EPF interest rate 2021-22 दर की घोषणा, EPFO ने दिया कर्मचारियों को झटका

EPF News: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees Provident Fund Organization) के सीबीटी की मीटिंग का फैसला आ गया है। जिसमें फैसला ले लिया गया है कि EPF interest rate 2021-22 कितना मिलेगा? हालांकि हम इस बार पीएफ पर ब्याज दर बढ़ने की उम्मीद कर रहे थे, मगर EPFO ने 6 करोड़ कर्मचारियों को झटका दे दिया है। हालांकि वित् वर्ष 2020 -21 के लिए पीएफ सब्सक्राइबर्स को 8.5% की दर से ब्याज दिया गया था।

EPF interest rate 2021-22 कितना मिलेगा?

EPFO के द्वारा सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ ट्रस्टी (सीबीटी) की मीटिंग असम के गुवाहाटी में 11 और 12 मार्च 2022 को संपन्न हुई है। जिसमें कर्मचारियों के वित् वर्ष 2021-22 के लिए ब्याज राशि की दर तय की गई है। आपको बता दें कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ ट्रस्टी (सीबीटी) में त्रिपक्षीय कमेटी आपके ब्याज दर के लिए फैसला लेती है।

जो कि केंद्रीय श्रममंत्री की अध्यक्षता में मजदूरों के तरफ से ट्रेड यूनियन के प्रतिनिधि, मालिकों के तरफ से कॉर्पोरेट्स के प्रतिनिधि के आलावा श्रम मंत्रालय के साथ केंद्र व् राज्य सरकार के प्रतिनिधि शामिल होते हैं। जिनके द्वारा यह ब्याज राशि निर्धारित की गई है।

What is current PF interest rate?

हम सभी को उम्मीद थी कि कर्मचारियों के हित में पीएफ पेंशन को लेकर और ब्याज दर वित् वर्ष 2021-22 को लेकर अच्छी खबर आयेगी। मगर इस बार पीएफ ब्याज राशि 8.50% से घटा कर 8.10% कर दिया गया है। जिससे तक़रीबन 6 करोड़ पीएफ खाताधारकों को झटका लगेगा।

पीएफ का ब्याज कब मिलेगा?

अभी फिलहाल सीबीटी बोर्ड द्वारा पीएफ ब्याज दर 8.10 % का प्रस्ताव वित् मंत्रालय के पास भेज दिया गया है। जिसके बाद वित् मंत्रालय के मंजूरी मिलने के बाद फाइनली भारत सरकार का मुहर लगना बांकी है। जिसके बाद ही ईपीएफओ के द्वारा नोटिफिकेशन जारी किया जायेगा। तब जानकर आपके पीएफ खाते में पीएफ का ब्याज क्रेडिट होना शुरू होगा।

EPFO latest news in hindi 2022

सर्वश्रेष्ठ हिंदी कहानियां, लेख और प्रेरणादायक विचार के लिए विजिट करें - HindiChowk.Com

आपको बता दें कि यह ब्याज दर पिछले करीब 40 साल में सबसे कम है। पहले 1977-78 में EPFO ने 8% का ब्याज दिया था। जिसके बाद वित् वर्ष 2021-22 के लिए 8.10% की दर का फैसला लिया गया है। जबकि पिछले दो वित् वर्ष (2019-20 और 2020-21) से ब्याज दर 8.50% दिया जा रहा है। जबकि इस बार उम्मीद थी कि पीएफ ब्याज दर बढ़ाया जायेगा।

केंद्रीय श्रममंत्री श्री भूपेंद्र यादव ने कहा कि पीएफ ब्याज दर 8.10 फीसदी की घोषणा करते हुए ख़ुशी महसूस हो रही है। उनके अनुसार एफडी, पीपीएफ व् अन्य बचत योजनाओं से ज्यादा ब्याज पीएफ पर 8.10% दिया गया है।

EPF interest rate 2021-22 दर की घोषणा, EPFO ने दिया कर्मचारियों को झटका

जबकि कांग्रेस नेता और पूर्व श्रममंत्री श्री मल्लिकार्जुन खड़गे ने पीएफ ब्याज दर संसोधन के बारे में ट्वीट कर कहा, “EPFO ने ब्याज दरों को घटाकर 8.1% कर दिया है, जो कि 40 सालों में सबसे कम है।” हम तो इस ब्याज दर से खुश नहीं हैं और आप अपनी राय कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बतायें।

यह भी पढ़ें-

Share this

आपके पास वर्कर से सम्बंधित कोई जानकारी, लेख या प्रेरणादायक संघर्ष की कहानी है जो आप हम सभी के साथ share करना चाहते हैं तो हमें Email – [email protected] करें.

Leave a Comment

error: Content is protected !!