Bihar Retired Teacher Pension Revision पैसे की मांग पर लापरवाह PNB

Bihar Retired Teacher Pension Revision – पटोरी, बिहार के सेवानिवृत्त शिक्षक शिवचंद्र प्रसाद नवीन पिछले 2 साल से पेंशन संशोधन का इंतजार कर रहे हैं। जिसके बारे में कई बार पंजाब नेशनल बैंक में शिकायत कर चुके हैं। जिसके बाद कोई जवाब नहीं मिलता देख अपने शिकायत की स्थिति जानने के लिए RTI का सहारा लिया है। जिसके बाद क्या जानकारी निकल कर आई, आइये जानते हैं?

Bihar Retired Teacher Pension Revision

बिहार सरकार के वित्त विभाग ने दिनांक 25.01.2019 को एक आदेश जारी किया था। जिसके अनुसार दिनांक 01.01.2016 से पहले पेंशन कोषागार के स्थान पर संशोधित प्राधिकार पत्र के साथ सीधे संबंधित बैंक में आवेदन किया जाना है। श्री नवीन ने दिनांक 28.08.2020 को अपने संशोधित पेंशन भुगतान के लिए बैंक प्रबंधक, ओबीसी, चकसलेम, समस्तीपुर, बिहार को आवेदन दिया।

Pension of Bihar Govt teacher

केंद्र सरकार के द्वारा OBC को अब पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में विलय कर दिया गया है। उन्होंने दुबारा फरवरी 2021 में PNB Chairman समेत अन्य अधिकारियों को ईमेल के द्वारा अनुरोध का रिमाइंडर भेजा। जिसके बाद उनका बिहार सेवानिवृत्त शिक्षक पेंशन रोक दिया गया। फिर बाद में उनकी शिकायत पर बैंक को 7 दिन के अंदर पेंशन का पैसा देना पड़ा।

अभी भी वो पिछले 2 साल से अपने पेंशन संशोधन का इंतजार कर रहे हैं। जिसके लिए पंजाब नेशनल बैंक के चेयरमैन को कई बार रिमाइंडर दे चुके हैं। जब उनके शिकायत पर कोई जवाब नहीं दिया गया तो उन्होंने पीएनबी के हेडक्वार्टर में आरटीआई लगाकर जानकारी मांगी।

शिवचंद्र प्रसाद ने अपने RTI Application में 4 सवाल पूछें हैं। जिसमें उन्होंने अपने शिकायत की “दैनिक उन्नति रिपोर्ट” व् जिम्मेदार अधिकारियों का नाम और पद आदि पूछा है। जिसके बाद नियम के विरुद्ध उनके आरटीआई एप्लीकेशन को जन सुचना अधिकारी दरभंगा को भेज दिया गया।

पेंशन के संशोधन के संबंध में – PNB

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियां, लेख और प्रेरणादायक विचार के लिए विजिट करें - HindiChowk.Com

बिनय कुमार झा, चीफ मैनेजर सह केंद्रीय जन सूचना अधिकारी, सर्किल ऑफिस, दरभंगा ने 24 दिसंबर 2021 जवाब दिया।उन्होंने लिखा है कि “पेंशन के संशोधन के संबंध में आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न का ठीक से उत्तर नहीं दिया जा सकता क्योंकि पेंशन से संबंधित कोई विवरण जैसे खाता संख्या, अवधि जिससे पेंशन संशोधित नहीं हुई आदि प्रदान नहीं की गई है। उक्त विवरण के अभाव में हम आपको पेंशन के संशोधन के संबंध में ठीक से उत्तर देने में असमर्थ हैं।

पीएनबी हेडक्वार्टर के अधिकारी से गुहार

असल में पीएनबी के जवाब से प्रतीत होता है कि उनको आरटीआई का जवाब देते नहीं बन रहा है। इसलिए गुमराह करने को कोशिश कर रहे हैं। जबकि श्री नविन ने अपने शिकायत में सम्पूर्ण जानकारी दी गई है। जिसके बारे में केवल आरटीआई से स्टेटस पूछा गया है। हालांकि इसके विरुद्ध उन्होंने प्रथम अपील लगा दी है। जिसमें पुनः पीएनबी हेडक्वार्टर के प्रथम अपीलीय अधिकारी से गुहार लगाईं है। अब देखना है कि पीएनबी प्रबंधन इस मामले को कितना गंभीरता से लेता है।

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – ed[email protected] करें.

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

Leave a Comment

error: Content is protected !!