Lockdown me salary milegi ya nahi केंद्र सरकार ने 2021 में क्या आदेश दिया?

पिछले साल की तरह इस साल 2021 में भी कोरोना वायरस को फ़ैलाने से रोकने के लिए लॉकडाउन किया गया है। पिछली बार यह घोषणा केंद्र सरकार ने की थी मगर इस बार 2021 में परिस्थिति के अनुसार राज्य सरकार को यह जिम्मेदारी दी गई। लॉकडाउन का सबसे ज्यादा असर कंपनी फैक्ट्री के बंद होने से मजदूर कर्मचारियों के ऊपर पड़ता है। उसको देखते हुए आप जानना चाहते हैं कि 2021 में Lockdown me salary milegi ya nahi? अभी हाल ही में केंद्र सरकार ने कॉन्ट्रैक्ट/ आउटसोर्स कर्मचारियों के लॉकडाउन में सैलरी भुगतान (Salary during lockdown 2021) को लेकर नोटिफिकेशन जारी किया है। आइये जानते हैं, इसका लाभ किसको और कब से कब तक मिलेगा?

Lockdown me salary milegi ya nahi

आपको याद होगा कि पिछले वर्ष कोरोना काल में केंद्र सरकार ने सभी मजदूरों प्राइवेट कमचारियों को लॉकडाउन में पूरी सैलरी भुगतान के लिए 29 मार्च 2020 को नोटिफिकेशन जारी किया था। जिसको बाद में मालिकों के द्वारा सुप्रीम कोर्ट में “Lockdown me salary” चुनौती दी गई थी। मगर फिर भी माननीय सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में दोनों पक्षों को सुनने के बाद लॉकडाउन के समय की सैलरी आपसी सहमति से देने का निर्णय सुनाया था। जिसकी एक-एक और सही-सही जानकारी हमने अपने ब्लॉग और यूट्यूब चैनल के माध्यम से दी थी।

यही नहीं बल्कि हमने आपको यह भी बताया था कि आपको अगर लॉकडाउन में सैलरी नहीं दी गई है तो सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद कैसे मांग करें? जिससे आपमें से काफी कर्मचारी साथियों ने लाभ उठाया। अब जब 2021 में दुबारा से लॉकडाउन किया गया है। ऐसे में आप जानना चाहते है कि क्या इस बार भी पिछली बार की तरह लॉकडाउन में पूरी सैलरी देने का आदेश हुआ है?  आज हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे हैं।

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियों का संग्रह - हिंदी चौक डॉट कॉम

Salary during lockdown 2021

केंद्र सरकार ने 08 जून 2021 को एक नोटिफिकेशन जारी कर कॉन्ट्रैक्चुअल, कैजुअल और आउटसोर्स कर्मचारियों को लॉकडाउन में पूरी सैलरी देने का आदेश दिया है। जो कि केंद्र सरकार के अंतर्गत सभी विभागों और मंत्रालय में काम करने वाले कॉन्ट्रैक्चुअल, कैजुअल और आउटसोर्स कर्मचारियों पर लागू होगा। इसके अनुसार कोविड-19 की दूसरी लहर अप्रैल मध्य से शुरु होकर अब तक जारी है। जिससे देश में बड़ी संख्या में लोग प्रभावित हुए हैं।

lockdown me salary milegi ki nahi?

पिछले साल के देशव्यापी लॉकडाउन से इस साल का लॉकडाउन देश भर में अलग-अलग रहा है। जो कि दूसरी लहर की गंभीरता के अनुसार निर्भर है। ऐसी Lockdown की स्थिति में कई कॉन्ट्रैक्चुअल, कैजुअल और आउटसोर्स कर्मचारियों जैसे हाउसकीपिंग स्टाफ आदि को मजबूरन घर पर रहना पड़ा है। ऐसे में समान्य परिस्थिति में उनके सैलरी में कटौती हो सकती थी।

ऐसी स्थिति में इस नोटिफिकेशन के द्वारा ऐसे कर्मचारियों के लिए राहत दिया गया है। अगर इस परिस्थिति में कर्मचारी लॉकडाउन के दौरान घर में रहता और ऑफिस में उपस्थित नहीं हो पाता तब भी उसको 1 अप्रैल 2021 से 30 जून 2021 तक “ऑनड्यूटी” माना जायेगा। जिसके बाद उसको उसी के अनुसार उसके वेतन आदि का भुगतान किया जायेगा। यह भारत सरकार के अंतर्गत कॉन्ट्रैक्चुअल, कैजुअल और आउटसोर्स कर्मचारियों के ऊपर लागू होगा। मगर यह अलग-अलग राज्यों के द्वारा जारी लॉकडाउन के आदेशों के अनुसार अलग-अलग होगा।

Lockdown me salary milegi ya nahi केंद्र सरकार ने 2021 में क्या आदेश दिया?

lockdown me salary na mile to?

अब अगर आपको लॉकडाउन में सैलरी नहीं दी गई है या सैलरी में कटौती की गई है। ऐसे में आप इस सर्कुलर के अनुसार अपने विभाग से मांग कर सकते हैं। अगर आपके लिखित शिकायत के बाद विभाग द्वारा 15 से 20 दिन में सुनवाई न हो तो अपने एरिया के रीजिनल लेबर कमिश्नर (सेंट्रल) को लिखित शिकायत कर सकते हैं। यह आदेश केवल सेंट्रल गवर्नमेंट के अंतर्गत विभाग/मंत्रालय में काम करने वाले कॉन्ट्रैक्चुअल, कैजुअल और आउटसोर्स कर्मचारियों के लिए है।

Payment during lockdown 2021

यह भी पढ़ें-

Share this

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए (यहाँ Click) करें.

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

Leave a Comment