया में आयेगें तो आपको दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के (Central Sphere) न्यूनतम वेतन में जो ज्यादा होगा, वह मिलेगा.

इसके आलावा भी देश के अन्य शहरों में भी A, B, C एरिया के रूप में लागू होगा. इस सर्कुलर को डाउनलोड करने के लिए हमारे Blog  के सर्कुलर के ऑप्शन से 20 अप्रैल 2017 का सर्कुलर डाउनलोड करें या (यहाँ क्लिक करें


यह मजदूर आंदोलन और हमारे जनहित याचिका द्वारा उठाये मांग की बहुत बड़ी जीत है. अब हमें और जोर लगाकर न्यूनतम वेतन कम से कम 18,000 और सामान काम का सामान वेतन लागु करवाना है. जनहित याचिका के बार में जानने के लिए जरूर पढ़े- ठेका वर्कर रेगुलर वर्कर के बराबर काम ही नहीं, बल्कि रेगुलर वर्कर का ही काम कर रहे: हाईकोर्ट

आप चाहे वह भारत सरकार के अधीन आईआरसीटीसी, एमटीेएनएल, रेलवे का अन्य कोई विभाग, बैंक, पोस्ट ऑफिस, एयरपोर्ट, इत्यादि में कार्यरत हों. आज ही अपने साथिओं को बताये और अपने विभाग से मांग करें. अगर मन में कोई सवाल हो तो बेहिचक नीचे लिखे कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछियेगा.
Share this

यदि आपके पास वर्कर से सम्बंधित हिंदी में कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे तुरंत ही email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें .

2 thoughts on “केंद्र सरकार ने कॉन्ट्रैक्ट वर्कर के न्यूनतम वेतन में 42 फीसदी की वृद्धि की”

  1. I.G.I.M.S PATNA एक सेमी गोवरमेंट है,इसमें काम कर रहे आउटसोर्सिंग स्टाप को कौन सा वेतन मिलना चाहिए।

    Reply
  2. आपने अपना नाम नही बताया, खैर आपको कम से कम न्यूनतम वेतन से कम नही दे सकते. ऐसे मेरे जानकारी में IGIMS Patna, IIMMS Patna में सेंट्रल Government का न्यूनतम वेतन मिल तो रहा है. ऐसे नियम के अनुसार दोनों में से जो ज्यादा होगा, वह मिलना चाहिए.
    अपने साथियों को हमारे ब्लॉग के बारे में बतायें और यूट्यूब भी subsribe करें.

    Reply

Leave a Comment