Lockdown में Salary ना मिले तो क्या करें, सुप्रीम कोर्ट के अनुसार ऐसे मांग करें

लॉकडाउन के सैलरी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने 12 जून 2020 को एक महत्वपूर्ण फैसला दिया हैं. जिसके बाद अपने इस पोस्ट में बताने जा रहे हैं कि Lockdown में Salary ना मिले तो क्या करें? माननीय कोर्ट के निर्देशानुसार ही अब आप अपने सैलरी की मांग कर सकते हैं. इससे पहले हमने जो भी कम्प्लेन करने की जानकारी दी थी. अब कोर्ट के आदेश के बाद निम्न प्रकार से मांग करना होगा.

Lockdown के दौरान Salary

पुरे देश को लॉकडाउन ने हासिए पर खड़ा कर दिया हैं. इसका क्या लाभ क्या मिला यह तो कहना मुश्किल हैं. मगर निम्नवर्गीय आय के मजदूर कर्मचारियों की रोजी-रोटी छीन गई. इन्ही से टेम्परोरी रूप से बचाने के लिए केंद्र सरकार ने 29 मार्च 2020 को एक नोटिफिकेशन जारी किया था. जिसके अनुसार कोई भी नियोक्ता को लॉकडाउन में किसी भी कर्मचारी की सैलरी में कटौती नहीं करनी थी.

Lockdown में salary मिलेगी या नहीं

जिसको कुछ कंपनियों ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. जिसका अंतरिम फैसला 12 जून 2020 को आ चुका हैं. जिसकी जानकारी हमारे अपने पूर्व के पोस्ट में दी हैं. अगर आप पढ़ना चाहते हैं कि कोर्ट ने अपने आर्डर में क्या कहा और आप आर्डर का कॉपी लेना चाहते हैं तो हमारे पुराने आर्टिकल को पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट ने लॉकडाउन में सैलरी मिलेगी या नहीं मैटर में फैसला दिया

Lockdown में प्राइवेट कंपनी Salary देगी?

अब आपका सवाल होता हैं कि क्या सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद Lockdown में प्राइवेट कंपनी Salary देगी? हमारा जवाब होगा कि बिल्कुल देना होगा. हाँ, मगर इसके लिए प्रोसेस कुछ और होगा. कोर्ट ने कहा हैं कि कम्पनी और कर्मचारी आपसी समझौते से लॉकडाउन अवधि का सैलरी तय करेंगे. जो कि 50 दिन या उससे अधिक हो सकता हैं. यह अवधि 25 मार्च 2020 से 17 मई 2020 के बीच का हो सकता हैं. इसके आलावा भी आप आपसी सहमति से समझौता कर सकते हैं.

अगर लॉकडाउन में कंपनी सैलरी ना दे तो क्या करें?

अब इसके बाद हम इस पोस्ट के असल मकसद पर आते हैं. अगर लॉकडाउन में कंपनी सैलरी ना दे तो क्या करें? अगर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद आपके कंपनी ने अभी तक सैलरी पर समझौता के लिए नहीं बुलाया तो आपको पहल करना चाहिए. अगर आप मौखिक बात करेगें तो शायद बात न बने. इसके लिए आपको अपनी कंपनी या मालिक को डिमांड पत्र देना होगा. जिसका या तो आप उनसे रिसीविंग लेंगे या अगर वो रिसीविंग नहीं दे तो आप एक कॉपी रिकॉर्ड के लिए रजिस्टर्ड पोस्ट से भेज देंगें.

Lockdown में Salary ना मिले तो क्या करें, सुप्रीम कोर्ट के अनुसार ऐसे मांग करें

हम आपको अपने इस पोस्ट में डिमांड लेटर का फॉर्मेट दे रहे हैं ताकि आप इस आधार पर खुद से लेटर बना कर भेज सकें. जो कि कुछ इस प्रकार से होगा-

सेवा में,                                                                                                                                       दिनांक:————–
प्रबंधक महोदय,
——————-
——————-

विषय: माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश WP(C) DIARY No. 10983 दिनांक 12.06.2020 के अनुपालन के सन्दर्भ में

महाशय,
मैं——————————–पता———————————— आपका स्थाई/अस्थाई कर्मचारी हूँ. जो कि आपके कंपनी/दुकान/फैक्ट्री/होटल/सिनेमाघर/मॉल/रेस्टोरेंट/विभाग में पिछले ——–महीने/साल से …………………………………..कंपनी/ मालिक का पूरा पता ——————————में ————–(पद का नाम) पर कार्यरत हूँ. उपरोक्त विषयक सन्दर्भ में कहना है कि

यह कि केंद्र सरकार एक आदेशनुसार लॉकडाउन उपरोक्त स्टैब्लिशमेंट में दिनांक ——-से ——–तक आंशिक/ पूर्ण रूप से बंद था. गृह मंत्रालय ने के आदेश दिनांक 29.03.2020 के अनुसार लॉकडाउन में कोई भी नियोक्ता बंदी के दौरान किसी भी कर्मचारी को न तो वेतन देने में विलम्ब करेगा और न ही वेतन में कटौती नहीं करेगा.

यह कि इसी आदेश का आलोक में माननीय सुप्रीम कोर्ट ने दिनांक 12.06.2020 को आदेश जारी किया. जिसमें कोर्ट ने कहा कि उद्योग और मजदूर दोनों को एक-दूसरे की जरूरत है. इसके विपरीत कोई भी उद्योग या प्रतिष्ठान कर्मचारियों / मजदूरों के बिना जीवित नहीं रह सकता.

यह कि माननीय कोर्ट ने कहा कि हम इस प्रकार से राय रखते हैं कि श्रमिकों और नियोक्ताओं के बीच 50 दिनों के ऊपर के वेतन के भुगतान के संबंध में मतभेदों और विवादों को सुलझाने का प्रयास किया जाना चाहिए.

यह कि लॉकडाउन के दौरान——से ——-तक बंदी का सैलरी नहीं दी/ सैलरी में कटौती कर ली है. जो कि लगभग —————– रुपया हैं. जिसका ब्रेक-अप कुछ इस प्रकार से हैं-

MonthDaysSalary
Mar-20
Apr-20
May-20
Jun-20
Total

यह कि लॉकडाउन में सैलरी नहीं मिलने से मुझे आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा हैं फिर भी माननीय कोर्ट के उपरोक्त आदेश के अनुसार आपसी बातचीत के लिए तैयार हूँ.

अतः, श्रीमान से अनुरोध हैं कि माननीय कोर्ट के आदेशानुसार जल्द से जल्द मेरे उपरोक्त बकाया राशि कुल ———–रुपया को बातचीत के द्वारा निपटान करने की कृपा की जाए.

आपका विश्वासी:

हस्ताक्षर/नाम:
पूरा पता:
मोबाइल नंबर
ईमेल आईडी-

अगर आपको इसको समझने में असुविधा हो तो एक बार आप हमारे यूट्यूब का वीडियो जरूर देखें. इस पत्र को भेजने के लिए स्पीड पोस्ट/ रजिस्टर्ड पोस्ट का इस्तेमाल करें. इसके साथ एक एक पत्र के एक कॉपी के साथ स्पीड पोस्ट/ रजिस्टर्ड पोस्ट का रसीद संभल कर रखें.

Lockdown में Salary ना मिले तो क्या करें, सुप्रीम कोर्ट के अनुसार ऐसे मांग करें

अगर आपके इस लेटर के प्राप्त होने के के 15 दिन के बाद भी कंपनी इस पर कोई करवाई नहीं करती यहीं तो आप हमें कमेंट करके बतायेंगे तो इसके आगे की जानकारी दी जाएगी.

दोस्त, उम्मीद करूंगा कि यह जानकारी आपके लिए काफी उपयोगी होगा. कुछ लोग अभी भी कहेंगे कि इससे कुछ नहीं होगा. मगर हमारा मानना हैं कि अपने हक़ का पैसा लेने के लिए हर संभव प्रयास करना चाहिए. आपसे अनुरोध हैं कि इसको जरुरतमंद साथियों तक पहुंचाने के लिए अपने हर व्हाट्सप्प/फेसबुक ग्रुप में शेयर करें. धन्यबाद.

Lockdown Salary Demand Letter

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

34 thoughts on “Lockdown में Salary ना मिले तो क्या करें, सुप्रीम कोर्ट के अनुसार ऐसे मांग करें”

    • Yah order school ke liye nhi hai. But aap salary mang sakte hain. Ab aap job jane se darenge to salary nhi mange.

      Reply
  1. Sir,
    Mera boss mujhe mere dwara kiya hua kaam k bhi paise nahi dena chahta. March mai bhi 20 March tak kaam kiya tha but 8000/- hi Dene k liye bol rha tha aur do month chakkar katane k baad 6000/- hi bhejhe hai. Jabki mera abhi 11500/- k something abhi aur nikalta hai. Ab bol rha hai ki pahle full n final ki confirmation do tab baaki k 2000 rs dunga. Kya karna chahiye please suggest.

    Reply
    • इतना बता दिया काफी नहीं है. अगर आपको अंग्रेजी में लिखना हैं तो इस आधार पर खुद से लिख सकते हो

      Reply
  2. सर अगर हम लेटर देंगे तोह वह अगर 50 दिन के 1300/- रुपये बनते है तोह समझौते करने पर पूरा मिलेगा या फिर काम कितना मिल सकता है plz बताइये

    Reply
  3. नमस्कार सर,मेरा नाम लवकेश है,मैं शहजादपुर, अम्बाला,हरियाणा का रहने वाला हूँ,DIPLAST PLASTIC PVT.LTD,MOHALI,PHASE 2 में काम करता था,COVID 19 की बजह से 12 मार्च को कंपनी में छुट्टियां कर दी थी,इसी दौरान प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने lockdown का आदेश दे दिया,जो बाद में बढ़ता ही चला गया,कुछ ढील होने पर काम शुरु हो गया था पर कंपनी मुझे किसी प्रकार की जानकारी नही दी गयी और ना ही मेरी सैलरी मेरे एकाउंट में आयी,जिस कारण मेरे पास वापिस नही जाया गया,तो क्या मैं सैलरी लेने का हकदार हूँ, मैं उसके लिये क्या ओर कैसे करूँ मुझे पूरी जानकारी दीजिए, मैं आपका बहुत आभारी रहूंगा, धन्यावाद

    Reply
    • हमारे इस पोस्ट में इसी संबंध में जानकारी दी हुई हैं. अब आप इसी तरीके से मांग सकते हैं.

      Reply
  4. Sir, mai ek school mai job krti hu. Or sth hi sath I am pregnant. 1st April 2020 se 18-05-2020 tk ke bich mai shirf 3 din school ja pai emergency work ke liye. Or 20-05-2020 se continue job kr rhi hu. School walo ne 20-05-2020 se 31-05-2020 tk jitne di gi utne din ki salary de kar April or half may ki koi payment nhi di. Or ab 25-06-2020 ko jb school ka sara kaam smooth chlne lga mostly March half se pending work complete ho gya ab muje ye bola ja rha hai ki ap 1st July se discontinue kr lo. Mere dvara apna blalance or adavance notice na dene per ek month ki salary advance dene per ye mna kr rhe hai. Pregnancy mai job krne ke bvjud. Jb sara record bn gya sb kuch kaam setel ho gya ab muje esh sitvation mai meri puri salary bi nhi di ja rhi. Esh sitvation mai muje kiya krna chiye.

    Reply
    • आप अपनी सैलरी लिखित में माँगिये. ठीक जैसे ही हमने बताया हैं. अगर इसके बाद भी नहीं दें तो शिक्षा विभाग, सीबीएसई से लेकर डीएम तक को शिकायत करें. आपको रिजाइन देने को बोल रहे इसके लिए भी अलग से स्कुल से पत्र लिखकर रिकॉर्ड में लें. हर महिला का मातृत्व आवश्यक क़ानूनी अधिकार हैं. Read more

      Reply
  5. सर अगर में समझौता करने के लिये अपने मालिक के पास जाता हूं और समझौता नही करते और सैलरी बिलकुल नही देंगे कहते है तोह क्या करू।

    Reply
    • आप पहले डिमांड भेजिए. अगर समझौता नहीं किए तो लिखकर बताइयेगा. हम फिर आपको आगे का स्टेप बतायेंगे.

      Reply
  6. Hi sir,
    Company request letter lens se mana kar rahe hai, Kya mai mail ke through signed kiya hua letter bhej sakta hu.
    Please bataiye

    Reply
  7. सर हमारे मालिक ने दिल्ली में ही घर पर ही ऑफसी बना रखा है और वो अपने गांव ओडिशा चले गए है तोह बताइये हम लेटर कहा भजे क्योकि ऑफसी तोह बंद है

    Reply
  8. sir meri campani(dominos pizza) ke kuch store open h kuch nhi..pr jo store open nhi h usme sirf menegar ki hi selry aa rhi h ore team ki nhi..me apni selry ki mang kr sakta hu ya nhi..plzz help me

    Reply
  9. Aapne jo bataya tha wo maine kar diya aur unka reply bhi aa gya hai jisme unhone sirf 2000/- ke saath settlement karne ko bola hai jabki mera 11185 /- banta hai. Ye mere kaam ka paisa hai main to lockdown ka bhi nahi maang rha. Jitna kaam kiya hai utna hi maang rha hun. Ab mujhe kya karna chahiye ?

    Reply
    • सम्बंधित लेबर कमिशर ऑफिस में शिकायत करें

      Reply
    • आपकी कंपनी का पता आपको पता होगा न. पूरा पोस्ट को ध्यान से पढ़िए

      Reply
  10. 50 din se kam ho to bhi ye letter bhej sakte hai ?
    March m joining k bad april m termination mail mila , march till termination mail date total days 43 , Fnf lockdown k bad k liye likha same mail mai, uske bad abhi tak koi response nahi de rahe h .

    Reply
  11. sir,
    mera naam parul h or mai upcl ke project helpdesk jiska contract mobineers info system pvt ltd ko mila hua h me as a front desk executive job krti hu…mujhe company ne april se salary nhi di h jabki upcl department ne april or may ki salary approve kr di h but company bol rhi h ki jab department company ki payment krega vo tab salary denge chahe usme 2 mahine lage ya 4 mahine…pls help me

    Reply
    • पारुल जी, इस पोस्ट में पूरी जानकारी दी है कि कंपनी से कैसे सैलरी मांग करना हैं. आपने जिस प्रकार कंपनी में काम किया क्या आप अपने काम का पैसे खुद से नहीं मांग सकती. आपके मेहनत का पैसे हैं. मांगिए

      Reply
  12. Sir Mene 13/01/2020 ko join kiya tha but late salary aur bar bar salary mangne pr bhi nhi dete the Isiliye Mene 13/03/2020 ko resign kiya 2 month notice period last date 13/05/2020 hota but 21/03/2020 last working day uske bad lockdown tha , tab meri Feb ki salary bhi baki thi , lockdown me kitni bar salary mangne pr bhi adhi salary di jab lockdown khula ,01/06/2020 ko to me gai company me muje entry nhi di aur salary bhi nhi di Feb se may tak ki salary baki thi agar me 21/03/2020 tak ka Relieving letter sign krungi to Hi salary denge esa bola fir 02/07/2020 ko unke consultant smjote ka bolke leke ,gye aur jabarjasti sign krne ko bola to Hi sirf Feb March ki Salary denge muje jrurat thi isliye Mene letter me original sign nhi kiya experience letter bhi 21/03 ka hi diy,diya salary slip ya salary certificate bhi nhi diya kyoki puri salary company ke account me nhi dikhana chahte appointment me company name hai but payment unke dusre proprietor firm m ke account se payment krte the. To Ab muje April may ki salary mil Sakti hai., Mene unhe salary aur salary slip k liye mail bhi kiya hai unse notice period nhi lockdown k bad mang ki but unhone muje mentally torchar kiya uska recording bhi hai Mere pass Ab kya kr skti hu mai

    Reply
  13. सर मैं नॉएडा में एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी मैं काम करता हूँ . कंपनी मार्च 2020 से लगातार 30% सैलरी अभी तक काट रही है.
    कंपनी ने मार्च और अप्रैल की बकाया 30% सैलरी को बाद में देने का वायदा किया था, और मई जून और जुलाई 3 महीने के लिए कंपनी ने 15% सैलरी परमानेंट काटने के लिए बोला लेकिन जब मई की सैलरी आई तो फिर से 30% कट कर आई उसके बाद से जून जुलाई की भी 30% कट कर आई. अगस्त की पूरी आनी थी लेकिन फिर से 30% कट कर आई. हमने HR से बात की तो उन्होंने अगस्त सितम्बर और अक्टूबर की सैलरी 30% कट का मेल हमे डाल दिया. उसके बाद पूरी सैलरी देने का वायदा किया. लेकिन फिर से 2 महीने का नवम्बर दिसम्बर का 30% कट….जनवरी की सैलरी फिर से कट…..जबकि मार्च से लेकर आज 11 फरवरी तक लगातार काम हो रहा है 2 शनिवार अवकाश होता था वो भी बंद रविवार को भी कभी कभी काम करने के लिए बोल देते हैं. टाइम भी 12 घंटे लगभग काम करते हैं . अब जबकि सब नार्मल हो गया है ऑफिस नहीं खोल रहे हैं घर से ही काम हो रहा है . लैपटॉप, बिजली, इन्टरनेट सब हमारा इस्तेमाल हो रहा है. लैपटॉप ख़राब होने पर जो खर्चा वो भी हमारा हो रहा है कम्पनी कुल मिलाकर हमारा शोषण कर रही है. कम्पनी नए कर्मचारी रख रही है लेकिन पुराने लोगो की सैलरी पूरी नहीं दे रही है और जिन्हें अप्रैल में अनपेड छुट्टी पर भेजा था उन्हें नहीं बुला रही है.
    सर हम इस हालात में क्या कर सकते हैं कृपया हमे गाइड कीजये. कैसे अपनी पूरी सैलरी के लिए शिकायत कर सकते हैं. क्या कोई कानूनी कार्यवाही हो सकती है ?

    कम्पनी लॉकडाउन में बहुत अच्छा प्रॉफिट मैं है.

    Reply
    • आपको कंपनी से पूछना चाहिए था न कि किस नियम के तहत आपकी सैलरी कट कर रहा. आप लिखित में बकाया भुगतान का मांग करें और 15-20 दिन में न दे तो अपने एरिया के लेबर कमिश्नर ऑफिस में शिकायत करें.

      Reply

Leave a Comment