RTI Act First Appeal Format in Hindi | आरटीआई प्रथम अपील का हिंदी प्रारूप

आपने अभी तक हमारे पिछले दो Post के माध्यम से RTI Act 2005 के बारे में और RTI Act के तहत हिंदी में Application कैसे करें जान लिया होगा। अगर नहीं तो इस Post के नीचे के लिंक के द्वारा पढ़ सकते हैं। हम इस पोस्ट के द्वारा RTI Act First Appeal Format in Hindi | सूचना के अधिकार के तहत प्रथम अपील का हिंदी प्रारूप की जानकारी प्राप्त करेंगे। इसके लिए पूरा पोस्ट पढ़ें और कोई सवाल हो तो अंत में कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं।

RTI Act First Appeal Format in Hindi?

आप अगर RTI Act 2005 के तहत किसी भी Government Office में Application लगाकर जानकारी मांगते हैं और अगर संबधित विभाग कानून के अनुसार आपको 30 दिनों के अंदर Reply नहीं देता या घुमा फिर कर जबाब देता है। उसका जबाब ग़लत और आधा अधूरा अथवा भ्रामक है।आप उस जबाब से आप संतुष्ट नहीं है या कभी- कभी Right to Information Act 2005 की धारा 8 के प्रावधानों को तोड़-मरोड़ कर आपको सूचना देने से मना कर दिया गया है।

RTI Act के तहत First Appeal कब कर सकते हैं?

वो कहते हैं कि आपके द्वारा मांगी गई  फलां सूचना देने से किसी के विशेषाधिकार का हनन होता है या फलां सूचना तीसरे पक्ष से जुड़ी है इत्यादि। अब आप ऐसी स्थिति में क्या करेंगे? तो ऐसी स्थिति में आप आप सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 के धारा 19(1) के तहत आप First Appeal Authority (प्रथम अपीलीय पदाधिकारी) के पास आवेदन कर सकते हैं।

RTI Act First Appeal का कोई निर्धारित Format है?

आपके द्वारा मांगी गई information के Application के 30 दिनों बाद, लेकिन 60 दिनों के अंदर लोक सूचना अधिकारी से वरिष्ठ अधिकारी, जो RTI Act के तहत First Appeal Authority होता है, के यहां अपील कर सकते हैं। RTI Act के तहत First Appeal के लिए आमतौर पर कोई Fee निर्धारित नहीं किया गया है।
हालांकि कुछ State Government ने अपने यहां First Appeal के लिए भी Fee निर्धारित कर रखा है. First Appeal के लिए कोई निश्चित Format (प्रारूप (फॉर्म)) नहीं होता है। आप चाहें तो एक सादे काग़ज़ पर भी लिखकर First Appeal तैयार कर सकते हैं। हालांकि इस मामले में भी कुछ राज्य सरकारों ने First Appeal के लिए एक ख़ास Format (प्रारूप) तैयार कर रखा है।

प्रथम अपील कैसे लिखें?

आप First Appeal डाक द्वारा या व्यक्तिगत रूप से संबंधित कार्यालय में जाकर जमा करा सकते हैं। First Appeal के साथ आप RTI Application का फोटोकॉपी, जन सूचना अधिकारी द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना (यदि उपलब्ध कराई गई है तो) एवं RTI Application के साथ दिए गए Fee की Receipt व Application भेजने का प्रमाण आदि का फोटोकॉपी संलग्न अवश्य करें।
RTI Act के तहत यदि जन सुचना अधिकारी आपके द्वारा मांगी गई सूचना यदि 30 दिनों में उपलब्ध नहीं करता है तो आप First Appeal में सारी information नि:शुल्क उपलब्ध कराने की मांग कर सकते हैं। इसके लिए चाहे वह information हजार पन्नो का क्यों न हो। हम नीचे RTI Act के तहत RTI Act First Appeal Format in Hindi में  दें रहें हैं। उम्मीद करूंगा कि आप इसका इस्तेमाल करेंगे।

RTI Act First Appeal Format in Hindi | सूचना के अधिकार के तहत प्रथम अपील का हिंदी प्रारूप

सूचना के अधिकार के तहत प्रथम अपीलीय प्राधिकारी से प्रथम अपील
(सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 के धारा 19 (1) के तहत)
पहचान क्रमांक…………                                                                                  दिनांक : …………….
(कार्यालय के उपयोग के लिए)
—————————————————————————————–
सेवा मे,
……………………………………
……………………………………
……………………………………
(प्रथम अपीलीय प्राधिकारी का नाम, विभाग और पता)
महोदय,
मैं केंद्रीय/राज्य सूचना अधिकारी के निर्णय/अनिर्णय से व्यथित हूं। इसलिए आपके समझ राहत के लिए अपील कर रहा हूं/रही हूं।
1. अपीलकर्ता का पूरा विवरण-
1.1 आवेदक का पूरा नाम ……………………………………..
1.2 पत्राचार का पूरा पता  ………………………………………………………………………………..
………………………………………………………………………………………………………………..
1.3. फोन/मोबाइल नंबर…………………………………………………………………………………..
1.4 ईमेल आईडी…………………………………………………………………………………………….
2. केंद्रीय/राज्य सूचना अधिकारी का विवरण 
2.1 केंद्रीय/राज्य सूचना अधिकारी का नाम/पद ……………………………………………………………
2.2 पूरा पता……………………………………………………………………………………………………….
………………………………………………………………………………………………………………………
2.3 लोक प्राधिकारी का नाम……………………………………………………………………………………..
3. केंद्रीय/राज्य सूचना अधिकारी से मांगी गई सूचना का विवरण ……………………………
……………………………………………………………………………………………………………………….
………………………………………………………………………………………………………………………
………………………………………………………………………………………………………………………
……………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………
आवेदन की तिथि………………………………..
भेजने की तिथि………………………………………..पंजीकृति स्पीड पोस्ट द्वारा ………………….हाथों हाथ.
केंद्रीय/राज्य सूचना अधिकारी द्वारा आवेदन पाने की तिथि……………………………………………………
4. आवेदन शुल्क का विवरण
शुल्क के रूप में 10 रुपया का भुगतान बैंक ड्राफ्ट/ भुगतान पर्ची/ भारतीय पोस्टल आर्डर संख्या …..
……………………..दिनांक …………………..दी गई।
5. केंद्रीय/राज्य सूचना अधिकारी के निर्णय का विवरण
पत्र सन्दर्भ संख्या………………………………..
केंद्रीय/राज्य सूचना अधिकारी के निर्णय की तिथि ……………………………………
अपीलकर्ता द्वारा अपील प्राप्ति की तिथि
6. मामला से सम्बंधित तथ्य संक्षेप में …………………………………………………………………………..
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………..
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………..
7. अपील के लिए कारण/आधार …………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………..
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………..
8. अपील के समर्थन में कोई अन्य जानकारी ……………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………..
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………..
9. प्रार्थना/राहत मांग का विषय …………………………………………………………………………………..
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………..
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………..
10. प्रार्थना/राहत मांग का विषय का आधार …………………………………………………………………

.

…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………..
……………………………………………………………………………………………………………………………
…………………………………………………………………………………………………………………………….
…………………………………………………………………………………………………………………………….
……………………………………………………………………………………………………………………………..
11. सुनवाई के दौरान व्यक्तिगत उपस्थिति चाहते हैं या नहीं ……………………………………………..
12. संलग्न: आरटीआई आवेदन की आवेदन, शुल्क के रसीद, भेजने के प्रमाण, केंद्रीय/राज्य सूचना अधिकारी
के निर्णय की आदि की फोटोकॉपी संलग्न।
अनुलग्नक की सूचि-
1.
2.
3.
4.
5.
13. घोषणा 
मैं एतद द्वारा घोषणा करता/करती हूं कि मेरे द्वारा दी गई उपरोक्त जानकारी और विवरण मेरे ज्ञान और जानकारी के
अनुसार सही है। मैं यह भी घोषणा करता/करती हूं कि यह मामला सूचना आयोग में दर्ज है और न ही किसी न्यायालय
अधिकरण या प्राधिकरण के समझ लंबित ही है।
स्थान………………..
दिनांक………………..
Share this

हमारे अभियान को जारी रखने में मदद करने के लिए डोनेट बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

17 thoughts on “RTI Act First Appeal Format in Hindi | आरटीआई प्रथम अपील का हिंदी प्रारूप”

  1. हमारे ब्लॉग पर आपका स्वागत है. उम्मीद करूँगा कि हमारे पोस्ट पर इसी तरह अपना कमेन्ट देकर हौसला अफजाई करेंगे और अपने साथियों तक शेयर करेंगे.

    Reply
  2. अगर मुझे प्रथम अपीलिओ अधिकारी का पद और कार्यालय का सम्बन्ध मे पता ना हो तो मैं प्रथम अपीलिओ अधिकारी लिख कर उसी कार्यालय मे पत्र भेज सकता हूँ ?

    Reply
  3. अगर हम आवेदन खुद अपने हाथ से दे तो उसमे भी फीस जामा करनी होगी क्या अगर हा तो कैसे जामा करे

    Reply
    • हाँ १० रुपया तो देना होगा मगर उसका रसीद लेना न भूलें। अगर आप पोस्टल आर्डर दें रहे तो भी एप्लीकेशन की रिसीविंग जरूर लें

      Reply
    • यह फ्री है मगर आपने सुचना मांगते समय जो पोस्टल आर्डर दिया था और एप्लीकेशन भेजा था. उसका प्रूफ देना होगा

      Reply
  4. शानदार। बहुत ही बेहतरीन तरीके से आवेदन का एक मजबूत आवेदन का फॉर्मैट संपूर्ण विवरण के साथ उपलब्ध कराया है आपने। एक विषम मामले में आरटीआई मुझे भी फाइल करनी है। मुझे बस प्रथम और द्वितीय अपील की PDF प्रदान करे।

    Reply
    • धन्यबाद, यह प्रथम अपील का ही फॉर्मेट है और जल्द ही द्वितीय अपील का फॉर्मेट भी उपलोड किया जायेगा।

      Reply
  5. श्रीमान जी
    मैंने दिल्ली मैं M.C D. मैं RTI डाली थी जो की ३० दिन हो गए कोई जबाब नहीं आया
    अब मैं प्रथम अपील करूँगा तो प्रथम अपील किसको भेजना है

    Reply
    • अगर आपको प्रथम अपीलीय पदाधिकारी का नाम नहीं मालूम है तो आप केवल प्रथम अपीलीय पदाधिकारी, एमसीडी और उसी ऑफिस का पता लिखकर भेजिए

      Reply
  6. सर नमस्कार, मै एक सरकारी जेईन हू और मेरे से उपर के अधिकारी ने किसी विशेष कारण वश मात्र 2 घण्टे लेट हो जाने के कारण मेरे रेजिस्टर में क्रॉस लगा दिया है और जुलाई में लगने वाले इंक्रीमेंट को रोक दिया है जबकि मेरे द्वारा उक्त अधिकारी को हॉफ CL की अप्लिकेशन दे दी थी जिसको स्वीकृत करने के बजाय उन्होंने मुझे कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है।इसी तनाव और अवसाद के कारण में 1 महीने से घर भी नहीं जा पा रहा हूँ जबकि वो खुद और उनके चहेते कर्मचारी प्रतिदिन 10:30, 11, 12, 1, 2 बजे तक भी ऑफिस में आते रहते हैं जबकि उनका भी समय सुबह 8 बजे का ही है। पहले भी एक कर्मचारी का इंक्रीमेंट इसी तरह रोका हुआ था जिसको मेरे क्रॉस लगाने के बाद ठीक किया गया ताकि वो मेरे पक्ष में न बोले।

    मै क्या सूचना माँगू कि ये मानसिक रूप से परेशान करना बंद कर दे।

    Reply
    • आपको अपने वरीय अधिकारी को इस संबंध में लिखना चाहिए। अगर आप किसी कारणवश 2 घंटे लेट होते हैं और विभाग के नियम के अनुसार आपके वेतन में कटौती की जा सकती है मगर आपको बिना कारण बताओ नोटिस, चार्जशीट आदि के बिना सैलरी वृद्धि में रोक लगाना गलत है.

      Reply
  7. प्रथम अपील आवेदन हस्तांतरित हो सकता है या नहीं कोई रूल ही तो बताए

    Reply
    • आपने अपना पूरा सवाल लिखा ही नहीं है और जहां तक मैं समझ पाया कि यदि आपने गलत विभाग में भेज दिया है तो वो खुद ही अपने सही विभाग में भेजकर आपको सूचित करेंगे।

      Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!