ESIC benefits under covid-19 कर्मचारी को सुविधा व अन्य लाभ मिलेगा, जानिए कैसे

अभी देश में कोविड महामारी को लेकर एक बार फिर से हड़कंप मचा है। जिसमें अलग-अलग राज्यों में सरकारों के द्वारा कहीं लॉकडाउन तो कहीं नाईट कर्फ्यू आदि किया जा रहा है। जिससे कंपनी फैक्ट्री आदि आंशिक/पूर्ण रूप से बंद कर दिए गए हैं। केंद्र सरकार के श्रम मंत्रालय द्वारा ईएसआईसी कार्डधारकों को कोविद से राहत (ESIC benefits under covid-19) दे रही है। आइये जानते हैं कि इससे किसको और क्या-क्या लाभ मिलेगा?

ESIC Benefits under covid-19

ईएसआईसी एक्ट के तहत बीमाकृत व्यक्तिओं और उनके आश्रितजनों को बहुत से बेनिफिट मिलता हैं। जिसमें मुफ्त चिकित्सा, मेटरनिटी बेनिफ्ट्स, पेंशन आदि प्रमुख हैं। अभी कोविड महामारी का सबसे ज्यादा असर मजदुर/कर्मचारियों पर पड़ा है। यही नहीं बल्कि कोविड के वजह से लॉकडाउन ने बहुतों की नौकरी तक छीन ली है। इस दौरन सरकार के द्वारा ESIC बीमाकृत को कुछ राहत देने का फैसला लिया गया है।

कोरोना काल में कर्मचारी को सुविधा व अन्य लाभ

केंद्र सरकार द्वारा कोविड-19 महामारी के दौरान बीमाकृत व्यक्तियों के लिए चिकित्सा बेनिफिट्स (Medical Benefits) के तहत अन्य बेनिफ्ट्स दी जा रही है। जिसका आप अपने आवश्यकतानुसार लाभ उठा सकते हैं। यहाँ हम ESIC benefits under covid-19 क्रमवार जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं। जो कि निम्न प्रकार से है-

  • कोविड-19 से संक्रमित होने पर बीमाकृत व्यक्ति/उनके परिवार के सदस्य कोविड-19 समर्पित घोषित क.रा.बी. निगम/क.रा.बी. योजना अस्पताल में निःशुल्क चिकित्सा देखरेख की सुविधा प्राप्त कर सकते है।
  • बीमाकृत व्यक्ति/परिवार का सदस्य बिना किसी Referral Letter  के ESIC  के साथ टाइ-अप प्राइवेट अस्पतालों से सीधे चिकित्सा का लाभ ले सकता है।
  • बीमाकृत व्यक्ति/उनके परिवार का कोई सदस्य कोविड-19 से संक्रमित होने पर किसी भी Private Hospital में उपचार लेता है तो वह व्यय की प्रतिपूर्ति का दवा कर सकता है।

कोरोना काल में नौकरी से निकाले जाने पर |ESI Benefits for covid patients

बीमाकृत कर्मचारियों के लिए ईएसआईसी के द्वारा कोरोना काल में चिकित्सा लाभ के आलावा नकद हितलाभ प्रदान करने का फैसला लिया है। जिसमें आपको मेडिकल छुट्टी से लेकर बेरोजगारी भत्ता तक दिया जायेगा। जो कि निम्न प्रकार से है-

  • अगर कोई बीमाकृत व्यक्ति कोविड-19 से संक्रमित होता है. जिसके कारण वह अपने कार्य से अनुपस्थित होता है। ऐसी स्थिति में वह अपनी पात्रता के अनुसार कार्य से अनुपस्थिति के दौरान बीमारी हितलाभ का दावा कर सकता है।
  • किसी भी बीमाकृत कर्मचारी को Medical Benefits उसके औसत दैनिक मजदूरी के 70% की दर पर 91 दिन के लिए दिया जाता है।
  • अगर कोई भी बीमाकृत मजदूर/कर्मचारी बेरोजगार हो जाता है. ऐसे में वह अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना (एबीवीकेवाई) यानी बेरोजगारी भत्ता के लिए दावा कर सकता है। जो कि उनके वेतन का 50% फीसदी तक 90 दिन तक दिया जाता है. जिसके लिए वो ऑनलाइन दावा www.esic.in पर कर सकता है।
  • अगर कोई बीमाकृत मजदूर/कर्मचारी आईडी एक्ट, 1947 के अनुरूप छंटनी या फैक्ट्री/स्थापना बंद होने से बेरोजगार हो जाता है। ऐसी में वह पात्रता के शर्ताधीन आरजीएसकेवाई के अंतर्गत 2 वर्ष तक के लिए बेरोजगारी भत्ते का दावा कर सकता है।
  • किसी बीमाकृत व्यक्ति की मृत्यु की स्थिति में उनके परिवार के जीवित सदस्य को ईएसआईसी के द्वारा अंत्येष्टि व्यय के रूप में ₹15000/- का भुगतान किया जाता है।

ESIC benefits under covid-19 कर्मचारी को सुविधा व अन्य लाभ मिलेगा, जानिए कैसे

ESIC benefits under covid-19 लेने के लिए ध्यान देने योग्य बातें

आप (बीमाकृत मजदूर/कर्मचारी/परिवार के सदस्य) हैं और कोविड-19 संक्रमण होने पर प्राइवेट अस्पताल में ईलाज करवा रहे हैं। ऐसे में आप अपने पक्के बिल की कॉपी संभाल कर रखें। जो कि आपके द्वारा डिस्पेंसरी में व्यय राशि के दावे में काम आएगा।

अगर आपको नौकरी से निकाला गया हो। ऐसे में आप अगर अपने गैर-क़ानूनी टर्मिनेशन को सम्बंधित लेबर कोर्ट में चुनौती देने का सोच रहे हैं। तो आपसे बेरोजगारी भत्ते का दावा नहीं करें। ऐसे इसलिए कह रहा क्योंकि आप जब लेबर कोर्ट में नौकरी की बर्खास्तगी को चुनौती देते हैं तो उसमें आप फूल बैंक वेजेज का मांग करते हैं।

यह भी पढ़ें-

Share this

यदि आपके पास वर्कर से सम्बंधित हिंदी में कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे तुरंत ही email करें – [email protected]

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें .

2 thoughts on “ESIC benefits under covid-19 कर्मचारी को सुविधा व अन्य लाभ मिलेगा, जानिए कैसे”

    • जी, आप इस बारे में क्या जानकारी चाहते हैं?

      Reply

Leave a Comment