• Breaking News

    दिल्ली सरकार ने निगम सफाईकर्मियों के नियमित करने का आदेश जारी किया मगर

    दिल्ली सरकार ने निगम सफाईकर्मियों के नियमित करने का आदेश जारी किया मगर

    दिल्ली सरकार ने निगम कर्मचारियों को नियमित करने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है. मंत्री सत्येंद्र जैन ने इस बारे में शहरी विकास विभाग को आदेश जारी के दिए हैं. हिंदुस्तान के खबर के अनुसार इस बारे में बताया गया है कि एलजी महोदय के मंजूरी मिलने के बाद ही कर्मचारियों को नियमित किया जाएगा. निगम के सफाई कर्मचारी इस मांग को लेकर लम्बे समय से आंदोलन कर रहे हैं.

     दिल्ली सरकार ने निगम सफाईकर्मियों के नियमित करने का आदेश जारी किया मगर

    जिसके बाद उनको मांग को मानते हुए सरकार ने यह आदेश जारी किए है. शहरी विकास विभाग को कहा गया है कि वो इस बारे में नगर के सभी निकायों आदेश जारी कर सफाईकर्मियों के नियमतीकरण की प्रिक्रिया शुरू करे. इस संबंध में मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने बुधबार को ही आदेश जारी किये थे. इसके बाद  गुरूवार को शहरी विकास मंत्री ने शहरी विकास विभाग को लिखित आदेश जारी किया है. इस मामले में उस आदेश की कॉपी अन्य सम्बंधित विभागों को भी भेजा गया है.

    एलजी महोदय के मंजूरी के बाद ही आगे की कारवाई की जायेगी

    दिल्ली राजधानी के तीन एमसीडी में लगभग 20 हजार से सफाईकर्मचारी कार्यरत हैं. जो कि पिछेल कई वर्षों से काम ही नहीं कर रहे बल्कि समय समय पर आंदोलन के माध्यम से स्थाई किये जाने की मांग भी उठाते रहे हैं. अभी शहरी विभाग से आदेश की कॉपी नगर निकायों के पास भेजा गया है. जब दिल्ली के सभी तीन नगर निकायों से रिपोर्ट आने के बाद एलजी महोदय के बाद भेजा जायेगा. एलजी महोदय के मंजूरी के बाद ही इस आदेश के तहत आगे की कारवाई की जायेगी.
     

    सरकार का यह फैसला दिल्ली एमसीडी सफाईकर्मचारियों के आंदोलन की जीत है. अभी हाल ही में एंटी मलेरिया के हजारों कर्मचारी भी इसी मांग के लिए एमसीडी के हेडक्वार्टर सिविक सेंटर पर बैठे थे. यही नहीं बल्कि एमसीडी में कप्यूटर ऑपरेटर के पद पर भी हजारों कर्मचारी काम कर रहे हैं. हमारा सवाल यह भी है कि केवल सफाईकर्मचारी ही क्यों और बांकी क्यों नहीं? 

    खैर, यह खबर बहुत ही सकून देने वाला है. मगर पिछले कई वर्षों से एमसीडी, एलजी महोदय और दिल्ली सरकार के रिश्ते में खटास के बारे में हर किसी को भली भांति पता है. हमारे हिसाब से ऐसे में सफाईकर्मियों को स्थाईकरण की राह काटों भरी हो लगती है. मगर वे अपने आंदोलन की राह बरक़रार रखें, और सतर्क़ रहें, जीत अवश्य मिलेगी.

    2 comments:

    1. ये तो बहुत बडिया हो गया खास में भी mcd में होता

      ReplyDelete
      Replies
      1. यह कर्मचारियों के लम्बे आंदोलन की जीत है

        Delete

    अपना कमेंट लिखें

    loading...