पटोरी के लोगों ने हिंदुस्तान और दैनिक जागरण अखबार का कॉपी जलाया, जानिए क्यों?

बिहार: कल समस्तीपुर जिले के पटोरी के लोगों ने हिंदुस्तान और दैनिक जागरण अखबार का कॉपी जलाया गया है। जो कि सहारा इंडिया के नाम पर चल रहे फर्जीवाड़े की खबर न छापने से छुब्ध होकर किया गया है। जबकि पत्रकारिता का असली मकसद आम आवाम की आवाज सरकार तक पहुंचना और उनको सच्चाई से रूबरू करना होना चाहिए। जबकि यहाँ उलटा हुआ है और जिसका विरोध होना शुरू हो गया है।

पटोरी के लोगों ने हिंदुस्तान और दैनिक जागरण अखबार

पिछले तक़रीबन डेढ़ हप्ते से पटोरी में सहारा इंडिया के फर्जीवाड़े का मुद्दा जोरो से उठ रहा है। जिसको हम न केवल अपने वर्कर वॉयस डॉट इन से उठा रहें बल्कि कई स्थानीय अखबारों के साथ यूट्यूब चैनल कर न्यूज पोर्टल का भी साथ मिल रहा है। जिसके माध्यम से यह मुद्दा देश विदेशों तक भी पहुंच रहा है। जबकि नेशनल अख़बार जिसमें हिंदुस्तान और दैनिक जागरण के द्वारा पहले तो कई खबर ही नहीं छापी गई और जब छपी तो कहीं भी “सहारा इंडिया” का नाम ही नहीं लिखा। जिसका असली मकसद लोगों को दिग्भर्मित करना था।

पटोरी पुलिस द्वारा 11 दिन बीत जाने के बाद भी FIR दर्ज नहीं किया

विभिन्न मिडिया रिपोर्ट के अनुसार सहारा इंडिया के द्वारा देश के आम के लोगों का तक़रीबन 50 हजार करोड़ का चूना लगाया गया है। जिस मामले की जांच एसएफआईओ के द्वारा किया जा रहा था। जिस पर दिल्ली हाईकोर्ट के द्वारा रोक लगा दिया गया है। जिस रोक को हटाने के लिए एसएफआईओ ने माननीय सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

हमने माननीय सुप्रीम कोर्ट से लेकर केंद्र/ बिहार सरकार समेत सभी अधिकारी/पदाधिकारियों को पब्लिक पेटिशन भेजा है ताकि आमजन को न्याय मिल सके। अब देखना है कि इस पर कब तक कार्रवाई की जाती है। हालंकि पटोरी पुलिस द्वारा सहारा इंडिया के फर्जीवाड़े पर 11 दिन बीत जाने के बाद भी एफआईआर दर्ज नहीं किया गया है। यही नहीं बल्कि सहारा इंडिया के नाम पर फर्जीवाड़े की खबर भी उक्त अख़बारों के द्वारा नहीं लिखी जा रही है। जिससे क्षेत्र के लोगों में धीरे-धीरे कानाफूसी शुरू हो गई है।

अख़बार को जला कर विरोध प्रदर्शन किया

कल दिनांक 24.02.2022 को शाम 5ः30 में पटोरी स्टेशन चौक पर हिन्दुस्तान और दैनिक जागरण समाचार पत्र का बहिस्कार करने का आह्वान किया गया। जिसके बाद उक्त अख़बार को जला कर विरोध प्रदर्शन किया गया। जिसमें मौके पर सुरजीत श्यामल, अनुरूध कुमार उर्फ देवानन्द, अरूण भाई चस्का, राम मोहन राय (पूर्व विधान सभा उम्मीदवार), दीपक कुमार, पवन कुमार सिंह और बहुत सारे युवा, ग्रामीण साथियों ने भाग लिया।

पटोरी के लोगों ने हिंदुस्तान और दैनिक जागरण अखबार का कॉपी जलाया, जानिए क्यों?

विरोध सभा को संबोधित करते हुए राम मोहन राय ने कहा कि मिडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ कहा जाता है। जबकि अब हिन्दुस्तान और दैनिक जागरण समाचार पत्र आवाम की आवाज नही बल्कि सरकारी तंत्र का दलाल बन चुकी है। इसलिए सभी साथियों व् क्षेत्र के तमाम लोगों से अपील है आज से ही हिन्दुस्तान और दैनिक जागरण समाचार पत्र न खरीदे। जिसका प्रचार-प्रसार शोसल मिडिया से व्यापक असर देखने को मिल रहा है।

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियां, लेख और प्रेरणादायक विचार के लिए विजिट करें - HindiChowk.Com

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

Leave a Comment

error: Content is protected !!