Job se nikal diya to kya karen | यदि कंपनी नौकरी से निकाल दे तो क्या करें?

अगर आप किसी कंपनी, फैक्ट्री, दूकान या सरकारी विभाग में ही क्यों न Job करते हों. यह आपके और आपके परिवार के भरण-पोषण का सहारा होता है. Company हमें काम करने के बदले ही Salary देती है. मगर काफी मेहनत से काम करने के वावजूद यदि आपको एक दिन नौकरी से निकाल दिया जाता हैं. जिसके बाद आपका सवाल होता हैं कंपनी ने नौकरी से निकाल दिया क्या करूँ (Job se nikal diya to kya Karen). आज हम इसके बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं.

Job se nikal diya to kya karen | यदि कंपनी नौकरी से निकाल दे तो क्या करें?

ऐसे तो देश में ज्यादातर युवा Government Job की चाह रखते हैं. मगर जब उनको सरकारी नौकरी नहीं मिल पाती तो प्राइवेट नौकरी ज्वाइन कर लेते हैं. Job Security और सैलरी की गारंटी ही सरकारी नौकरी के तरह आकर्षण का कारण हैं. आजकल हमारी कम जानकारी का लाभ उठाकर प्राइवेट कंपनी काम करवा कर पैसे नहीं देती और कह देती की कल से मत आना. ऐसे तो कहे तो यह गैरकानूनी हैं. हम आपको इसी स्थिति यानि “Job se nikal diya to kya karen | कंपनी ने नौकरी से निकाल दिया क्या करूँ” की जानकारी देने जा रहे हैं.

Job se termination kar diya | कंपनी ने नौकरी से निकाल दिया क्या करूँ?

आप अपने कंपनी में भले ही कितना भी मेहनत से क्यों न काम कर लें. आपका बॉस आपको Job से निकालने का भय दिखाकर शोषण करता ही हैं. इसका असल कारण आपको आपके अधिकार का पता नहीं होना है. इसके साथ ही परिवारिक जिम्मेवारी भी आपको चुपचाप शोषण सहने पर विवश कर देती है. इस वजह से भले ही आप Naukri se pareshan रहते हों मगर फिर एक दिन सुनना पड़े कि आपको job se termination kar diya तो बहुत बुरा लगता हैं. यही नहीं बल्कि उसके बाद आपका दिमाग सुन्न हो जाता हैं और मन में एक ही बात घुमता हैं कि नौकरी नहीं रही तो परिवार का पालन-पोषण कैसे किया जाएगा?

Naukari se nikalne ka karan |Termination rules for employees in india

आपको नौकरी से निकालने की कोई भी वजह हो सकती है. जैसे कि कंपनी का बंद हो जाना, कम्पनी के Production में कमी, मंदी की वजह से Cost Cutting करना, आपके गलत व्यवहार के कारण नौकरी से निकाले जाना, कंपनी की Policy में Change होना या Boss की मनमानी के बाद भी कभी-कभी आपको नौकरी से हाथ धोना पड़ता है. इसमें से मामले कुछ भी हो, मगर कंपनी को किसी को भी लेबर कानून के तहत ही किसी को निकला जा सकता हैं.

Job se termination kar diya in hindi

अभी तक हमारे देश India में ‘Hire & Fire‘ नीति नहीं है, इसलिए India में बिना किसी सूचना के Job Termination नहीं किया जा सकता है. इसके लिए भी कुछ Termination Rules निर्धारित है. इसके बारे में हमारे पूर्व के आर्टिकल को पढ़ें- Termination Rules | Job Termination के समय Employee को कितना Payment मिलेगा?

नौकरी से निकाला जाए तो निराश नहीं हो

आपको कभी भी नौकरी से निकाला जाए तो निराश नहीं हो. अगर आपके मन में बुरे ख्याल आए तो सबसे पहले अपने परिवार के बारे में सोचे. यह किसी भी आदमी के जीवन का बहुत ही दुखदायी पल होता हैं. मैंने खुद इसको झेला है और आपके सामने सही सलामत हूँ. जिसमें आपके साथ काम करने वाला साथी आपसे बात करना बंद कर देता है. आपके आपके सगे-संबंधी आपसे दूर हो जाते हैं. मगर आपको ऐसी परिस्थिति में ही धीरज रखना है.

आज जब भी नौकरी Join करें तो अपने मन में भारत के पूर्व राष्ट्रपति व् मिसाइल मैन स्वर्गीय ए.पी.जे. अब्दुल कलाम साहब की बात गांठ बांध लें तो इसके बाद आपको कम तकलीफ होगी. उन्होंने कहा था कि  “आप अपने जॉब से प्यार करें, अपनी कम्पनी से नहीं, क्योकि आप नहीं जानते की कब आपकी कम्पनी आपको प्यार करना बंद कर दें”.

खैर, अब आते हैं कि ऐसे परिस्थिति में हम क्या कर सकते हैं? ऐसी परिस्थिति में आपके सामने दो रास्ते होते हैं, पहला फिर से नई शुरुआत करना और दूसरा अपने गैर-क़ानूनी टर्मिनेशन को चुनौती देना. आप अपने परिस्थिति के अनुसार अपना राह चुन सकते हैं. अगर आप अपने प्राइवेट या सरकारी कंपनी के परमानेंट वर्कर हैं या आपका बकाया हैं तो आपको मेरे समझ से कंपनी से अपना हक़ के लिए लड़ना चाहिए.

अगर आपने अपने कंपनी से क़ानूनी लड़ाई लड़ने का विचार कर लिया हैं तो अब आपको देखना होगा कि आप वर्कमैन की परिभाषा में आते है नन वर्कमैन की. अब आप पूछेंगे कि यह क्या होता हैं? आपको इसी के आधार पर क़ानूनी करवाई करनी होगी.

Jab naukri chali jaye to kya kare | जब नौकरी चली जाए तब क्या करें?

भारत में Employees को आम तौर पर ‘Workman’ या Non-Workman के रूप में वर्गीकृत किया जाता है. ‘Workman’ शब्द को Industrial Dispute Act 1947 (“ID Act”) के तहत परिभाषित किया गया है, और इसके साथ ही किसी भी Industry में नियोजित सभी व्यक्तियों को Workman हैं मगर वो इस Category में नहीं आयेंगे जिनकी भूमिका Managerial, Administrative या Supervisory की हैं.

ऐसे आजकल कंपनी वाले हर Post में Executive लगा देते हैं जैसे Executive, Senior Executive, Field Executive, Customer Care Executive etc. अक्सर इन सभी का काम Workman का होता है मगर नाम से ऐसा प्रतीति होता है कि ये Managerial or Administrative Post पर हैं. इसलिए आप अपने Worker का Nature देखें कि क्या आपको Managerial or Administrative Post की पावर मिली हुई हैं. अगर नहीं तो आप वर्कमैन में ही आयेंगे.

अगर आपको Supervisor भी बन रखा और आपके कोई Workman/Employee नहीं करता या किसी भी वर्कर को So-Cause या Charge Sheet देने का Power नहीं तो आप Workman Category में ही आयेंगे. इसका संबधं अधिक Salary से भी नहीं होता है. जैसे Plan का पायलट भी Workman Category में आता हैं.

अब अगर आपको यह पता चल गया कि आप वर्कमैन कैटेगरी में आते हैं तो आपको यह पता करना होगा कि आप किस सरकार के अंडर आते हैं, State Government या Central Government? अब मान लीजिये कि आप दिल्ली में किसी प्राइवेट दूकान, फैक्ट्री, होटल, सिनेमाघर आदि या दिल्ली सरकार के किसी विभाग के अधीन रेगुलर/कॉन्ट्रैक्ट आदि पर काम करते हैं तो आप दिल्ली सरकार यानि स्टेट गोवेर्मेंट के अंडर आयेंगे. इसके आलावा अगर आप रेलवे, पोस्ट ऑफिस, मेट्रो, एयरपोर्ट, नेशनलाइज बैंक आदि में रेगुलर/टेम्परोरी वर्कर के रूप में काम करते हैं तो आप सेन्ट्रल गवर्नमेंट के अंडर आयेंगे.

अब इसके बाद आपको अपने सम्बंधित सरकार के यानि स्टेट वाले State Government के लेबर कमिशर और सेन्ट्रल वाले Central Government के रीजनल लेबर कमिश्नर (सेन्ट्रल) के ऑफिस में लिखित शिकायत करेंगे. आप लेबर कमिशर ऑफिस में शिकायत पत्र कैसे लिखेंगे या लिखते समय क्या-क्या मेंशन करेंगे। इसके बारे में जानने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल को पढ़ें-Job Termination पर Labour Department में Complaint कैसे लिखें.

आपके शिकायत करने के बाद संबधित लेबर कमिशर आपके कम्पनी प्रबंधन को नोटिस देकर बुलाता हैं. इसका पूरा प्रोसेस आपने हमारे पूर्व के आर्टिकल में पढ़ लिया होगा. अब अगर ऐसे में आपका आपकी कंपनी के साथ समझौता हो पता तो क्या होगा? इसके बारे में पूरी जानकारी हमारे इस आर्टिकल में मिल जायेगी –Labour Court में Reference का Process क्या है, जब Settlement Fail हो जाए.

दोस्त, उम्म्मीद हैं कि आपने उपरोक्त एक-एक पोस्ट को ध्यान से पढ़ा होगा. आप हमारे इस पोस्ट की सहायता से बिना किसी से पूछे अपने कम्पनी को लेबर कोर्ट तक ले जा सकते है. जहाँ से हमें पूरी उम्मीद हैं आपको न्याय मिल पायेगा. आपको हमारा यह पोस्ट कैसा लगा कमेंट में लिखकर जरूर बताइयेगा. इसके साथ ही इस पोस्ट में लिखी जानकारी की हर कर्मचारी को जरुरत होती हैं. इसलिए कम से कम अपने हर कॉन्ट्रक्ट नंबर पर Send करें.

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email करें – [email protected].com

WorkerVoice.in को सुचारु रूप से चलाने के लिए नीचे Pay बटन पर क्लिक कर आर्थिक मदद करें-

40 thoughts on “Job se nikal diya to kya karen | यदि कंपनी नौकरी से निकाल दे तो क्या करें?”

  1. Hello sir namaste. App Jo bolte hai WO to thik hai . humko bhi kuch din pahle job se nikal diye without any letter or without any notice period and without my back salary was given to me. I have followed your instruction. But labour commission department wale mera letter nehi receive kar raha hai . mai speed post se bhi beja lekin uska koi action nehi ho raha. WO lok bol raha hai pay case karne k liye. Ab boliye kaya karu ma. Thanks.

    Reply
    • ऐसा हो ही नहीं सकता. आप पूरा पोस्ट को ध्यान से पढ़िए और सम्बंधित लेबर कमिशर ऑफिस में ही शिकायत लगाए. स्पीड पोस्ट से कितना दिन पहले भेजा आपने यह तो बताया ही नहीं. आप कम से काम 15-20 दिन का इन्तजार करें.

      Reply
      • यह आपको फैसला लेना होगा. ऊपर जानकारी दी हुई है.

        Reply
    • Mera naam shamstabrez hai mujhe bina baat ka company se Nikal diya hai main 2 month naam kiya phir bhi nikal diya aur hr ke pass Jake bol raha hoon tu phir bhi action enquiry nahi ho raha hai hr aur sab bol raha hai dusra company dekh lo ye company main maat aana sirf mujhe aisa kiya main accha se kaam kiya phir bhi

      Reply
      • हमारे इस पोस्ट में पूरी जानकरी दी गई हैं

        Reply
  2. सर 25 मार्च से लेकर अभी 6 जुलाई तक हमारा ऑफिस बंद है और खुलेगा या नही ये भी नही बता रहे और हमारा बॉस अपने गांव बिना हमको बताये चला गया है आप बताये हम क्या करे।

    (मेने आपका 50 दिन सैलरी देने वाला video भी देख लिया है पर आप पहले ☝इसके बारे में बता दे तोह अच्छा होगा मेरे लिए)

    Reply
    • हमने केंद्र सरकार के आदेश के अनुसार पहले भी बताया और अब सुप्रीम कोर्ट के आर्डर के बाद मांगने का तरीके बदल गया हैं. अब आपको इसी तरीके से मांगना होगा। आप उसके पता पर भेजिए.

      Reply
  3. सर मैं एक प्राइवेट कंपनी में कार्यरत हु मुझे आपसे कुछ जरूरी tips चाहिए मेरा नं what’s app bhi kardijiye its too urgent please contact me

    Reply
    • कृपया आगे से कमेंट में मोबाइल नंबर न लिखा करें. हम किसी को कॉल नहीं करते. आपका जो भी सवाल हैं पहले हमारे ब्लॉग पर खोजे और न मिले तो कमेंट करके बताये.

      Reply
  4. Sir mera name shanu kumar hai mai ek private ltd compny me supervisor hun abhi june 2020
    Me compny se phone aya tha wo bol rahe hai ki compny ki arthik sthit theek nahi hai is liye chhatni ki gayee hai compny aaker risine do aker sir bataye kya karen jabki 50% worker aa rahe hain. Compny nikal rahi hai aur resine hmse likha rahe batye sir kya karen hm plzzz.

    Reply
  5. Sir me kotak bank me kaam karta tha. Mujhe 10 December 2019 ko nikal diya aur bola aap ka salary month end me aajayega. But mujhe salary nahi aaya. Phir me HR ke pass gaya unhone bola ki mera salary March 2020 me aayega. But mujhe salary nahi aaya. Mujhe unhone Recovery letter email ke through send kiya aur mujhe 1250 rupees bharne ke liye bol rahe he. Me kai baar HR ko mail kiya but mujhe vo bolte h ki aap ka termination 23 march 2020 ko hua h. Sir ab me kya karu. Please help me

    Reply
  6. Sir covid-19 ki vajah se companies employees ko Leave without pay kar rhi he. Employee kya Kare plz ek video banao.

    Sir company ne mujhe 6 month ke liye leave without pay (leave off) kar diya ( 1 may to 31 oct) lekin iski jankari Mujhe 3 July ko di gayi.
    5 may se 3 July tak mujhe ye bolkar confusion me rakha ki 2-5 din me bull lainge. Sir plz Batao me kya kar sakta hu

    Reply
    • लेबर कमिश्नर ऑफिस में शिकायत करें, बाकि डेटल हमारे इस पोस्ट में हैं.

      Reply
  7. Hi sir me Pune se hu me ek software company me House keeping ka kaam kar raha ta aaj se hi direct hamari team ko job se nikaal diya he ab ham kya kare. Sirf 5 staff ko duty pr raka he or baki sbhi ko job se nikaal diya he pls help me.

    Reply
  8. Sir ,

    मेरी कंपनी मुझपर रिजाइन डालने का दबाव बना रही है पर मेरे पास कोई दूसरी जॉब नहीं है तो मैंने नहीं किया रिजाइन अब वो मुझे शो कॉज नोटिस भेजे है और मेरे ऊपर झूठे चार्ज लगा दिया है आज्ञा का उल्लंघन , मिसकंडक्ट , डिस्ट्रस्ट , और मैंने उस पर उन्हें जवाब भी दे दिया है , अब आगे क्या कार्यवाही करू कृपया मार्गदर्शन करिये , वो मुझे टर्मिनेट कर सकते है अगर हाँ तो मुझे उनसे क्या क्या लेना होगा जिससे भविष्य में अगर किसी दूसरी कंपनी ज्वाइन karu to is termination ka prabhav मेरे करियर पर न पड़े ।

    Reply
    • अगर आपने संतोषजनक जवाब दिया है तो आपका कुछ नहीं होगा और अगर तब भी आपके ऊपर एक्शन लेते हैं तो आप लेबर कोर्ट जा सकते हैं

      Reply
  9. Sir mera termination illegal mujhe mail p milla h without notice period m ek third party payroll p work krta tha m nangloi delhi m rahta hu ab mujhe labour court ki madad chaiye h m kya kru kaha jaun smajh nhi aa rha kya koi online process h appication daalne ka agar h to pls share kriye sir

    Reply
  10. Sir complaint kaise kare Delhi me sabhi outsource companies job Dene se pehle blank paper pe sign Karwa leti hai majburi me sign bhi Karna padta hai aapko offer letter hi nhi milta.

    Reply
    • इसके खिलाफ आपको ही मना करना होगा. कहीं शिकायत करंगे तो वो मना कर देंगे.

      Reply
  11. My company (Pune, Maharashtra) issued termination letter in May 2020.
    I have accepted anything, and haven’t signed anything.
    I had made a complaint with Labor office. Complaint had got registered.
    But now labor officer is saying that we will send notice through civil court.
    Our company strength is 20 employee.

    Is it like labor officer do not want to deal with this, hence asking for civil court notice.
    OR is it better to go through civil court.
    Please guide.

    Reply
    • You did not mention your post. Read our posts carefully. If you are not a workman, then the Labor Commissioner Office will not take the complaint.

      Reply
  12. Dear sir, mere company me mere supervision k dauran ek labour ko nikal diya gaya to mai ek application lekar jabab dene k lie gaya to mujhe daant diya gaya aur mujh se ek shaade page par sign kara lia gaya naam aur pata likh kar aur kaha gaya ki tumhara increment nahi hoga . Joining k samya mujhe na to appointment letter ya joining letter mila.mai ek staff ka bahar ka banda hoon. HR local hai mujhe blackmail karta hai aur pareshaan karwata hai. Ye ghtna 11/09/20 ka hai. Mujhe kya karna chahiye mere paas ESI ka paper hai, salary account me jati hai , jis staff attendance list me naam hai usme sign kiya hua photo hai

    Reply
    • आप पढ़ें-लिखे हैं और सादे पेपर पर sign करने के दुष्परिणाम को जानते हैं फिर भी ऐसा करते हैं. आपको क्या ब्लैकमेल करता हैं बिना जाने कुछ भी बताना मुश्किल हैं. आप हमें Callme4 App से कॉल कर सकते हैं.

      Reply
  13. My post is “Finance Executive”. I do not have any managerial or superwisory role. My other colleagues do also have same position and we all report to our manager. nobody reports to me. This position is for name sake my earlier position was “Accounts and admin officer”. My earlier Job description continues as it is, only position label has changed.

    Reply
  14. Namaste sir. Humko bhi ek company ne terminate kar diya tha q ki humne us company ka against labour commissioner ko complain kia tha salary lockdown ma nehi de raha tha aur ghar se kam karwata tha. Terminate kia without letter or notice period. Humko humari salary bhi nehi di. To mane advocate se ek notice bheja us company ko lekin koi reply nehi aya hai. Uske baad mene labour commissioner ke pass likhit sikayat kia hai or receiving bhi le lia hai 10 din hua hai. Abhi mera sawal appse hai kya ma pf ka paisa full and final utha sakta hu?? Company wale end date nehi dala hai or humko end date dalna hoga. Lekin WO end date same nehi hoga. Q ki April 2020 ko end date hoga or humko terminate kia June 2020. Ma agar end date dusra dalta hu to kya baad ma problem ho Sakta hai court case ma??

    Reply
    • एक तरफ आप अपने टर्मिनेशन को चुनौती दे रहे तो दूसरी तरफ खुद को टर्मिनेट या रिजाइन घोषित करेंगे तभी आपको पीएफ का पैसा मिलेगा. दोनों में से एक ही काम करें.

      Reply
  15. M Britannia company K liya kaam karta hu but m campany m regular nhi hu 2year ho gya h kaam karte or Ab humara boss job chodne ki dhmki deta h Ab m kya karu
    Muje jhut bol kar lgaya tha ki tum ko payroll Kar dege next month
    Please help me

    Reply
    • आप अपने एरिया के लेबर कमिश्नर ऑफिस में लिखित शिकायत कर सकते हैं. इसके बारे में पूरी जानकारी हमारे इस पोस्ट में है.

      Reply
  16. Sir me medical representative hu
    Company ne meri working acahanak se stop kr di
    Sir plz bataiye mujhe kya Krna chahiye

    Reply
    • इसमें पूरी जानकारी दी गई है, अब आपको यह करना होगा.

      Reply
  17. Bhiya mene apni finance compny se 21 din kaam krke bina resign latter diye ghar aa gya or fir wapas nhi gya…. Fir mujhe 2 saal baat dusri comapny join krne prpta chala ki mujhe uss company ne terminate kr diya….mujhe samjh nhi aa rha ki 21 din kaam krne walein ko terminate krte hai ki nahi….or mujhe terminate latter or resign latter nhi diya …….btao mein kya kru bhai

    Reply
    • ऐसे में नौकरी छोड़ते समय नोटिस पीरियड पूरा करना होता है. आपको परेशानी क्या है? जब आपने नौकरी छोड़ दिया।

      Reply
  18. SIR MAIN FEB ME BIMAR THA COMPANY DOCTOR PRESCRIPTION NHI MAAN RHI THI MEDICAL LOXK DOWN HONE KI WAJAH, SE BAN NA SAKA BRANCH HEAD BILA RESIGN DAALO MAIND NHI DAALA HR SE TERMINATION A GAYA AB KYA KRU MAIN

    Reply

Leave a Comment